Home / उत्तर प्रदेश / जिलाधिकारी ने तहसील इकौना का किया निरीक्षण-उत्तर प्रदेश

जिलाधिकारी ने तहसील इकौना का किया निरीक्षण-उत्तर प्रदेश

जिलाधिकारी ने तहसील इकौना का किया निरीक्षण    

श्रावस्ती।14 फरवरी,2020/सू0वि0/जिलाधिकारी सुश्री यशु रुस्तगी ने तहसील इकौना का निरीक्षण किया।निरीक्षण के दौरान जिला अधिकारी ने तामीला रजिस्टर, स्टॉक रजिस्टर, स्टॉक पंजिका,नीलामी पंजिका,रिट पंजिका,डेड स्टॉक पंजिका,वरासत पंजिका सहित अभिलेखागार,संग्रह अनुभाग सहित कई कर्मचारियों की जी पी एफ पासबुक एवं खतौनी काउंटर का निरीक्षण के साथ ही तहसील कैम्पस का भी मुआयना किया।निरीक्षण के दौरान यह पाया गया कि न्यायालयो से भेजे जाने वाले परवाना अमल दरामद का अंकन अभिलेखों में समय से नही किया जा रहा है इस प्रकरण को गम्भीरता से लेते हुए सुधार लाने का निर्देश जिलाधिकारी ने दिया है।वही जिलाधिकारी द्वारा 2019-20 में सेवा निवृत्त कर्मचारियों के बारे में जानकारी लेने पर ज्ञात हुआ कि 02 लेखपाल 31 जनवरी को सेवा निवृत्त हो चुके है,इनके देयकों के भुगतान के सम्बंध में यह ज्ञात हुआ कि इनके प्रपत्र 03 माह पूर्व महालेखा कार उत्तरप्रदेश प्रयागराज भेजा गया है जबकि नियमतः सेवानिवृत्त से 06 माह पूर्व आवश्यक कार्यवाही हेतु भेज जाना चाहिए था, इस प्रकरण को गम्भीरता से लेते हुए जिला अधिकारी ने सम्बन्धित रजिस्टार कानूनगो को निर्देश दिया कि भविष्य में इस प्रकार की शिथिलता कदापि न बरती जाय, इसका ध्यान रखा जाय। अभिलेखागार के निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी ने कई वस्तो को खुलवाकर देखा तथा साफ सफाई रखने पर विशेष बल दिया।                        

        तहसील निरीक्षण के दौरान ही जिलाधिकारी ने कुम्हारी कला के 07,आवास के 39,कृषि के 09एवं पौधरोपण हेतु 01 पट्टा प्रमाणपत्र पात्र जनो को प्रदान किया।।                          

   इस दौरान जिलाधिकारी ने पट्टा धारको को सम्बोधित करते हुए कहा कि समाज के चहुमुखी विकास में शिक्षा की महत्वपूर्ण भूमिका है,इसलिए सभी लोग अपने बच्चों को अवश्य पढाये,और सीमित परिवार पर भी ध्यान दिया जाय ताकि बेहतर ढंग से सभी लोग अपने बच्चों का पालन पोषण कर उन्हें बेहतर ढंग से पढ़ा लिखा कर उनका भविष्य उज्जवल हो सके।

                  निरीक्षण के दौरान उपजिलाधिकारी राजेश कुमार मिश्रा, तहसीलदार शिवध्यान पांडेय, नायब तहसील दार मुकेश शर्मा उपस्थित रहे।

Support us

कोई भी मीडिया हो उन्हें कभी फंड की चिंता नहीं करनी पड़ती क्यूंकि लोकतंत्र को बचाने के नाम पर उन्हें विभिन्न स्रोतों से पैसा मिलता है। लेकिन हमें सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके समर्थन की आवश्यकता है। आपसे जितना हो सके हमें योगदान करें ताकि हम आपके लिए आवाज उठा सकें।

Donate with

Check Also

नाबालिग ने सोशल मीडिया पर योगी आदित्यनाथ की आपत्तिजनक तस्वीर की पोस्ट, मामला दर्ज

बलिया, 14 अक्टूबर । सोशल मीडिया पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की आपत्तिजनक तस्वीर डालने एवं …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *