Breaking News
Home / राजस्थान / सवाई माधोपुर / निर्माण कार्याे में क्वालिटी से समझौता नहीं होगा बर्दाश्तः कलेक्टर

निर्माण कार्याे में क्वालिटी से समझौता नहीं होगा बर्दाश्तः कलेक्टर

सार्वजनिक निर्माण विभाग, रूडीप एवं नगर परिषद के कार्याे की प्रगति समीक्षा कर दिए निर्देश

निर्माण कार्याे में क्वालिटी से समझौता नहीं होगा बर्दाश्तः कलेक्टर 

सवाई माधोपुर, 19 नवंबर। जिला कलेक्टर नन्नूमल पहाडिया की अध्यक्षता में सार्वजनिक निर्माण, रूडिप, नगर परिषद, रिडकोर, एनएचएआई के कार्याे की प्रगति समीक्षा बैठक कलेक्ट्रेट सभागार में हुई। बैठक में कलेक्टर पहाडिया ने विभागों के कार्याे की प्रगति समीक्षा करते हुए कहा कि करवाए जा रहे सडक, सीवरेज लाइन एवं अन्य निर्माण कार्याे में किसी प्रकार की कोताही एवं क्वालिटी में समझोता बर्दाश्त नहीं किया जायेगा। बैठक में मुख्यमंत्री महोदय की बजट घोषणा, जन घोषणा पत्र, केन्द्र और राज्य सरकार की विभिन्न योजनाओं की प्रगति की बिन्दुवार समीक्षा की गई।

जिला कलेक्टर ने प्रधानमंत्री ग्राम सडक योजना में जिले में चल रहे सडक निर्माण कार्यों की समीक्षा करते हुये गुणवत्ता और समय सीमा की पूर्ण पालना के निर्देश दिये। 500 से अधिक आबादी के गांवों को सडक से जोडने के लिये निर्माणधीन सडकों के कार्य की गुणवत्ता की नियमित जांच के निर्देश दिए। इस योजना के तीसरे चरण के 13 कार्य जिले में प्रगतिरत हैं। इसके अतिरिक्त 10 सडकों के निर्माण की हाल ही में स्वीकृति मिली है, इनके कार्य के संबंध में भी निर्देश दिए। राज्य बजट घोषणा-2020-21 की अनुपालना में मलारना डूंगर-सांकडा सड़क की स्वीकृति आ गई है। जिला कलेक्टर ने इस सड़क का निर्माण शीघ्र करवाने के निर्देश दिये।

मच्छीपुरा में देवनारायण स्कूल, बामनवास कॉलेज, बामनवास में आईटीआई, सदर पुलिस थाना गंगापुर, भवन और मलारना डूंगर तहसील के मॉडर्न रेकार्ड रूम के निर्माण कार्यों सहित अन्य निर्माण कार्याे की प्रगति समीक्षा करते हुये जिला कलेक्टर ने निर्देश दिये कि निर्माण कार्य में तेजी लायें तथा बिजली, पेयजल, इंटरनेट आदि के कनेक्शन समय पर ले लिये जायें ताकि इनकी लाइनों की फिटिंग के समय भवनों में फिर छोटी-मोटी तोडफोड न करनी पडे।

रूडिप द्वारा सवाईमाधोपुर शहर में 119 किमी लम्बी सीवरेज लाइन बिछाई जानी थी। इस कार्य में संतोषजनक प्रगति नहीं होने पर जिला कलेक्टर ने नाराजगी जाहिर करते हुये कहा कि पहले की कार्य अवधि बढा दी गई है। लाइन बिछाने के बाद घर-घर कनेक्शन भी हर हाल में दिए गए समय पर ही पूर्ण करने है। लापरवाही और देरी के लिये ठेकेदार के विरूद्ध नियमानुसार पेनल्टी लगायें और अन्य कार्रवाई भी करें। जिला कलेक्टर ने निर्देश दिये कि ऐसा भी न हो कि अब काम को जल्द पूर्ण करने के चक्कर में गुणवत्ता से समझौता कर लें। सीवरेज लाइन निर्धारित गहराई में ही डाली जाये। उन्होंने कहा कि वे स्वयं इसका रैंडमली फिजिकल वेरिफिकेशन करवायेंगे तथा नियमानुसार काम नहीं मिला तो ठेकेदार के साथ ही सम्बंधित अधिकारियों के विरूद्ध कडी कार्रवाई होगी। उन्होंने सीवर लाइन के कार्य का पाक्षिक रोडमेप बनाकर प्रस्तुत करने के निर्देश दिए। 

जिला कलेक्टर ने दिल्ली-बडोदरा एक्सप्रेस वे के निर्माण के लिये मिट्टी उठाने में अनियमितता पर नाराजगी जताई तथा सम्बंधित ठेकेदार के विरूद्ध कार्रवाई के निर्देश दिये। इस कार्य में ठेकेदार द्वारा निर्धारित जगह के बजाय अन्य स्थानों से मिट्टी लिए जाने की शिकायत के संबंध में कलेक्टर ने जांच के निर्देश दिए। उन्होंने ओवरलोडिंग के कारण सडकों के टूटने पर मरम्मत के संबंध में प्रभावी कार्रवाई के निर्देश दिए। 

बैठक में कलेक्टर पहाडिया ने नगर परिषद सवाई माधोपुर एवं गंगापुर क्षेत्र में किए जा रहे कार्याे एवं योजनाओं की प्रगति समीक्षा की। 

कलेक्टर पहाडिया ने नगर परिषद के अधिकारियों को निर्देश दिए कि इन दिनों शादियांे का सीजन चल रहा है। शादियों में भीड एकत्र होने एवं कोरोना एडवाईजरी की पालना नहीं होने की पूरी संभावना है। ऐसे में सभी अधिकारी सतर्क रहें। पालना नहीं करने वालों के खिलाफ कार्रवाई करें। प्रिंटिंग प्रेस वाले निमंत्रण पत्र में कोरोना जागरूकता स्लोगन एवं अपील भी प्रकाशित करें। विवाह समारोह में अनुमत संख्या से अधिक अतिथियों को आमंत्रित नहीं किया जाए। 

जिला कलेक्टर ने बैठक में उपस्थित अधिकारियों को कहा कि कोरोना जागरूकता जन आन्दोलन केवल जिला प्रशासन और नगरपरिषदों के जिम्मे नहीं है। प्रत्येक विभाग अपनी जिम्मेदारी समझें तथा सामुदायिक सहभागिता से ‘‘नो मास्क-नो एंट्री’’ अभियान को सफल बनायें। कार्यालयों में 2 गज दूरी, सेनेटाइजेशन, साफ-सफाई की पूर्ण पालना हो। बिना मास्क किसी भी कार्मिक या आगंतुक की कार्यालय में एंट्री न होना सुनिश्चित करें। बैठक में सार्वजनिक निर्माण विभाग के अधीक्षण अभियन्ता आरएन बैरवा, रूडिप के अभियन्ता, रिडकोर और एनएचएआई के प्रतिनिधि, नगर परिषद गंगापुर एवं सवाई माधोपुर तथा यूआईटी के अधिकारी भी उपस्थित रहे।

Support us

कोई भी मीडिया हो उन्हें कभी फंड की चिंता नहीं करनी पड़ती क्यूंकि लोकतंत्र को बचाने के नाम पर उन्हें विभिन्न स्रोतों से पैसा मिलता है। लेकिन हमें सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके समर्थन की आवश्यकता है। आपसे जितना हो सके हमें योगदान करें ताकि हम आपके लिए आवाज उठा सकें।

Donate with

Check Also

विटामिन ए कार्यक्रम की दी जानकारी-वज़ीरपुर

विटामिन ए कार्यक्रम की दी जानकारी वजीरपुर, राजकीय सामुदायिक स्वास्थ्य चिकित्सालय परिसर में ब्लॉक स्वास्थ्य …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *