Home / उत्तराखंड / चमोली / चमोली जिले का एक ऐसा मंदिर जहां होती है भक्तों की मुराद पूरी
चमोली जिले का एक ऐसा मंदिर जहां होती है भक्तों की मुराद पूरी

चमोली जिले का एक ऐसा मंदिर जहां होती है भक्तों की मुराद पूरी

चमोली जिले में स्थित मां भगवती का मंदिर जहां आए दिन भक्तों की लंबी कतार देखने को मिलती है। बताया जाता है कि इस मंदिर में कई रहस्य छुपे हैं, इस मंदिर के निचले तरफ एक बहुत लम्बी गुफा है, उस गुफा का एक रहस्य है बताया जाता है कि इस गुफा के अंदर वही व्यक्ति जा पाता है जिस व्यक्ति ने कभी झूठ ना बोला हो ना ही कभी कोई बुरे कर्म किए हो वहीं इस गुफा के अंदर घुस सकता है इसलिए यहां पर हर कोई व्यक्ति इस गुफा के अंदर प्रवेश करता है तो बहुत कम ऐसे श्रद्धालु होते हैं जो इस गुफा के अंदर प्रवेश कर पाते हैं इस गुफा के अंदर बिल्कुल अंधेरा सा है तारातरा की आवाजें यहां पर सुनने को मिलती है मां भगवती का यह मंदिर पेनी गांव में स्थित सुंदर पहाड़ियों के बीच इस मंदिर के दर्शन प्राप्त होते हैं चमोली जिले का यह सुप्रसिद्ध मंदिर आज भी अपने आप में एक रहस्य बना हुआ है कहते हैं कि अगर कोई व्यक्ति गाड़ी घोड़ा या नया मकान इत्यादि खरीदा है तो इस मंदिर मैं उसे पूजा करनी पड़ती है इसलिए यहां पर हर कोई व्यक्ति कुछ भी सामान खरीदना है तो उसे यहां पर पूजा देनी पड़ती है यहां पर कोई भी श्रद्धालु कुछ भी मांगता है तो उसकी मुरादे तुरंत पूर्ण होती है इसलिए यहां पर आए दिन भक्त अपनी पूजा संपन्न करवाते हैं माता का यह भव्य मंदिर ग्राम पेनी में देखने को मिलता है इस मंदिर में हर दिन भंडारे लगते हैं नवरात्रों में तो यहां पर भक्तों की लंबी कतार देखने को मिलती है भक्त लंबी कतार में माता के दर्शन प्राप्त करते हैं वैसे तो उत्तराखंड चमोली जिले में तरह-तरह के मंदिर देखने को मिलते हैं अलग-अलग मान्यता के अनुसार हर मंदिरों के अपने-अपने रहस्य है घड़ी भवानी का यह मंदिर जोशीमठ से 8 किलोमीटर पड़ता है इस मंदिर मैं आने वाले श्रद्धालु माता का आशीर्वाद पाकर के एक अनोखा आशीर्वाद पाते हैं बताते हैं कि जो भी कोई सच्चे मन से इस मंदिर के दर्शन प्राप्त करता है उसे स्वयं माता के दर्शन प्राप्त हो जाते हैं कहीं मान्यता है इस मंदिर की यह मंदिर 12 महीने के लिए खुला होता है पेनी गांव का यह सुप्रसिद्ध मंदिर अपने आप में एक खूबसूरती बयां करता है।

Support us

कोई भी मीडिया हो उन्हें कभी फंड की चिंता नहीं करनी पड़ती क्यूंकि लोकतंत्र को बचाने के नाम पर उन्हें विभिन्न स्रोतों से पैसा मिलता है। लेकिन हमें सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके समर्थन की आवश्यकता है। आपसे जितना हो सके हमें योगदान करें ताकि हम आपके लिए आवाज उठा सकें।

Donate with

Check Also

हंस फाउंडेशन दे रहा है जोशीमठ के सभी गांव में अपनी सेवा

हंस फाउंडेशन हेल्प एज संस्था आज से अपनी पूर्ण सेवा जोशीमठ के सभी गांव में …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *