Breaking News
Home / देश / आत्ममंथन

आत्ममंथन

आत्ममंथन

बड़ा अजीबोगरीब हमारा देश हिंदुस्तान है जहां लोग धान की आड़ में पांच लोगों को एक वक्त की रोटी दान करके 50 लोगों को फोटो खिंचवा कर अपना चेहरा समाज के सामने एक दानी के रूप में स्थापित करना चाहते हैं और उन बेबस गरीब का लाचार चेहरा दिखाना चाहते हैं समय संकट की घड़ी में देश की सहायता करने का है किसी के ऊपर एहसान जताने का नहीं जिसे दान ही करना है घर-घर जाकर दान करें दान लेने वालों की वीडियो और फोटो लेने की जरूरत नहीं है कई दिन शोध कई दिन से देखते हुए आज मेरा मन इतना व्यथित हो गया कि कोरोनावायरस लाक डाउन तक अपनी कलम को विराम देना चाहता हूं और मेरे विचारों से किसी को ठेस लगे तो उसके लिए सहर्ष क्षमा प्रार्थी हूं।

About Deepak Dubey

www.ggcportal.com

Check Also

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का देश के नाम संबोधन

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का देश के नाम संबोधन शुरू हो गया है. उन्होंने कहा कि …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *