Breaking News
Home / राजस्थान / अजमेर / देश विदेश में बनी अजमेर डिस्काॅम के ‘‘स्काडा‘‘ सिस्टम की पहचान

देश विदेश में बनी अजमेर डिस्काॅम के ‘‘स्काडा‘‘ सिस्टम की पहचान

देश विदेश में बनी अजमेर डिस्काॅम के ‘‘स्काडा‘‘ सिस्टम की पहचान

केन्द्रीय ऊर्जा मंत्राी व टाॅप ब्यूरोक्रेट्स ने की सराहना

नोएडा में आयोजित अन्तर्राष्ट्रीय काॅन्फ्रेंस इलैक्रामा-2020 में हुआ प्रदर्शन

अजमेर, 21 जनवरी। अजमेर शहर की बिजली व्यवस्था को माॅनिटर करने एवं फाॅल्ट की शिकायत पर तुरन्त रेस्पाॅन्स देने वाले स्काडा सिस्टम को देश विदेश में नई पहचान मिली है। केन्द्रीय ऊर्जा मंत्राी सहित देश के टाॅप ब्यूरोक्रेट्स और विद्युत व्यवस्था से जुडे विशेषज्ञो ने इस प्रणाली को बेहतरीन बताते हुए इसे अपने अपने क्षेत्रों में लागू करने की जरूरत बताई है। इसी तर्ज पर अजमेर डिस्काॅम द्वारा 66 शहरों में कार्य किया जा रहा है।

केन्द्रीय ऊर्जा मंत्रालय द्वारा नोएडा में आयोजित अंतर्राष्ट्रीय काॅन्फ्रेस इलैक्रामा-2020 में अजमेर डिस्काॅम ने स्काडा सिस्टम प्रदर्शित किया। प्रबंध निदेशक श्री वी एस भाटी ने बताया कि इसमें बिजली सिस्टम का लाइव डेमो दिया गया। स्काडा सिस्टम को केन्द्रीय ऊर्जा मंत्राी श्री आर के सिंह, पावर फाइनेंस काॅरर्पोरेशन की कार्यकारी निदेशक पल्का साहनी, राज्य के ऊर्जा सचिव श्री कुंजी लाल मीणा सहित देशी एवं विदेशी कंपनियांे के प्रतिनिधियों तथा टाॅप ब्यूरोक्रेट्स ने सराहा।

प्रबंध निदेशक श्री भाटी ने बताया कि केन्द्रीयकृत नियंत्राण प्रणाली स्काडा वर्ष 2017 से अजमेर शहर में संचालित है। मई, 2018 में स्काडा का अजमेर में स्वतंत्रा मूल्यांकन थर्ड पार्टी पावर फाइनेंस काॅरर्पोरेशन द्वारा सफलता पूर्वक पूरा किया गया। स्काडा प्रणाली के तहत ट्रिपिंग के रिस्टोरेशन में सुधार किया गया जो कि पिछले साल 11.9 प्रतिशत से बढ़कर इस साल 71 प्रतिशत हो गया है। साथ ही औसत रिस्टोरेशन टाईम 5.51 मिनट के लक्ष्य को प्राप्त कर लिया गया है। इस प्रणाली से वित्त वर्ष 2019-20 के 9 महीनों में ट्रिपिंग की औसल बहाली के समय में कमी करके 14 लाख यूनिट विद्युत शक्ति को बचाया गया है, जिससे छीजत भी कम हुई।

प्रबंध निदेशक श्री भाटी ने बताया कि आरटी-डास (आईपीडीएस) परियोजनाओं के तहत 66 शहरों मंे अजमेर डिस्काॅम द्वारा इसी तरह का काम शुरू किया जा चुका है। आरटी-डास प्रोजेक्ट स्कोप और कार्यक्षमता को भी इलैक्रामा-2020 में अजमेर डिस्काॅम द्वारा प्रदर्शित किया गया। इलैक्रामा में विश्व में बिजली क्षेत्रा में किए जा रहे नवाचार व नई तकनीक पर भी मंथन किया गया।

इस मौके पर निदेशक तकनीक श्री एम बी पालीवाल, संभागीय मुख्य अभियंता श्री एन एस निर्वाण, मुख्य अभियंता(मुख्यालय) श्री के एस सिसोदिया, ओएसडी (आईटी) श्री सी पी गांधी सहित अजमेर डिस्काॅम के अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

About मूलचन्द पेसवानी

Check Also

Nasirabad : तीन डेंगू पॉजीटिव रोगी मिले

नसीराबाद ( अजमेर ) . छावनी क्षेत्र में मच्छरों के प्रकोप से इन दिनों डेंगू …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *