Breaking News
Home / देश / जानिए, 21 दिन के लॉकडाउन में क्या-क्या खुला रहेगा और क्या रहेगा बंद

जानिए, 21 दिन के लॉकडाउन में क्या-क्या खुला रहेगा और क्या रहेगा बंद

जानिए, 21 दिन के लॉकडाउन में क्या-क्या खुला रहेगा और क्या रहेगा बंद

कोरोना वायरस के संकट को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को बड़ा ऐलान करते हुए पूरे देश में लॉकडाउन की घोषणा की है. यह लॉकडाउन मंगलवार रात 12 बजे से लागू हो जाएगा. यानि आज रात से घर से निकलने पर पाबंदी होगी. लेकिन इस दौरान आवश्यकत सेवाएं जारी रहेंगी. आपको बताते हैं कि ये कौन कौन सी सेवाएं हैं जो इन 21 दिनों तक बिना किसी रुकावट के जारी रहेंगी.

इन सेवाओं को किया जाएगा बंद

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने डॉकडाउन को लेकर गाइडलाइन जारी की है. इसके मुताबिक सभी सरकारी और और निजी दफ्तर बंद रहेंगे.सभी तरह के शिक्षण संस्थान. रेल सेवा और बस परिवहन बंद रहेंगे.ऑटो और कैब सर्विस बंद रहेगी. किसी के भी अंतिम संस्कार में केवल 20 लोगों के जाने की इजाजत होगी.

– केंद्र-राज्य सरकार के दफ्तर

– प्राइवेट दफ्तर

– दुकानें और व्यावसायिक प्रतिष्ठान

– फैक्ट्री, कारखाने

– रेल सेवा, बस परिवहन

– हवाई सेवा

– ऑटो, कैब सर्विस

– सभी तरह के शैक्षणिक संस्थान

– धार्मिक स्थल

ये सेवाएं बिना विलंब जारी रहेगी

इमरजेंसी सेवा और आपदा प्रबंधन पर लॉकडाउन का असर नहीं होगा. 21 दिन के लॉकडाउन में क्या-क्या खुले रहेंगे?

– अस्पताल, क्लिनिक

– दवा की दुकानें

– बैंक, इंश्योरेंस दफ्तर

– ATM

– पेट्रोल पंप, CNG स्टेशन

– एलपीजी गैस सेंटर

– राशन की दुकानें

– दूध, सब्जी से जुड़ी दुकानें

– बिजली, जल विभाग

– नगर निगम, नगर पालिका

– प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया

– प्राइवेट सिक्योरिटी सर्विस

– कोल्ड स्टोरेज और गोदाम

– जानवरों के चारे की दुकान

लॉकडाउन के दौरान क्या चलेगा

– सिर्फ ज़रूरी सामानों का ट्रांसपोर्ट पैसेंजर, लोकल ट्रेन

– एंबुलेंस

– मेडिकल स्टाफ का ट्रांसपोर्ट

– एटीएम और कैश का ट्रांसपोर्ट

– दूध, फल, सब्जी से जुड़े ट्रांसपोर्ट

लॉकडाउन के दौरान क्या नहीं चलेगा

– पैसेंजर, लोकल ट्रेन

– बस, एयरलाइंस

– ऑटो

– टैक्सी, कैब

– कार, बाइक

About Deepak Dubey

www.ggcportal.com

Check Also

960 विदेशियों को ब्लैक किया लिस्ट - COVID-19

960 विदेशियों को ब्लैक किया लिस्ट – COVID-19

गृह मंत्रालय द्वारा पर्यटक वीजा पर तब्लीगी गतिविधियों में लिप्त पाए जाने के कारण 960 …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *