Home / उत्तर प्रदेश / श्रावस्ती / न्यायालय उप जिलाधिकारी, भिनगा, जनपद श्रावस्ती।

न्यायालय उप जिलाधिकारी, भिनगा, जनपद श्रावस्ती।

न्यायालय उप जिलाधिकारी, भिनगा, जनपद श्रावस्ती।

आदेष अन्तर्गत धारा-144 दण्ड प्रक्रिया संहिता।

कोरोना वाइरस (covid-19) संक्रमण के दृष्टिगत वर्तमान समय अत्यन्त संवेदनषील है। कोरोना वाइरस के संक्रमण को रोकने हेतू भारत सरकार एंव उत्तर प्रदेष सरकार के निर्देषो/गाइडलाइन के क्रम में मैं प्रवेन्द्र कुमार , उप जिलामजिस्ट्रेट भिनगा जनपद श्रावस्ती दण्ड प्रक्रिया संहिता, 1973 की धारा के अन्तर्गत प्रदत्त ष्षक्तियों का प्रयोग करते हुये तहसील भिनगा क्षेत्रान्तर्गत निम्नानुसार निषेधाज्ञा पारित करता हूँः-

1. किसी भी स्थान पर पांच या पांच से अधिक व्यक्तियों का समूह एकत्रित नही होगा।

2. कोई भी व्यक्ति अथवा व्यक्तिियो का समूह कोरोना वाइरस को लेकर किसी भी प्रकार की अफवाह नही फैलायेगा और न ही ऐसा कोई पर्चा हैण्डविल अथवा पम्पलेट वितरित करेगा जिससे लोगो में भय उत्पन्न होता हो।

3. कोई भी व्यक्ति अथवा व्यक्तिियो का समूह बिना अनुमति के किसी भी स्थान पर बैठक/पंचायत/रैली/नाटक मंचन आदि का आयोजन नही करेगा ।

4. तहसील भिनगा क्षेत्र में विभिन्न स्थानों पर पृथक-पृथक दिवसो पर साप्ताहिक बाजारों का आयोजन होता है, उक्त के क्रम में सोनबरसा, तालबघौडा, एंव परसोहना ,थाना सिरसिया में काफी बडी बाजार लगती है जिसमें काफी संख्या में लोगा एकत्रित होते है तथा इन बाजारो में नेपाल से आने वाले विदेषी नागरिकों की संख्या काफी अधिक होती है। अतएव कोरोना वाइरस के संक्रमण के

दृष्टिगत निषेधाज्ञा के प्रभावी रहने तक ग्राम सोनबरसा, तालबघौडा, एंव परसोहना ,थाना सिरसिया सहित तहसील क्षेत्र मे कही पर भी साप्ताहिक बाजारों का आयोजन नही किया जायेगा ।

5. कोइ भी व्यक्ति अथवा व्यक्तियों का समूह बिना पूर्वानुमति के किसी भी प्रकार का धरना प्रदर्षन अथवा जूलूस का आयोजन नही करेगा।

उपरोकत आदेष तहसील भिनगा सीमान्तर्गत रहने वाले तथा प्रवेष करने वाले व्यक्तियों पर आदेष पारित होने के दिनांक 16.03.2020 से 31.03.2020 तक प्रभावी रहेगा ।उपरोक्त आदेष प्रभावी किया जाना जनहित में अत्यन्त आवष्यक है तथा सभी पक्षों को सुना जाना संभव नही है।अतएव उक्त आदेष एक पक्षिय रूप से पारित किया जाता है।

अपरिहार्य परिस्थितियों में उपरोक्त आदेष अथवा उपरोक्त मे से किसी प्रतिबन्ध में सक्षम कार्यकारी मजिस्टेªट द्वारा षिथिलता प्रदान की जा सकती है। उक्त आदेष अथवा आदेष के किसी अश का उल्लघन भा0द0वि0 की धारा-188 के अन्तर्गत दण्डनीय होगा। यह आदेष आज दिनांक 16.03.2020 को मेरे हस्ताक्षर एंव न्यायालय की मुद्रा के अधीन निर्गत किया गया।

यह जानकारी प्रवेन्द्र कुमार उप जिलाधिकारी भिनगा ने दी है।

Support us

कोई भी मीडिया हो उन्हें कभी फंड की चिंता नहीं करनी पड़ती क्यूंकि लोकतंत्र को बचाने के नाम पर उन्हें विभिन्न स्रोतों से पैसा मिलता है। लेकिन हमें सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके समर्थन की आवश्यकता है। आपसे जितना हो सके हमें योगदान करें ताकि हम आपके लिए आवाज उठा सकें।

Donate with

Check Also

कोरोना निश्चित हारेगा, भारत निश्चित जीतेगा

स्क्रिप्त श्रावस्ती उत्तर प्रदेश कोरोना वायरस से लड़ाई जारी रखने और #JantaCurfew को सफल बनाने …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *