Home / उत्तराखंड / डी.एम. स्वाति एस. भदौरिया की अभिनव पहल से जल्द बनेगा जिलासु- लंगासु आयुर्वेदा विलेज-चमोली 
डी.एम. स्वाति एस. भदौरिया की अभिनव पहल से जल्द बनेगा जिलासु- लंगासु आयुर्वेदा विलेज-चमोली 
डी.एम. स्वाति एस. भदौरिया की अभिनव पहल से जल्द बनेगा जिलासु- लंगासु आयुर्वेदा विलेज-चमोली 

डी.एम. स्वाति एस. भदौरिया की अभिनव पहल से जल्द बनेगा जिलासु- लंगासु आयुर्वेदा विलेज-चमोली 

डी.एम. स्वाति एस. भदौरिया की अभिनव पहल से जल्द बनेगा जिलासु- लंगासु आयुर्वेदा विलेज-चमोली

जिलाधिकारी स्वाति एस भदौरिया के प्रयासों से चमोली में जिलासू-लंगासू जल्द ही आयुर्वेदा विलेज के रूप में देखने को मिलेगा। कुछ दिनों में पूरा जिलासू व लंगासू क्षेत्र एक नया टूरिस्ट डेस्टिनेशन बनकर उभरेगा और पर्यटकों को यहाँ पर पहाड की लाइफ का अनुभव मिलेगा। यहाँ पर आयुर्वेदा विलेज के तहत पंचकर्मा हाँल, मेडिटेशन सेंटर, योगा सेंटर, हर्बल गार्डन, ईको पार्क, रीवर व्यू प्वांइट, पहाडी शैली में होम स्टे का निर्माण  कार्य चल रहा है, जबकि ग्रामीण हाट बनकर लगभग तैयार हो चुका है।

शुक्रवार को जिलाधिकारी स्वाति एस भदौरिया ने आला अधिकारियों के साथ जिलासू का भ्रमण कर निर्माण कार्यो का निरीक्षण किया। उन्होंने जिलासू में पहाडी शैली में निर्माणाधीन होम-स्टे एवं ग्रामीण हाट के निर्माण कार्यो को गुणवत्ता के साथ जल्द पूरा कराने के निर्देश दिए। जिलासू में ग्रामीण हाट ब्लाक को हैडओवर कर अच्छे तरीके से संचालन कराने की बात कही। ताकि स्थानीय काश्तकारों एवं लोगों को ग्रामीण हाट से भरपूर लाभ मिल सके। जिलासू में लगभग 13 लाख की लागत से खूबसूरत पहाडी शैली में होमस्टे भी बनाया जा रहा है ताकि यहाँ पर पर्यटकों को पहाडी जीवन का अनुभव मिल सके। जिलाधिकारी ने पर्यटन अधिकारी को जिलासू में एक और बडा सा होमस्टे निर्माण हेतु अगली जिला योजना में प्रस्ताव उपलब्ध कराने के भी निर्देश दिए।

पर्यटकों को अलकनंदा नदी की लहरों का करीब से दीदार हो सके इसके लिए जिलासू में रीवर ब्यू प्वाइंट भी तैयार किया जा रहा है। लगभग 70 मीटर के रीवर ब्यू प्वाइंट में आस्था पथ बनकर तैयार हो चुका है। निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी ने रीवर ब्यू प्वांइट में प्रवेश द्वार को आकर्षक एवं सुन्दर ढंग से निर्माण कराने, इंड सीटिंग बैंच एवं राउंड कैनोपी बनवाने, बीच में पत्थरों को रंगरोगन कराने, बीच के पास मंदिर का सौन्दर्यीकरण कराने, झाडियों की सफाई कराने तथा नदी के किनारे आंवले के पौधे लगाने के निर्देश दिए। जिलासू में रीवर ब्यू प्वाइंट पर आस्था पथ का निर्माण कार्य पूरा हो चुका है और जल्द ही यह टूरिस्ट डेस्टिनेशन के रूप में संचालित किया जाएगा। जिलाधिकारी ने बांस एवं रेशा विकास बोर्ड को नंदाकिनी स्वायत सहकारिता से जुड़ी महिलाओं के साथ प्रोफिट शेयर करने पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि संस्थान से जुड़ी महिलाएं जितना काम करती है उसी हिसाब से उसको प्रोफिट भी मिलना चाहिए, ताकि महिलाएं इससे जुडी महिलाएं अच्छी आजीविका अर्जित कर सके। उन्होंने मुख्य विकास अधिकारी से यहाॅ पर काम करने वाली महिलाओं को एकीकृत आजीविका सहायता परियोजना के आधार पर महिलाओं में प्रोफिट शेयर की व्यवस्था कराने को कहा। साथ ही उन्होंने महिलाओं को कंडाली के रेशों से अधिक से अधिक कपडो का स्टाक तैयार करने के लिए प्रोत्साहित किया। कहा कि आगामी गौचर मेले में कंडाली से बने उत्पादों के विपणन की व्यवस्था कराई जाएगी, ताकि इस कार्य से जुड़ी महिलाओं को सीधा लाभ मिल सके।

रिपोर्ट : नवीन भंडारी

Support us

कोई भी मीडिया हो उन्हें कभी फंड की चिंता नहीं करनी पड़ती क्यूंकि लोकतंत्र को बचाने के नाम पर उन्हें विभिन्न स्रोतों से पैसा मिलता है। लेकिन हमें सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके समर्थन की आवश्यकता है। आपसे जितना हो सके हमें योगदान करें ताकि हम आपके लिए आवाज उठा सकें।

Donate with

Check Also

उत्तराखंड में शुरू हुई चार धाम यात्रा को लेकर जिलाधिकारी स्वाति एस भदौरिया व्यवस्थाओं का जायजा लिया।

उत्तराखंड में शुरू हुई चार धाम यात्रा को लेकर जिलाधिकारी स्वाति एस भदौरिया ने बुधवार …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *