Home / देश / कोरोना फाइटर्स (Doctor’s) संसाधनों के अभाव में-गंगापुर सिटी

कोरोना फाइटर्स (Doctor’s) संसाधनों के अभाव में-गंगापुर सिटी

कोरोना फाइटर्स (Doctor’s) संसाधनों के अभाव में-गंगापुर सिटी

जहां एक और पूरा भारत कोरोना वायरस Covid-19 महामारी से बचाव के लिए केंद्र सरकार और भारत के सभी राज्य सरकारों द्वारा प्रत्येक राज्य को जहां लॉक डाउन किया हुआ है, वहीं दूसरी ओर गंगापुर सिटी राजकीय सामान्य चिकित्सालय में सभी डॉक्टर संसाधनों का अभाव होने के बावजूद भी के अपनी ड्यूटी पूरी मुस्तैदी के साथ निभा रहे हैं लेकिन कई बार उच्चाधिकारियों को कंप्लेंट करने के बावजूद भी उनको सुविधा मुहैया नहीं कराई जा रही है।

चिकित्सालय में जहां एक और सैनिटाइजर, पियोंन एवं सिक्योरिटी की व्यवस्था समुचित नहीं है, उच्चाधिकारियों को कंप्लेंट करने के बावजूद और लिखित में देने के पश्चात भी सुविधाओं से वंचित है, राजकीय सामान्य चिकित्सालय गंगापुर सिटी।

गौरतलब है कि इस संकट की घड़ी में वॉरियर्स कहे जाने वाले वाले डॉक्टर को यदि इस महामारी को लेकर सभी संसाधन उपलब्ध नहीं होंगे तो आखिर ये वॉरियर्स किस तरह से काम कर पाएंगे लगभग 3 घंटे पहले राजकीय चिकित्सालय के सभी डॉक्टर के द्वारा गंगापुर सिटी में उच्चाधिकारियों को जब कंप्लेंट की गई और कंप्लेंट करने के पश्चात जब एडीएम साहब द्वारा उच्चाधिकारियों से बात की गई तो जवाब नगण्य ही रहा।

हालांकि एडीएम ने होमगार्ड और सिक्योरिटी उपलब्ध कराई जाने की बात जरूर कही है लेकिन पिछले दिनों में प्रशासन के द्वारा सिक्योरिटी उपलब्ध कराई गई थी लेकिन चिकित्सालय में कोई भी सिक्योरिटी उपलब्ध अभी तक नहीं हुई है, इससे वॉरियर्स कहे जाने वाले डॉक्टर्स को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। चिकित्सालय दो शिफ्ट में चलता है सुबह 4 घंटे और शाम को 2 को घंटे।

जब G News Portal Team के द्वारा सुबह चिकित्सालय का नजारा देखा गया तो हम भी हैरान रह गए। जहां एक डॉक्टर के केबिन में मरीज के रूप में 100 से डेढ़ सौ लोग दिखाई दिए।

अब देखना यह है कि पूरे भारत में कोरोना वायरस से लड़ने के लिए जहां हमारी डॉक्टर टीम यानी वॉरियर्स अपनी पूरी मुस्तैदी के साथ में कार्य कर रहे हैं वहीं गंगापुर सिटी चिकित्सालय में संसाधनों का पूर्णतया अभाव है।

अब देखते हैं कि बड़े-बड़े दावे करने वाली राजस्थान गहलोत सरकार और चिकित्सा विभाग खबर प्रकाशित होने के बाद में इस बात को कितनी गंभीरता से लेता है, यह तो वक्त ही बताएगा।

Support us

कोई भी मीडिया हो उन्हें कभी फंड की चिंता नहीं करनी पड़ती क्यूंकि लोकतंत्र को बचाने के नाम पर उन्हें विभिन्न स्रोतों से पैसा मिलता है। लेकिन हमें सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके समर्थन की आवश्यकता है। आपसे जितना हो सके हमें योगदान करें ताकि हम आपके लिए आवाज उठा सकें।

Donate with

Check Also

MP गृहमंत्री के आदेश के बाद कथित लव जिहाद मामले में आरोपी गिरफ्तार, पॉक्सो एक्ट के तहत मामला दर्ज

MP गृहमंत्री के आदेश के बाद कथित लव जिहाद मामले में आरोपी गिरफ्तार, पॉक्सो एक्ट …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *