Breaking News
Home / राजस्थान / सवाई माधोपुर / कलेक्टर ने प्रतिभाओं के हौंसलो की उडान को दिए पंख

कलेक्टर ने प्रतिभाओं के हौंसलो की उडान को दिए पंख

कलेक्टर ने प्रतिभाओं के हौंसलो की उडान को दिए पंख

जिले की दसवीं एवं बारहवी बोर्ड परीक्षा में सर्वाधिक अंक लाने वाली विद्यार्थियो से किया संवाद, लक्ष्य तय कर भविष्य की तैयारी में जुटने का किया आह्वान 

सवाई माधोपुर, 7 अगस्त। जिला कलेक्टर नन्नूमल पहाडिया ने जिले की माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की 10 वीं एवं 12 वीं बोर्ड परीक्षा में सर्वाधिक अंक प्राप्त करने वाली प्रतिभाओं के साथ संवाद करते हुए उनको सफलता की शुभकामना दी तथा हौंसला अफजाई करते हुए उनकी उडान को पंख लगाए।

कलेक्टर पहाडिया ने शुक्रवार को कलेक्ट्रेट सभागार में 10 वीं में सर्वाधिक अंक प्राप्त करने वाली पांच, 12 वीं के विज्ञान, वाणिज्य एवं कला संकाय में सर्वाधिक अंक प्राप्त करने वाले तीन-तीन विद्यार्थियों से संवाद किया तथा प्रतिभावान विद्यार्थियों को लक्ष्य तय करके लक्ष्य प्राप्ति के लिए पूरे मनोयोग से जुटने का आह्वान किया। 

कलेक्टर ने प्रतिभाशाली बालकों के अभिभावकों से भी संवाद किया तथा कहा कि बच्चों की रूचि-अभिरूचि का ध्यान रखते हुए उन्हें आगे बढने में मदद करें। उन्होंने कहा कि अभिभावक बच्चों पर अपनी इच्छा को थोपे नहीं। कलेक्टर पहाडिया ने कहा कि प्रतिभावान विद्यार्थियों में अथाह क्षमता है। उनके जज्बे को बनाए रखते हुए अभिभावक भी बच्चों को प्रेरित करें। उन्होंने कहा कि बच्चों की अच्छे से काउंसलिंग करें। विजन बडा रखते हुए लक्ष्य तय कर, पूरी मेहनत से जुट जाएं तो सफलता अवश्य मिलेगी। कलेक्टर ने जिले के मेरिटोरियस छात्र-छात्राआंे से कहा कि कोई आईआईटी तो कोई सिविल सर्विस, चिकित्सक आदि सेवाओं में जाकर समाजसेवा करना चाहते है। इसके लिए सतत प्रयास करें। उन्होंने कहा कि ये प्रतिभाशाली बालक-बालिकाओंए भारतमाता रूपी बगिया के ऐसे फूल है, जिनकी खुशबू चारांे और महकेेगी। इन प्रतिभाआंे को अच्छे मार्गदर्शन व सही दिशा देने की आवश्यकता है। उन्होंने अभिभावकों से कहा कि बच्चियों को बाहर भेजने में कुछ लोग झिझकते है जो सही नहीं है। उन्होंने प्रतिभाओं का सम्मान करते हुए कहा कि ये प्रतिभाशाली बालक ऐसे हीरे है जो अपने परिवार, जिले एवं प्रदेश का नाम पूरे देश एवं विश्व में रोशन करेंगे। इन्हें केवल सही मार्गदर्शन एवं दिशा देने की आवश्यकता है। उन्होंने सभी बालकों से उनकी रूचि, अभिरूचि तथा उनके परिवार के बारे मेें सवाल जवाब किए। बालकों ने कलेक्टर से संवाद करते हुए आईएएस बनने के लिए किस प्रकार तैयारी की जाए, चिकित्सा के क्षेत्र में आगे बढने के लिए क्या किया जाए, सिविल सर्विस के लिए हिन्दी माध्यम या अंगेेजी माध्यम से तैयारी करें जैसे सवाल किए। कलेक्टर पहाडिया ने बच्चों के सवालों के जवाब दिए तथा कहा कि अच्छे आचरण एवं राष्ट्र सेवा का भाव रखते हुए निरंतर अध्ययन करें। 

कलेक्टर ने कक्षा दस में 98.33 प्रतिशत अंक प्राप्त करने वाली इशिता मंगल एवं दीप्ति सोनी, 98 प्रतिशत अंक प्राप्त करने वाले अक्षित सिंहल, अतुल मंगल, अनिरूद्ध गुप्ता से, कक्षा 12 विज्ञान वर्ग में97.60 प्रतिशत अंक पाने वाली साक्षी सिंहल, रेखराम मीना 96.80 अंक, कला वर्ग में नीतू सैनी, सरोज महावर, पूजा गुर्जर तथा वाणिज्य संकाय में दिया खंडेलवाल, देवांशु शर्मा, ऐश्वर्या अग्रवाल से संवाद किया। इस मौके पर कलेक्टर ने सभी प्रतिभावान विद्यार्थियों को सम्मानित किया। इस मौके पर सीडीईओ रामकेश मीना ने जिले में शिक्षा के स्तर एवं परीक्षा परिणाम की गुणवत्ता के सुधरने की बात कही तथा आने वाले समय में जिले को शिक्षा के क्षेत्र में प्रथम लाने के लिए प्रयास करने का संकल्प व्यक्त किया। 

पौधे लगाने एवं कोरोना से जागरूक करने का किया आह्वान:- इस मौके पर जिला कलेक्टर पहाडिया ने उपस्थित प्रतिभावान विद्याार्थियों, अभिभावकों एवं अधिकारियों से कहा कि पर्यावरण संरक्षण के लिए अधिक से अधिक पौधे लगाएं। उन्होंने पौधे लगाने तथा उनके संरक्षण के लिए संचालित विभिन्न योजनाओं की जानकारी भी दी। इस अवसर पर उन्होंने कोरोना से बचाव के लिए जागरूक किया। उन्होंने मास्क लगाने, दो गज की दूरी का पालन करनें, बार बार हाथ धोने, सार्वजनिक स्थान पर नहीं थूकने के संदेश को जीवन में अपनाने तथा दूसरों को भी प्रेरित एवं जागरूक करने का आह्वान किया। कार्यक्रम में अतिरिक्त जिला शिक्षा अधिकारी घनश्याम बैरवा, पीआरओ सुरेश गुप्ता, स्काउट सीओ दिव्या, प्रधानाचार्य नीरज कुमार भास्कर, मीना शर्मा, मोहन लाल शर्मा सहित अन्य अधिकारी एवं अभिभावक भी मौजूद थे। 

Check Also

सवाई माधोपुर -गंगापुर सिटी स्थित दूध की डेयरी पर हुई चाकूबाजी की घटना।

सवाई माधोपुर -उपखंड गंगापुर सिटी ,दूध की डेयरी पर आज सुबह किसी बात को लेकर …