Home / उत्तर प्रदेश / डॉ कफील के मामा नुसुरुल्लाह की गोली मारकर हत्या-गोरखपुर

डॉ कफील के मामा नुसुरुल्लाह की गोली मारकर हत्या-गोरखपुर

गोरखपुर : डॉ कफील के मामा नुसुरुल्लाह की गोली मारकर हत्या

गोरखपुर राजघाट क्षेत्र के अलहदादपुर, बनकटीचक में शनिवार की देर रात डॉ. कफील अहमद के मामा नुसरतुल्लाह वारसी उर्फ दादा (55) की गोली मारकर हत्या कर दी गई।…

 राजघाट क्षेत्र के अलहदादपुर, बनकटीचक में शनिवार की देर रात डॉ. कफील अहमद के मामा नुसरतुल्लाह वारसी उर्फ दादा (55) की गोली मारकर हत्या कर दी गई। हत्या के पीछे वजह प्रापर्टी विवाद की बताई जा रही है। घटना की सूचना मिलते ही एसएसपी डॉ. सुनील गुप्ता, एसपी सिटी डॉ. कौस्तुभ पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे। फॉरेंसिक टीम ने भी घटनास्थल पर पहुंच कर साक्ष्य जुटाये।

बीआरडी मेडिकल कॉलेज में ऑक्सीजन कांड से चर्चा में आए डॉ. कफील के मामा अलहदादपुर, बनकटीचक निवासी नुसरतुल्ला वारसी की शहर में कई जगह प्रापर्टी है। वह रोज की भांति अपने मकान से थोड़ी दूरी पर सिराज तारिक वकील के घर कैरम खेलने गए थे। वह कैरम खेल कर रात तकरीबन 10.45 बजे घर के लिए निकले। वह मकान के बगल में स्थित मकबरे के मुख्य गेट पर पहुंचे तो एक युवक पहले से खड़ा था। वह उसके कंधे पर हाथ रख कर बात करते हुए गेट के अंदर गए। अंदर पर पहुंचते ही युवक ने तमंचा निकाल लिया। वह उसकी मंशा समझकर भाग पाते कि उससे उसने दौड़ा कर उनकी खोपड़ी में गोली मार दी। जिससे मौके पर ही उनकी मौत हो गई। गोली चलने की आवाज सुनकर जब तक आसपास के लोग पहुंचते हमलावर फरार हो चुका था। घटना की सूचना मिलते ही एसएसपी, एसपी सिटी, सीओ कोतवाली, सीओ क्राइम के अलावा राजघाट, कोतवाली पुलिस मौके पर पहुंच कर जांच पड़ताल शुरू कर दी। घटनास्थल पर फॉरेंसिक टीम ने भी पहुंच कर साक्ष्य जुटाये। देर रात पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा।

ब्यूरो रिपोर्ट उत्तर प्रदेश

Support us

कोई भी मीडिया हो उन्हें कभी फंड की चिंता नहीं करनी पड़ती क्यूंकि लोकतंत्र को बचाने के नाम पर उन्हें विभिन्न स्रोतों से पैसा मिलता है। लेकिन हमें सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके समर्थन की आवश्यकता है। आपसे जितना हो सके हमें योगदान करें ताकि हम आपके लिए आवाज उठा सकें।

Donate with

Check Also

नाबालिग ने सोशल मीडिया पर योगी आदित्यनाथ की आपत्तिजनक तस्वीर की पोस्ट, मामला दर्ज

बलिया, 14 अक्टूबर । सोशल मीडिया पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की आपत्तिजनक तस्वीर डालने एवं …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *