Home / राजस्थान / करौली / करौली में पुलिसकर्मी बन काट रहा था दुकानदारों के चालान, लोगों ने पकड़कर पुलिस को सौंपा |

करौली में पुलिसकर्मी बन काट रहा था दुकानदारों के चालान, लोगों ने पकड़कर पुलिस को सौंपा |

करौली में पुलिसकर्मी बन काट रहा था दुकानदारों के चालान, लोगों ने पकड़कर पुलिस को सौंपा |

करौली: बेरोजगारी की मार और लॉकडाउन के कारण रुपयों से तंग जिले के युवा अजीबोगरीब गैर कानूनी कार्यो के रास्ते पर उतर आए हैं ऐसा ही एक मामला गुरुवार को करौली जिला मुख्यालय पर सामने आया जहां एक युवक बाजार में पुलिसकर्मी बन बिना मास्क लगाए दुकानदारों के चालान काट रहा था। दुकानदारों को संदेह होने पर युवक को पकड़ कर धुनाई कर दी एवं पुलिस को सौंप दिया।

दुकानदार अतुल गोयल व दिलीप ने बताया कि गुरुवार को दोपहर के समय एक युवक स्वयं को पुलिसकर्मी बता बिना मास्क लगाए हुए दुकानदारों के रसीद काट रुपए ऐंठ रहा था

दुकानदारों ने संदेह होने पर उससे परिचय पत्र मांगा जिस पर उसका व्यवहार अजीब लगा तब लोगों ने उसे पकड़ लिया, पकड़ने पर वह दुकानदारों से मारपीट करने को उतारू हो गया जिस पर गुस्साए क्षेत्र के दुकानदारों ने उसकी पिटाई कर पुलिस को सौंप दिया।

उक्त युवक ने शहर के भूड़ारा बाजार, सीताबाड़ी, सदर बाजार व बूरा बतासा वाली गली में अनेको दुकानदारों की रसीद बना रुपये ऐंठ लिए।

कोतवाली थानाधिकारी नरेंद्र पारीक ने बताया कि दुकानदारों से सूचना मिली कि एक युवक बाजारों में दुकानों पर पहुंच दुकानदारों एवं राहगीरों से जुर्माना राशि के नाम पर रुपए ऐंठ रहा है।

सूचना मिलते ही पुलिस ने मौके पर पहुंच युवक को हिरासत में ले लिया। युवक ने अपने आप को मंडरायल निवासी पुष्पेंद्र बताया है। युवक के पास से 3000 रुपये और एक रसीद बुक मिली है।

इस रसीद गड्डी से वह जुर्माना वसूली के नाम पर पर्ची काट रहा था। पुलिस को संदेह है कि वह कई दिनों से यह काम कर रहा था जिस पर पुलिस ने युवक से फर्जी परिचय पत्र व रुपए जप्त कर लिए हैं एवं युवक के खिलाफ मामला दर्ज करके कार्रवाई की जा रही है।

Check Also

अवैध खनन से खोखले हुए पहाड़-महवा

अवैध खनन से खोखले हुए पहाड़ महवा में वन विभाग की अनदेखी के चलते वन …