Home / उत्तर प्रदेश / कुशीनगर / दिल्ली से घर वापसी कर रहे लोगों की मदद को बढ़े कई हाथ

दिल्ली से घर वापसी कर रहे लोगों की मदद को बढ़े कई हाथ

हिंदी हैं हम वतन हैं, हिन्दोस्तां हमारा

दिल्ली से घर वापसी कर रहे लोगों की मदद को बढ़े कई हाथ

कोरोना संक्रमण को देखते हुए देश में चल रहे लाकडाउन के मद्देनजर पंजाब हरियाणा और दिल्ली में रहने वाले यूपी के कामगारों को उनके गंतव्य तक पहुंचाने का सिलसिला उत्तर प्रदेश सरकार ने शुरू कर दिया। रविवार को इसी क्रम में गोरखपुर में उत्तर प्रदेश परिवहन निगम की बसों द्वारा दिल्ली यूपी के बॉर्डर पर फंसे मजदूरों को गोरखपुर लाया गया । शहर में प्रवेश करने से पहले इन्हें नौसढ़ पुलिस चौकी के पास बसों से उतारकर थर्मल स्कैनिंग के बाद उनकी मंज़िल की लिए रवाना कर दिया गया। 

गोरखपुर आये हुए ये यात्री यहां से देवरिया कुशीनगर और महराजगंज स्थित अपने घरों तक छोटे-छोटे समूह में पैदल ही बढ़ चले।  

रास्ते में कुछ लोग बिना इनकी पहचान और मज़हब पूछे इन्हें पानी बिस्कुट और फल बांट रहे थे।

जाति और मज़हब कि सीमाओं से निकलकर मुश्किल दौर से गुज़र रहे इन भारतीयों को दूसरे भारतीयों द्वारा छोटी सी मदद देने का मंजर देख कर बचपन में सुनी अल्लामा इक़बाल के तराने की ये लाइनें कि "मज़हब नही सिखाता आपस में बैर रखना, हिंदी हैं हम वतन हैं, हिन्दोस्तां हमारा" ज़ेहन में एक बार फिर ताज़ा हो गई।

Support us

कोई भी मीडिया हो उन्हें कभी फंड की चिंता नहीं करनी पड़ती क्यूंकि लोकतंत्र को बचाने के नाम पर उन्हें विभिन्न स्रोतों से पैसा मिलता है। लेकिन हमें सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके समर्थन की आवश्यकता है। आपसे जितना हो सके हमें योगदान करें ताकि हम आपके लिए आवाज उठा सकें।

Donate with

Check Also

लॉक डाउन:को लेकर लोगों को घरों में रहने के लिये पुलिस प्रशासन का निर्देश-कुशीनगर

कुशीनगर उत्तर प्रदेश  लॉक डाउन:को लेकर लोगों को घरों में रहने के लिये पुलिस …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *