Home / उत्तर प्रदेश / लखनऊ / एसएसपी ने तोड़ा यातायात नियम, बिना सीट बेल्ट के चलाई जिप्सी |

एसएसपी ने तोड़ा यातायात नियम, बिना सीट बेल्ट के चलाई जिप्सी |

लखनऊ। 

उत्तर प्रदेश की राजधानी में बसने वाले लाखों लोगों को नियम कायदे कानून का पाठ पढ़ाने वाले लखनऊ के पुलिस कप्तान कलानिधि नैथानी यातायात नियमों का खुद कितना पालन करते हैं ये चाौकाने वाला नजारा 13 नवम्बर की रात उस समय देखने को मिला जब एसएसपी कलानिधि नैथानी खुद पुलिस की टूरिस्ट मोबाईल जिप्सी की ड्राईिवंग सीट पर बैठे और समता मूलक चौराहे से गोल्फ क्लब तक उन्होंने टूरिस्ट मोबाईल जिप्सी से खुद रात्रि गश्त का जाएजा लिया और अपने मातहतों को दिशा निर्देश दिए।

अति उत्साह से लबरेज एसएसपी अपने मातहतों को ड्यूटी के प्रति गम्भीर बनाने के लिए जिप्सी की ड्राईिवंग सीट पर बैठ तो गए लेकिन शायद वो अपने उस आदेश को खुद भूल गए जिसमे वो कहते हैं कि दो पहिया वाहन चलाने वाले को हेलमेट लगाना जरूरी है और चार पहिया वाहन चलाने वाले को सीट बेल्ट लगाना जरूरी है। एसएसपी ने सीट बेल्ट लगाए बिना ही गाड़ी स्टार्ट की और गाड़ी लेकर चल दिए।

एसएसपी कलानिधि नैथानी के शहर की कानून व्यवस्था और क्राइम कन्ट्रोल करने के तारीके और मेहनत पर कोई सवालिया निशान नही है लेकिन यहंा ये सवाल तो उठता है कि अपने विभाग और पूरे शहर को यातायात नियमो का पालन करने के लिए प्रेरित करने के लिए आदेश देने वाले एसएसपी कलानिधि नैथानी ने चार पहिया वाहन चलाते समय सीट बेल्ट लगाना क्यूं जरूरी नही समझा हालाकि एसएसपी द्वारा जिप्सी को निंयत्रित गति मे चलाया गया और उनके साथ उनके अधिकारियो की गाड़िया उनके आगे पीछे चल रही थी ऐसे हालात मे दुर्घटना की सम्भावना तो न के बराबर होती है

लेकिन ये सवाल इस लिए उठना जरूरी है कि सीट बेल्ट और हेलमेट न लगा कर गाड़ी चलाने वालो का चालान कैमरो की मदद से भी किए गए हैं और एसएसपी कलानिधि नैथानी द्वारा जब बिना सीट बेल्ट लगाए जिप्सी चलाई गई तो उनका गाड़ी चलाते हुए सिर्फ फोटो ही नही बल्कि वीडियो भी उनके मातहो द्वारा बनाया गया और ये फोटो और वीडियो बाकायादा देर रात पत्रकारो को भेज कर एसएसपी कलानिधि नैथानी की मेहनत से अवगत कराया गया।

कमान्ड से जारी वीडियो और फोटो मे तो साफ नजर आ रहा है कि दूसरो को सीट बेल्ट और हेलमेट लगाने की नसीहत देने वाले मेहनत कश एसएसपी कलानिधि नैथानी बिना सीट बेल्ट लगाए ही पुलिस की टूरिस्ट मोबाईल जिप्सी चला रहे है। यहां इस खबर को लिखना इस लिए उचित है कि अपनी गलती या भूल को स्वीकारा जाए ताकि दूसरे की गलती को सीना तान कर बता कर नियमो का उलंघन करने वाले के खिलाफ कार्यवाही की जा सके।

Support us

कोई भी मीडिया हो उन्हें कभी फंड की चिंता नहीं करनी पड़ती क्यूंकि लोकतंत्र को बचाने के नाम पर उन्हें विभिन्न स्रोतों से पैसा मिलता है। लेकिन हमें सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके समर्थन की आवश्यकता है। आपसे जितना हो सके हमें योगदान करें ताकि हम आपके लिए आवाज उठा सकें।

Donate with

Check Also

बेखौफ बदमाशों ने दुकान में घुसकर बरसाए ताबड़तोड़ गोलियां-लखनऊ

लखनऊ बेखौफ बदमाशों ने दुकान में घुसकर बरसाए ताबड़तोड़ गोलियां मौके पर ही युवक की …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *