Breaking News
Home / राजस्थान / राजसमंद / नए कृषि विधेयक को गांव की चैपाल तक ले जाने की तैयारी

नए कृषि विधेयक को गांव की चैपाल तक ले जाने की तैयारी

नए कृषि विधेयक को गांव की चैपाल तक ले जाने की तैयारी

राजसमन्द 29 सितम्बर। (राजेष षर्मा)। कांग्रेस पर जनता को बरगलाने का आरोप लगाते हुए सांसद दीयाकुमारी ने कहा कि मानसून सत्र में मोदी सरकार द्वारा पारित किए गया कृषि बिल, देश के किसानों का भाग्य बदल देगा।

सांसद दीया ने कहा कि आत्म निर्भर भारत बनाने से पहले हमें किसानों को आत्मनिर्भर बनाना होगा और इसी सोच को साकार रूप देने के लिए मोदी सरकार ने नया कृषि विधेयक संसद में पेश किया था। दोपहर वीसी के माध्यम से क्षेत्र के प्रमुख जनप्रतिनिधियों, पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं को सम्बोधित करते हुए सांसद दीयाकुमारी ने कृषि बिल के लाभ हानि बताते हुए कहा कि जो किसानों की मेहनत को बट्टा लगाने वाले लोग हैं, जो दलाली खाने वाले लोग हैं उन्हें जरूर हानि है, क्योंकि अब बिचैलियों की भूमिका समाप्त हो जाएगी। किसान स्वयं अपना माल अपनी पूरी स्वतंत्रता के साथ पूरी कीमत पर बेच सकेगें और न्यूनतम खरीद मूल्य में किसी तरह का परिवर्तन नहीं होगा पूर्व की भांति लागू रहेगी।

नए कृषि कानून के तहत किसान अपनी फसल का सौदा पहले भी कर सकता है, जमीन को गिरवी रखने की कोई आवश्यकता नहीं होगी। नए कृषि कानून को मंडल और बूथ के अलावा चैपाल स्तर तक ले जाकर इसकी अच्छाइयों को आम जनता और किसानों को बताया जाएगा। वीसी में जिलाध्यक्ष वीरेंद्र पुरोहित, जिला कार्यकारणी सदस्य, जनप्रतिनिधि, मण्डल अध्यक्ष, पूर्व जनप्रतिनिधि और पूर्व पदाधिकारी भी उपस्थित थे।

Support us

कोई भी मीडिया हो उन्हें कभी फंड की चिंता नहीं करनी पड़ती क्यूंकि लोकतंत्र को बचाने के नाम पर उन्हें विभिन्न स्रोतों से पैसा मिलता है। लेकिन हमें सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके समर्थन की आवश्यकता है। आपसे जितना हो सके हमें योगदान करें ताकि हम आपके लिए आवाज उठा सकें।

Donate with

Check Also

आभानेरी से गुर्जर पंचायत अपडेट- दौसा

आज दौसा के आभानेरी में गुर्जर महापंचायत का समापन हुआ। जिसमें पंच पटेलों ने जाम …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *