Home / राजस्थान / भीलवाड़ा / छात्रा ने स्वरचित शायरी संग्रह का कराया प्रकाशन, एक लाख प्रति छपी
छात्रा ने स्वरचित शायरी संग्रह का कराया प्रकाशन, एक लाख प्रति छपी

छात्रा ने स्वरचित शायरी संग्रह का कराया प्रकाशन, एक लाख प्रति छपी

शाहपुरा की छात्रा रश्मि का प्रकाशन शायरा की शायरी आॅनलाइन पर विक्रय के उपलब्ध

भीलवाड़ा जिले के शाहपुरा की एक छात्रा ने हिम्मत करके अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन राष्ट्रीय स्तर पर किया है। छात्रा ने शायरी लिखकर संग्रह तैयार किया और अपने स्तर पर प्रयास कर राष्ट्रीय स्तर के पब्लिकेशन से उसका प्रकाशन कराया है। एक लाख प्रतियां प्रकाशित करने के बाद उसका विक्रय भी आॅनलाइन प्रारंभ हो गया है। इस पुस्तक का लोकार्पण राजकीय महाविद्यालय के वार्षिकोत्सव में कराया गया है।
शाहपुरा के कलींजरी गेट रोड, सिंचाई विभाग के पास रहने वाली छात्रा रश्मि व्यास का शायरी संग्रह अखिल भारतीय स्तर पर रूद्र पब्लिकेशन की ओर से छपा है। इस संग्रह की एक लाख प्रतियां प्रकाशित हुई है जिसका विक्रय आॅनलाइन प्रांरभ हो गया है। यह अमेजॉन व फ्लिपकार्ट पर उपलब्ध है।
रश्मि व्यास ने आज बताया कि स्वरचित शायरी को बिलासपुर छत्तीसगढ़ के रूद्र पब्लिकेशन में अखिल भारतीय स्तर पर प्रकाशित किया है। इस पुस्तक का नाम शायरा की शायरी रखा है। इसमें कुल 150 स्वरचित शायरी व गजल संग्रहित है। इससे पहले भी रश्मि ने दिल्ली में 3 किताबों में सह लेखिका का काम किया। रश्मि व्यास प्रख्यात गजलकार गुलजार को अपना प्रेरणास्त्रोत मानती है तथा शीघ्र ही अपने प्रकाशन के साथ गुलजार से मिलने का कार्यक्रम है।
रश्मि के पिता पूर्व पार्षद सुभाष व्यास ने बताया कि रश्मि की ओर से विगत 6 माह में यह संग्रह तैयार किया गया और शाहपुरा में पहली बालिका है। जिसकी मौलिक रचनाएं संग्रह के रूप में प्रकाशित हुई है।

Support us

कोई भी मीडिया हो उन्हें कभी फंड की चिंता नहीं करनी पड़ती क्यूंकि लोकतंत्र को बचाने के नाम पर उन्हें विभिन्न स्रोतों से पैसा मिलता है। लेकिन हमें सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके समर्थन की आवश्यकता है। आपसे जितना हो सके हमें योगदान करें ताकि हम आपके लिए आवाज उठा सकें।

Donate with

Check Also

भीलवाड़ा जिला कलेक्टर पहुंचे मृतकों के घर परिजनों को दी सांत्वना, सौंपे सीएम सहायता राशि के चेक

चित्तौड़गढ़-कोटा राष्ट्रीय राजमार्ग दुर्घटना भीलवाड़ा जिला कलेक्टर पहुंचे मृतकों के घर परिजनों को दी सांत्वना, …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *