Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / मथुरा / जब पुलिस से ही पुलिस को न्याय ना मिल पाए । तो बेचारी जनता कहां जाए

जब पुलिस से ही पुलिस को न्याय ना मिल पाए । तो बेचारी जनता कहां जाए

जब पुलिस से ही पुलिस को न्याय ना मिल पाए । तो बेचारी जनता कहां जाए

बीओ : हमें तो अपनों ने लूटा गैरों में कहां दम था मेरी कश्ती भी डूबी वहां जहां पानी कम था। ऐसी पंक्तियां आजकल चरितार्थ हो रही है गोवर्धन थाना क्षेत्र की पुलिस पर जहां पुलिस विभाग में काम करने वाले कर्मचारी को ही न्याय नहीं मिल पा रहा तो बेचारी जनता पुलिस पर भरोसा करें तो कैसे करें। जी हां मामला है थाना मगोर्रा क्षेत्र का जहां तैनात होमगार्ड निगुण सिंह 100 पे तैनात है। मलूह गांव में झगड़े की सूचना पर जब वह अपने साथी पुलिस वालों के साथ पहुंचे तो वहां दबंग लोगों ने उनके साथ मारपीट कर दी और उनका पैर तोड़ दिया थाना मगोर्रा में उन्होंने इसकी शिकायत कर मुकदमा दर्ज कराया लेकिन 2 महीने बीत जाने के बाद भी आज तक इस मामले में गरीब होमगार्ड की कोई सुनवाई नहीं हो पाई है हार कर वह गोवर्धन क्षेत्राधिकारी वरुण कुमार सिंह के यहां फरियाद लेकर आए लेकिन वहां भी उनकी मुलाकात 12:00 बजे तक सीओ साहब से नहीं हो पाई तो मायूस होकर उन्हें लौटना पड़ा होमगार्ड का आरोप है कि थाना मगोर्रा में तैनात एसआई नीतू सिंह ने उनके बयान दर्ज कर लिए लेकिन ना तो उसमें कोई कार्यवाही की और ना ही फरियादी को उनके बयान की कॉपी दी गई जिससे उसे पता चले कि उसमें क्या कार्यवाही की गई अब इससे क्या कहें पुलिस विभाग की अपने ही कर्मचारियों के प्रति उदासीनता या अपने कार्य के प्रति निष्क्रियता । देखना होगा वरिष्ठ अधिकारी इस मामले को कितनी जल्दी संज्ञान में लेकर गरीब होमगार्ड को न्याय दिला पाते हैं और आम जनता को न्याय का संदेश दे पाते हैं।

About Ravi Verma

Check Also

गोवर्धन में लॉक डाउन का पालन कराने पहुंची पुलिस पर किया हमला

गोवर्धन में लॉक डाउन का पालन कराने पहुंची पुलिस पर किया हमला गोवर्धन …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *