Home / राजस्थान / धौलपुर / धरना प्रदर्शन कर दिया ज्ञापन-धौलपुर

धरना प्रदर्शन कर दिया ज्ञापन-धौलपुर

धरना प्रदर्शन कर दिया ज्ञापन

धौलपुर अखिल राजस्थान राज्य कर्मचारी संयुक्त महासंघ (एकीकृत) के द्वारा जिला कलक्ट्रेट पर जिला अध्यक्ष चन्द्रभान चौधरी की अध्यक्षता में धरना प्रदर्शन कर मुख्यमंत्री के नाम जिला कलेक्टर राकेश जायसवाल को ज्ञापन दिया।

धरना को संबोधित करते हुए जिला अध्यक्ष चन्द्रभान चौधरी ने कहा कि राज्य सरकार पर कर्मचारियों की अनदेखी करने का आरोप लगाते हुए

कर्मचारियों की प्रमुख मांगों में जुलाई 2017 से देय 5% महंगाई भत्ते की घोषणा करना, सामंत कमेटी की रिपोर्ट प्रकाशित करना, राज्य कर्मचारियों के वेतन कटौती के आदेश निरस्त करना, सातवें वेतन आयोग में ग्रेड पे 2400 व 2800 के लिए बनाए गए पे लेवल क्रमशः एल 5, एल 6, एल 7 व एल 8, एल 9 को समाप्त कर केंद्र के सातवें वेतन आयोग के अनुरूप पे मैट्रिक्स निर्धारित करना है।जिला महामंत्री योगेश पाण्डे ने वर्ष 2004 के बाद नियुक्त राज्य कर्मचारियों के लिए नई पेंशन योजना के स्थान पर पुरानी पेंशन योजना लागू करना, मंत्रलायिक कर्मचारियों के 26 हजार पद पुनः सर्जित करने, कांग्रेस के जन घोषणा पत्र 2018 के अनुरूप सभी संविदा कर्मियों एवं अस्थाई कर्मचारियों को नियमित करना आदि शामिल है। 

इस दौरान धरना प्रदर्शन को रेसला जिला अध्यक्ष रतनसिंह लोधा, वीटीएसए जिला अध्यक्ष घनश्याम शर्मा, राजस्थान नर्सिंग एसोसिएशन एकीकृत- महेश गोस्वामी, चिकित्सा महासंघ ओमप्रकाश मंगल शिक्षक संघ एकीकृत रेखा शर्मा, कम्प्यूटर कर्मचारी संघ- दीवानसिंह, शिक्षक संघ अम्बेडकर पोपसिंह गुर्जर, जलदाय विभाग से ओमनरेश, मंत्रलायिक कर्मचारी संघ एम्बुलेंस सेवा- केशवदेव शर्मा, प्रबोधक संघ से प्रभात शर्मा, न्यू पेंशन स्कीम एम्पलायज फेडरेशन से मनोज पोसवाल, कृषि पर्यवेक्षक संघ देवेन्द्र परमार, आयुर्वेदिक विभाग से गोपाल शर्मा, पटवार संघ रामनिवास, भारत गुर्जर, गंगाराम गुर्जर आदि को संबोधित किया।

इस दौरान प्रीति परमार, प्रमोद पराशर, कप्तान सिंह, सतीश,

अभिषेक, महेश चंद,राघवेंद्र, होमेश्वर, देवेंद्र कुंतल, राजू परमार राघवेंद्र, रघुवीर, कुशल सिंह, शशि पाल, रीना चौधरी, कमलेश चौधरी, नीतू अग्रवाल,

मेघसिंह, रामेश्वर, आदि उपस्थित रहे।

Support us

कोई भी मीडिया हो उन्हें कभी फंड की चिंता नहीं करनी पड़ती क्यूंकि लोकतंत्र को बचाने के नाम पर उन्हें विभिन्न स्रोतों से पैसा मिलता है। लेकिन हमें सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके समर्थन की आवश्यकता है। आपसे जितना हो सके हमें योगदान करें ताकि हम आपके लिए आवाज उठा सकें।

Donate with

Check Also

रेलवे ट्रैक बाधित करने वालों पर रेलवे प्रशासन व आरपीएफ करेगी केस दर्ज

गुर्जर आरक्षण आंदोलन के चलते आज रेलवे प्रशासन व आरपीएफ ने बड़ा फैसला लिया है। …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *