Home / मध्यप्रदेश / चित्रकूट / चित्रकूट में झोलाछाप डॉक्टरों पर नहीं लग रही लगाम

चित्रकूट में झोलाछाप डॉक्टरों पर नहीं लग रही लगाम

जिले के स्वास्थ्य अधिकारियों पर झोलाछाप डॉक्टर भारी पड़ रहे हैं। विभागीय अधिकारियों की ओर से झोलाछाप डॉक्टरों के खिलाफ अभियान नहीं चलाने से डॉक्टरों के हौंसले बुलंद हैं। दिलचस्प पहलू यह है कि झोलाछाप डॉक्टरों को चिह्नित करने के लिए विभागीय स्तर पर हाल फिलहाल में कोई योजना भी नहीं है।

स्वास्थ्य विभाग की ओर से झोलाछाप डॉक्टरों के खिलाफ अब तक जितने अभियान चलाए गए हैं वह सब कागजों तक सिमटकर रह गए हैं। विभागीय अधिकारियों ने अपवादस्वरूप एकाध बार अभियान भी चलाया, कई डॉक्टरों को नोटिस भी जारी किए।

इसके बावजूद सभी झोलाछाप डॉक्टर प्रैक्टिस कर रहे हैं। विभागीय अधिकारियों का कहना है कि वह महज जांच की कार्रवाई कर सकते हैं। बाकी जांच की पूरी प्रक्रिया पुलिस या फिर प्रशासन की है। अधिकारियों का तर्क है कि उनके पास कोई अधिकार ही नहीं हैं।

शहर के अलावा जिले के पूरे क्षेत्र में कितने झोलाछाप डॉक्टर्स हैं, इसकी कोई अधिकृत जानकारी विभागीय अफसरों के पास नहीं है। इन्हीं डॉक्टरों की करतूतों के चलते कई मरीजों की जान तक चली गई। कई झोलाछाप डॉक्टरों के क्लीनिक पर जमकर तोड़फोड़ की गई, जबकि कई के खिलाफ मुकदमें तक दर्ज कराए गए। लेकिन किसी पर कोई कठोर कार्यवाही नही हुई है। जिसके चलते लगातार झोलाछाप डॉक्टरों पर बढ़ोत्तरी होती चली जा रही है। जिसके चलते जनता की जीवन नैया खतरे में पड़ रही है।
विभागीय अधिकारियों की सह पर यह खेल चल रहा है ।

रिपोर्ट- ठा0 सुरेन्द्र सिंह कछवाह ब्युरो चित्रकूट

Support us

कोई भी मीडिया हो उन्हें कभी फंड की चिंता नहीं करनी पड़ती क्यूंकि लोकतंत्र को बचाने के नाम पर उन्हें विभिन्न स्रोतों से पैसा मिलता है। लेकिन हमें सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके समर्थन की आवश्यकता है। आपसे जितना हो सके हमें योगदान करें ताकि हम आपके लिए आवाज उठा सकें।

Donate with

Check Also

हरा भरा पेड़ अग्नि में स्वाहा - चित्रकूट

हरा भरा पेड़ अग्नि में स्वाहा – चित्रकूट

देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे का शिलान्यास करने आगामी 29 फरवरी …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *