Home / राजस्थान / करौली / किसानो की समस्याओ को लेकर राज्यपाल महोदय , मुख्यमंत्री राजस्थान श्री अशोक गहलोत, प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी, ओर राष्टपति भारत के नाम ज्ञापन – नादौती

किसानो की समस्याओ को लेकर राज्यपाल महोदय , मुख्यमंत्री राजस्थान श्री अशोक गहलोत, प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी, ओर राष्टपति भारत के नाम ज्ञापन – नादौती

नादौती मे किसानो की समस्याओ को लेकर सोमवार को 30 सितम्बर2019 को एक भारतीय किसान संघ का उपखण्ड अधिकारी नादौती के ज़रिए, राज्यपाल महोदय , मुख्यमंत्री राजस्थान श्री अशोक गहलोत, प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी, ओर राष्टपति भारत के नाम ज्ञापन अतिवृष्टि से हुए फसल नुकसान की विशेष गिरदावरी करवा कर किसानों को मुआवजा दिलवाने हेतु माननीय मुख्यमंत्री महोदय से निवेदन है कि राजस्थान में ज्यादातर जिलों में तिल और बाजरा मक्का की फसलें भारी बरसात से खराब हो गई है बाजरा में 70 से 80% तक नुकसान है और तिल शत प्रतिशत खराब हो चुका है किसानों के सामने भीषण संकट प्रकृति के द्वारा उत्पन्न हो गया है किसानों की दशा बहुत खराब है खाने के लिए पशुओं के लिए चारे का संकट है ऐसे हालात में राजस्थान सरकार विशेष गिरदावरी करवाकर किसानों को मुआवजा दिया जाना सुनिश्चित करें एवं केसीसी का प्रधानमंत्री फसल बीमा का लाभ दिलवाले कल दिनांक 25सितम्बर 2019 को मुख्यमंत्री महोदय द्वारा मुख्यमंत्री महोदय द्वारा राजस्थान कृषक ऋणी माफी योजना 2019 अंतर्गत 100 करोड़ का बजट सराहनीय है परंतु यह दायरा भूमि विकास बैंक का है इसे बढ़ाकर समस्त बैंकों का कर्जा माफ किया जाना सुनिश्चित करें जिससे प्रदेश के किसानों को राहत मिलेगी और राजस्थान राज्य का किसान गरीब किसान है 1000 करोड़ की सहायता राशि उपलब्ध करवाएंओर फसल बीमा दावा फिल्म उपलब्ध करवाया जाए जिससे किसानों को फायदा हो सके और और फसलों का 7 वर्ष के औसतन उत्पादन बहुत कम है बताया गया है इसका दोबारा वास्तविक उत्पादन तय होना चाहिए फसलों के 7 वर्षों के अधिकतम उत्पादन के लिए आधार पर बीमा राशि तय करें कृषि बीमा 7 एक्टर तय सीमा के प्रावधान को सुनिश्चित करें समय पर खरीद केंद्र खुलवाने के लिए राजस्थान सरकार में अतिवृष्टि अलवर सिटी के बाद शेष बची फसल ज्वार बाजरा मक्का रागी अरहर मुंह उड़ान मूंगफली सोयाबीन सूरजमुखी आदि फक्र तैयार है भारत सरकार ने इन फसलों का न्यूनतम समर्थन मूल्य घोषित किया हुआ है समय पर खरीद केंद्र नहीं खुलने के कारण किसान फसल को ओने पौने दामों में भेज देते हैं अतः फसल का खरीद केंद्र शीघ्र चालू कर करें किसान को नुकसान न उठाना पड़े पिछली बार सरकार ने बिना तैयारी के खरीद केंद्र खोलकर किसानों के साथ धोखा किया कभी बजट की कमी कभी बार दाने की कमी तो कभी कर्मचारियों का किसानों के प्रति व्यवहार से लाखों किसान परेशान हुए अतः सरकार से अनुरोध है कि खरीद केंद्रों पर फसल खरीदने की व्यवस्था को पहले ही सुनिश्चित करें फसल खरीदने के बाद किसान को शीघ्र भुगतान करना सुनिश्चित करें विद्युत दर बढ़ने की अनुशंसा का विरोध फसलों का लागत मूल्य नहीं मिलने से किसानों की आर्थिक स्थिति दयनीय हो गई है ऐसे में बिजली की दरें बढ़ाने की अनुशंसा किसानों के साथ कुठाराघात होगी यदि सरकार द्वारा घरेलू है कृषि विद्युत दरें बढ़ाकर किसानों पर और अधिक आर्थिक भोज डालने की चेष्टा की गई तो किसान आर पार की लड़ाई लड़ने के लिए तैयार है सरकार विद्युत क्षितज रोकने के लिए सार्थक प्रयास करें ना की डिस्कॉम के घाटे को पूर्ति के लिए किसानों से घरेलू है कृषि दर बढ़ाने की मनसापाले रवी की फसल हेतु किसानों के लिए दिन में सुबह 5:00 बजे से 10:00 बजे तक थ्री फेस लाइट नियमित रूप से उपलब्ध कराएं किसानों को रात्रि में परेशानी होती है किसानों के लिए बाजरे की कड़वी खराब हो चुकी है जिसको मवेशी खिलाना गलत है क्योंकि वह खराब हो चुकी है इसलिए किसानों के सामने पशुओं के लिए चारे का संकट खड़ा हो गया है शीघ्र ही किसानों के लिए चारा डिपो प्रत्येक ग्राम स्तर पर खोले जाएं कृषि उपज मंडी गंगापुरसिटी मैं कमीशन एजेंटों पर मनमानी पर रोक लगाएं मंडी में कमीशन एजेंट किसानों के साथ धोखाधड़ी छल कपट और भ्रष्टाचार करते हैं किसानों के साथ प्रत्येक बोरी पर 1 से 2 किलो अतिरिक्त अनाज लिया जाता है प्रति तोल पर जो गलत है तुरंत रोक लगाई जाए और किसान की फसल जब मंडी में पहुंच जाती है तो जब तक उसका मूल्य नहीं मिल जाता तब तक सुरुचि जगह पर रखने की व्यवस्था करवाएं जिससे बरसात के पानी में और खराब ना हो ना कोई नुकसान पहुंचा सके कृषि उपज मंडी में अव्यवस्थाओं को सही करवाया जाए और नादोती क्षेत्र की विशेष मांग कमांड एरिया बाढ़ क्षेत्र नादोती के किसानों को सिंचाई हेतु पांचना बांध का पानी उपलब्ध करवाया जाए पांचना बांध का पानी कमांड एरिया को किसानों के लिए छोड़ा जाए तहसील के किसानों को अक्टूबर माह में अंतिम सप्ताह में सिचाई के लिए पानी की जरूरत पड़ती है इसलिए पानी छोड़ा जाए किसानों के लिए 15 साल से पांचना बांध का पानी नहीं छोड़ा गया है इसलिए लहरों की साफ सफाई करवाई जाए सिंचाई विभाग द्वारा और जिला प्रशासन द्वारा राजस्थान सरकार करौली जिले के किसानों के साथ धोखा कर रही है पांचना बांध का पानी नहीं खोलकर नादोती तहसील माड क्षेत्र में आता है वहां का किसान पानी की समस्या से परेशान रहता है ना तो पीने का पानी है सिचाई के लिए पानी है तुरंत प्रभाव से पांचना बांध का पानी कमांड एरिया के लिए छोड़ा जाए जिसमें नादोती , श्रीमहावीर, जी हिंडौन सिटी ,करोलीओर स.मा. गंगापुर सिटी के किसानों के लिए उपयोगी है राजस्थान सरकार उपरोक्त समस्याओं का निराकरण शीघ्र करें नहीं तो उपखंड अधिकारी कार्यालय नादोती जिला करौली पर किसानों का सत्याग्रह होगा जिसमें लाखों किसान प्रदर्शन करेंगे और भूख हड़ताल करेंगे जिसकी संपूर्ण जिम्मेदारी राजस्थान सरकार और भारत सरकार की रहेगी भारतीय किसान संघ के अध्यक्ष लक्ष्मी चंद मीणा , भारतीय किसान सँघ युवा प्रमुख राजेश आदिवासी रिंगस्पुरा, अजित मीना खुडाचैनपुर ,ब्रज भूषण खंडीप पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष गंगापुरसिटी, कमलेश कुमार कैमा ,श्यामलाल गुडली किसान नेता के साथ सैकड़ों की संख्या में किसान मौजूद रहे

Support us

कोई भी मीडिया हो उन्हें कभी फंड की चिंता नहीं करनी पड़ती क्यूंकि लोकतंत्र को बचाने के नाम पर उन्हें विभिन्न स्रोतों से पैसा मिलता है। लेकिन हमें सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके समर्थन की आवश्यकता है। आपसे जितना हो सके हमें योगदान करें ताकि हम आपके लिए आवाज उठा सकें।

Donate with

Check Also

बाजारों में भीड़, कैसे हारेगा कोरोना

देवउठनी एकादशी के कारण इस समय बाजारों में जबरदस्त भीड़ उमड़ रही है। लोग बाजारों …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *