Home / राजस्थान / टोंक / जैसा बोओगे वैसा ही काटोगे – निरंकारी संत

जैसा बोओगे वैसा ही काटोगे – निरंकारी संत

जैसा बोओगे वैसा ही काटोगे – निरंकारी संत

टोंक, संत निरंकारी सत्संग भवन पाँच बŸाी टोंक में रविवार को विशाल आध्यात्मिक सत्संग का आयोजन जोनल ईंचार्ज फूलचंद बजाज के सानिध्य में किया गया।

उपस्थित श्रृद्धालुओं को सम्बोधित करते हुए संत बजाज ने कहा कि प्रभू सर्वत्र समाया है, संसार में जीवन यापन करते हूए भी हमें यह याद रखना है कि ये सृष्टि परमात्मा की बनाई हुई है और इसपे बसने वाला हर इंसान परमात्मा की संतान है तो जब हम किसी का भला या बूरा करते है तो यह अवश्य ध्यान रखें कि परमात्मा जो कण-कण में समाया है वह भी मेरे कर्मो को देख रहा है जब हम प्रभू की भक्ति करते है, इसकी इबादत करते है तो यह हर घट में रमा हूआ परमात्मा माजूद होता है और जब हम किसी को धोखा दे रहे होते है या कोई गुनाह कर रहे होते है तो यह भी ध्यान रखे कि यह परमात्मा तब भी हमें देख रहा है। हम संसार की नजरों से भले ही बच जायें पर कण-कण में रमे राम से हम कुछ नहीं छिपा सकते है। इसलिये कहा भी जाता है कि ‘जैसे बोओगे वैसा ही काटोगे‘ इसलिये संतो-महापूरषों द्वारा हमेंशा से ही अच्छे कर्म करने की प्रेरणा दी जाती है। मिडिया सहायक सीताराम खंगार ने बताया कि सत्संग में कई रचना, कविता, विचारों द्वारा अनेको श्रृद्वालुओं ने भी अपने भाव प्रस्तूत किये।

Check Also

टोंक जेल में चौथ वसुली को लेकर की शिकायत टोंक

जिला कारागृह टोंक में बंद बंदियों के परिजनों ने जिला कलेक्टर एवं जिला पुलिस अधीक्षक …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *