Home / राजस्थान / धौलपुर / नियम के मुताबिक टोल नहीं लेकर कर रहे अवैध वसूली |

नियम के मुताबिक टोल नहीं लेकर कर रहे अवैध वसूली |

नियम के मुताबिक टोल नहीं लेकर कर रहे अवैध वसूली

नेशनल हाईवे संख्या- 123 स्थित बने रजौराखुर्द टोल प्लाजा का मामला

गंगापुर सिटी न्यूज पोर्टल राजस्थान धौलपुर रिर्पोटर अमित कुमार उन्देरिया ने जानी टोल पर वाहन निकालकर टोल कर्मियों द्वारा की जा रही टोल के नाम पर अवैध वसूली खेल की एक हकीकत।

मिली जानकारी नियम के मुताबिक जिस जिले में टोल संचालित होता है उस जिले के टोल पर होकर गुजरने वाले कार मारुति जैसे अन्य हल्के वाहनों से टोल में पचास प्रतिशत छूट मिलने का प्रावधान है।

वहीं स्थानीय रजौराखुर्द और कैंथरी गांव के वाहन चालकों को पहचान के रुप में अपना आधार कार्ड़ बगैराह दिखाने पर टोल में छूट का भी प्रावधान है।

लेकिन इन सब नियमों को आज रजौराखुर्द टोल पर लगे टोल कर्मियों द्वारा अनदेखा और अनसुना कर वाहनों से टोल के नाम पर जबरन जबरदस्ती ज्यादा पैंसा लेकर एक अवैध वसूली का खेल खेला जा रहा है।

मामले की हकीकत को लेकर जब टोल पर स्थानीय रजौराखुर्द निवासी और गंगापुर सिटी न्यूज पोर्टल संवाददाता अमित कुमार उन्देरिया बोलरो जैसी एक धौलपुर जिला नंबर पास महिन्द्रा कम्पनी की टीयूवी तीन सौ गाडी

निकालकर सिंगल जर्नी पर टोल कर्मियों द्वारा गाडी़ से लिये गये 60 रुपये को लेकर हकीकत को देखा जाना और समझा।

कि सचमुच में रजौराखुर्द टोल पर टोल कर्मियों द्वारा ज्यादा पैंसा लेकर आज टोल के नाम पर एक अवैध वसूली का खेल खेला जा रहा है।

वहीं रिर्पोटर अमित कुमार उन्देरिया ने मामले की और हकीकत लेकर टोल रसीद पर दिये गये हेल्पलाईन नंबर-1033 पर फोन कर बात की पता चला कि कार जैसे वाहनों के सिंगल जर्नी टोल का लिया जाने वाला पचपन रुपया है।

आपसे पचपन रुपये की जगह साठ रुपया लेकर टोल कर्मियों ने पांच रुपया ज्यादा लिया है।

आपकी शिकायत दर्ज कर ले रहे हैं।

Support us

कोई भी मीडिया हो उन्हें कभी फंड की चिंता नहीं करनी पड़ती क्यूंकि लोकतंत्र को बचाने के नाम पर उन्हें विभिन्न स्रोतों से पैसा मिलता है। लेकिन हमें सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके समर्थन की आवश्यकता है। आपसे जितना हो सके हमें योगदान करें ताकि हम आपके लिए आवाज उठा सकें।

Donate with

Check Also

रेलवे ट्रैक बाधित करने वालों पर रेलवे प्रशासन व आरपीएफ करेगी केस दर्ज

गुर्जर आरक्षण आंदोलन के चलते आज रेलवे प्रशासन व आरपीएफ ने बड़ा फैसला लिया है। …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *