Home / राजस्थान / भीलवाड़ा / एसडीएम के चालक को कुचल कर की हत्या बजरी से भरे ट्रेक्टर को पकड़ना पड़ा भारी-भीलवाडा

एसडीएम के चालक को कुचल कर की हत्या बजरी से भरे ट्रेक्टर को पकड़ना पड़ा भारी-भीलवाडा

एसडीएम के चालक को कुचल कर की हत्या- बजरी से भरे ट्रेक्टर को पकड़ना पड़ा भारी

भीलवाड़ा-(मूलचन्द पेसवानी)

भीलवाड़ा जिले के जहाजपुर क्षेत्र के गौरमगढ़ गांव के पास बजरी से भरे टेªक्टर का रूकवाना एसडीएम चालक को भारी पड़ा। एसडीएम उम्मेदसिंह राजावत सरकारी वाहन से पीछा करते हुए एक खेत तक पहुंचे और अपने चालक कुलदीप शर्मा को टेक्ट्रर चालक को रूकवाने के लिए नीचे उतारा। मौका पाकर टेªक्टर चालक ने एसडीएम के वाहन चालक कुलदीप शर्मा पर ही टेªक्टर चढ़ा दिया जिससे कुचलने के कारण वो गंभीर रूप से घायल हो गया तथा हादसे से एसडीएम के भी हौश उड़ गये। घायल चालक शर्मा को जहाजपुर के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचाया गया पर चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। ट्रैक्टर-ट्रॉली चालक मौके से फरार हो गया। इस कारण कस्बे में तनाव व्याप्त हो गया है तथा अतिरिक्त जाब्ता भी तैनात कर दिया गया है।

रात तक जिला कलेक्टर राजेंद्र भट्ट व पुलिस अधीक्षक हरेन्द्र महावर भी मौके पर पहुंच चुके है। दोनो अधिकारी घटनास्थल का मौका मुआयना करने के बाद चिकित्सालय पहुंच कर जानकारी ले रहे है। एसपी ने बताया कि ट्रेक्टर चालक की सरगर्मी से तलाश की जा रही है। पुलिस टीम को रवाना कर दिया है। 

जानकारी के अनुसार, जहाजपुर एसडीएम उम्मेदसिंह और उनके चालक कुलदीप शर्मा ने सोमवार शाम देवली-जहाजपुर मार्ग पर गौरमगढ़ के नजदीक एक बजरी परिवहन करती ट्रैक्टर-ट्रॉली को रुकवाना चाहा। इस पर ट्रैक्टर चालक ने एसडीएम के चालक कुलदीप पर ट्रैक्टर-ट्रॉली चढ़ा दी। इसके चलते चालक कुलदीप गंभीर रूप से घायल हो गया। उसे तत्काल जहाजपुर अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टर्स ने उसे मृत घोषित कर दिया। इस घटना से इलाके में दहशत का माहौल है। चालक कुलदीप ने लॉक डाउन के दौरान ही जहाजपुर एसडीएम के चालक के रूप में नौकरी ज्वाईन की थी। 

हादसे की सूचना समूचे कस्बे में आग की तरह फैल गयी। बजरी माफिया द्वारा एसडीएम के वाहन चालक को कुचलने को लेकर हर कोई अचंिभत दिखा तथा शहर वासियों ने बजरी माफियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की। देखते ही देखते चिकित्सालय में तहसीलदार मुकंदसिंह शेखावत, थाना प्रभारी हरिश सांखला सहित पुलिस व प्रशासन के स्थानीय अधिकारी पहुंच गये तथा काफी तादाद में भीड़ भी पहुंची।

विधायक का आरोप- 

जहाजपुर विधायक गोपीचंद मीणा ने भी पहले घटनास्थल पहुंच कर मामले की जानकारी ली तथा बाद में चिकित्सालय पहुंच कर दुर्घटना पर संवेदना व्यक्त करते हुए उपखंड अधिकारी उम्मेदसिंह राजावत पर ही लापरवाही का आरोप लगाते हुए कहा कि आखिर मेगा हाइवे से दूर लिंक रोड़ पर एक खेत पर अकेले एसडीएम को वाहन चालक को नहीं भेजना चाहिए। मृतक की पोस्टमार्टम व फोरेसिंक जांच से पूरे प्रकरण की निष्पक्ष जांच करायी जाए। उन्होंने इस संबंध में मुख्यमंत्री कार्यालय में भी बात की है।

Support us

कोई भी मीडिया हो उन्हें कभी फंड की चिंता नहीं करनी पड़ती क्यूंकि लोकतंत्र को बचाने के नाम पर उन्हें विभिन्न स्रोतों से पैसा मिलता है। लेकिन हमें सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके समर्थन की आवश्यकता है। आपसे जितना हो सके हमें योगदान करें ताकि हम आपके लिए आवाज उठा सकें।

Donate with

Check Also

भीलवाड़ा जिला कलेक्टर पहुंचे मृतकों के घर परिजनों को दी सांत्वना, सौंपे सीएम सहायता राशि के चेक

चित्तौड़गढ़-कोटा राष्ट्रीय राजमार्ग दुर्घटना भीलवाड़ा जिला कलेक्टर पहुंचे मृतकों के घर परिजनों को दी सांत्वना, …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *