Home / राजस्थान / बीकानेर / क्षतिग्रस्त मार्ग से वाहन चालकों को हो रही परेशानी-बीकानेर

क्षतिग्रस्त मार्ग से वाहन चालकों को हो रही परेशानी-बीकानेर

छत्तरगढ़ 

आखिर कब सुधरेगा सतासर-बीकानेर सड़क मार्ग

क्षतिग्रस्त मार्ग से वाहन चालकों को हो रही परेशानी

छत्तरगढ़ भारतमाला सड़क परियोजना से जोड़ने वाला सतासर-बीकानेर 72 किलोमीटर लम्बा राजमार्ग तीन जगह- जगह क्षतिग्रस्त व दोनों ओर बने ब्रम पूरी तरह बरसात के समय पानी में बह गए हैं।जिससे रोजाना सैकड़ों की तादाद में आवागमन करने वाले वाहन चालकों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ता है।जानकारी के अनुसार छत्तरगढ़ मुख्यालय से होकर गुजरने वाली सतासर तिराहे से भारतमाला सड़क से बीकानेर-सतासर सड़क मार्ग तीन को जोड़ने वाली करीब 72 किलोमीटर लम्बी यह सड़क जो बीकानेर बाईपास से शोभासर,लाखूसर,मोतीगढ़ होते हुए अनूपगढ़ जाने वाली भारतमाला सड़क परियोजना से जुड़ता है।सार्वजनिक निर्माण विभाग की करीब दो दशक से चली आ रही अनदेखी के चलते सड़क पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो चुकी है।जिससे अनेकों बार माल वाहक वाहन पलट चुके हैं।इसके वाहन चालकों को आर्थिक नुकसान उठाना पड़ रहा है।वही छत्तरगढ़ कस्बे से रोजाना दर्जनों की संख्या में जाने वाले मरीजों को अपने इलाज के लिए पीबीएम बीकानेर जाने के लिए भारी परेशानियों से होकर जाना पड़ता है।इससे अनेक बार सड़क हादसे में गंभीर रूप से घायल व्यक्ति दम तोड़ चुके हैं।वही रात्रि के समय आने जाने वाले सवारी वाहन चालकों को इस सड़क मार्ग पर अनहोनी होने की आशंका बनी रहती है।

ग्रामीणों ने अनेक बार इस सड़क की समस्या के बारे में अवगत करवाया चुके हैं।

छत्तरगढ़ की विभिन्न समाजसेवी संगठनों ने सतासर-बीकानेर सड़क मार्ग का पुनः निर्माण भारतमाला सड़क परियोजना की तर्ज पर बनाने की मांग को लेकर स्थानीय प्रशासन,विभिन्न पार्टियों के जनप्रतिनिधियों सहित जिला कलेक्टर बीकानेर को इस बारे में अनेकों बार छत्तरगढ़ विकास समिति,छत्तरगढ़ व्यापार मंडल,भारतीय किसान संघ,बार एसोसिएशन संघ,सयुंक्त व्यापार मंडल,भाजपा जिला एएसी मोर्चा,पत्रकार संघ सहित अन्य संगठनों द्वारा ज्ञापन के माध्यम से अवगत करवा चुके हैं लेकिन समस्या जस की तस बनी हुई है इससे सभी संगठनों में सार्वजनिक निर्माण विभाग प्रति भारी रोष व्यक्त है।

Support us

कोई भी मीडिया हो उन्हें कभी फंड की चिंता नहीं करनी पड़ती क्यूंकि लोकतंत्र को बचाने के नाम पर उन्हें विभिन्न स्रोतों से पैसा मिलता है। लेकिन हमें सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके समर्थन की आवश्यकता है। आपसे जितना हो सके हमें योगदान करें ताकि हम आपके लिए आवाज उठा सकें।

Donate with

Check Also

पौधारोपण की फिजिकल वेरिफिकेशन करेंगे एसडीएम

15 सूत्री कार्यक्रम की समीक्षात्मक बैठक 28 सितम्बर को

15 सूत्री कार्यक्रम की समीक्षात्मक बैठक 28 सितम्बर को बीकानेर  22 सितम्बर। जिला कलक्टर नमित …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *