Home / उत्तर प्रदेश / कुशीनगर / नाबालिग युवती से दुराचार करने के प्रयास में युवक गया था जेल पीड़ित पिता का आरोप सीओ खड्डा को मिली थी विवेचना दो माह से सीओ का लगा रहा विवेचना फाइल के लिए चक्कर
नाबालिग युवती से दुराचार करने के प्रयास में युवक गया था जेल पीड़ित पिता का आरोप सीओ खड्डा को मिली थी विवेचना दो माह से सीओ का लगा रहा विवेचना फाइल के लिए चक्कर

नाबालिग युवती से दुराचार करने के प्रयास में युवक गया था जेल पीड़ित पिता का आरोप सीओ खड्डा को मिली थी विवेचना दो माह से सीओ का लगा रहा विवेचना फाइल के लिए चक्कर

कुशीनगर खड्डा। कुशीनगर जनपद के रामकोला थाना क्षेत्र के ग्राम पिपरा बुजुर्ग का एक ऐसा मामला प्रकाश में आया है जो हैरान करने वाली मामला मे आया है जो हैरान करने वाली नाबालिग युवती से 2 माह पूर्व 09/12/ 2019 को काल्पनिक नाम रेखा पुत्री बृजमोहन शाम 6:00 बजे सोच के लिए गई थी कि बैजनाथ पुत्र संतु यादव ने अकेले देख युवती से जोर जबरदस्ती करते हुए गन्ने के खेत में ले जाकर दुराचार करने का प्रयास करने लगा युवती के शोर मचाने पर शौच करने गई कुछ महिलाओं ने शोर सुनते ही घटनास्थल पर पहुंच गई नाबालिक युवती ने आप बीती बात परिजनों को बताई तो दंग रह गए इसकी सूचना थाना रामकोला को प्रार्थना पत्र देकर कार्यवाही की मांग की थाना अध्यक्ष ने मुकदमा दर्ज कर बैजनाथ को जेल भेज दिया अब मामला यहां तक आया है कि विवेचना के लिए फाइल सीईओ खड्डा सौंप दिया गया पीड़ित बृजमोहन का कहना है कि 2 माह से सीओ खड्डा के दफ्तर का विवेचना फाइल के लिए चक्कर लगा रहा हूं लेकिन वहां के कर्मचारियों का कहना है कि फाइल पता नहीं कहां है मिल जाएगा तो आपको बता दिया जाएगा पीड़ित बृजेश यादव का कहना है कि कहीं ना कहीं हमारे साथ अन्याय किया जा रहा है तभी तो घटना से संबंधित फाइल नहीं मिल रहा है कहीं ना कहीं गड़बड़ घोटाला तो जरूर है।

अबुलैस अंसारी ब्यूरो चीफ कुशीनगर

Support us

कोई भी मीडिया हो उन्हें कभी फंड की चिंता नहीं करनी पड़ती क्यूंकि लोकतंत्र को बचाने के नाम पर उन्हें विभिन्न स्रोतों से पैसा मिलता है। लेकिन हमें सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके समर्थन की आवश्यकता है। आपसे जितना हो सके हमें योगदान करें ताकि हम आपके लिए आवाज उठा सकें।

Donate with

Check Also

लॉक डाउन:को लेकर लोगों को घरों में रहने के लिये पुलिस प्रशासन का निर्देश-कुशीनगर

कुशीनगर उत्तर प्रदेश  लॉक डाउन:को लेकर लोगों को घरों में रहने के लिये पुलिस …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *