Home / राजस्थान / भीलवाड़ा / पत्रकार से मंत्री तक का सफर करने वाले गांधीवादी नेता तांबी सफर थमा- भीलवाड़ा

पत्रकार से मंत्री तक का सफर करने वाले गांधीवादी नेता तांबी सफर थमा- भीलवाड़ा

पत्रकार से मंत्री तक का सफर करने वाले गांधीवादी नेता तांबी सफर थमा

पार्थिवदेह पंचतत्व में विलीन

भीलवाड़ा-मूलचन्द पेसवानी

जिले के जहाजपुर क्षेत्र के छोटे से गांव पंडेर मे जन्म लेने वाले स्वाभिमानी और गांधीवादी पूर्व मंत्री ने रतन लाल तांबी ने कल जयपुर मे शाम को अंतिम सांस ली और आज उनका अंतिम संस्कार हुआ । तांबी ने जीवन की शुरूआत गांधी के आन्दोलन से की थी और बाद मे वह पत्रकार बने । देश की आजादी के बाद उन्होने अपने राजनैतिक जीवन की शुरूआत 62 साल पहले 1962 मे सरपंच से की थी। 

आज अंतिम संस्कार मे राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, विधानसभा अध्यक्ष डाॅ सी पी जोशी, कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव धीरज गुर्जर, चिकित्सा मंत्री रघु शर्मा, विधायक रामलाल जाट सहित कई वरिष्ठ नेता शामिल हुए । 

तांबी के लगे नारे-

तांबी की अंतिम यात्रा मानो जहाजपुर और आस-पास के लोग शामिल हुए मानो रैला उमड पडा । जहाजपुर का गांधी रतन लाल तांबी अमर रहे ।।

यह शामिल हुए संस्कार मे-

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, विधानसभा अध्यक्ष डाॅ सी पी जोशी , चिकित्सक मंत्री रघु शर्मा कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव धीरज गुर्जर, विधायक राम लाल जाट, कांग्रेस जिलाध्यक्ष राम पाल शर्मा, महासचिव महेश सोनी सहित कई कांग्रेसजन थे । भाजपा विधायक गोपी चंद मीणा, भाजपा जिलाध्यक्ष लादूलाल तेली भी थे जिला कलेक्टर राजेन्द्र भट्ट , एस डीएम अतहर आमिर खान,, एएसपी राजेश मीणा व अधिकारी भी थे 

ताम्‍बी का जीवन परिचय- ताम्‍बी का जन्‍म 27 जनवरी 1937 को पण्‍डेर ग्राम में स्‍वाधिनता सेनानी धन्‍ना लाल ताम्‍बी के यहां पर हुआ था। 1962 में पण्‍डेर ग्राम पंचायत के सरपंच से ताम्‍बी ने अपना राजनेतिक सफर शुरू किया। इसी साल वे जहाजपुर पंचायत समिति के प्रधान बने और लगातार 15 साल तक वह प्रधान रहे। वर्ष 1980, 1985, 1993 और 1998 वें में ताम्‍बी जहाजपुर विधानसभा से विधायक चुने गये। ताम्‍बी हरदेव जोशी और अशोक गहलोत मंत्री मण्‍डल में राज्‍य मंत्री भी रहे। ताम्‍बी राजस्‍थान भूदान बोर्ड के चैयरमेन भी रहे। ताम्‍बी इफको के डायरेक्‍टर भी चुने गये। पंचायत राज और सहकार क्षैत्र में ताम्‍बी मजबूत पकड थी और जहाजपुर क्षैत्र में जहाजपुर के गांधी के नाम से भी जाने जाते है। ताम्‍बी के चार पुत्र और एक पुत्री है। ताम्‍बी ने सप्‍ताहिक समाचार पत्र क्रान्ति मार्ग का सम्‍पादन करने के साथ-साथ दैनिक हिन्‍दुस्‍तान के संवाददाता के रूप में भी काम किया था।

मूलचन्द पेसवानी

Support us

कोई भी मीडिया हो उन्हें कभी फंड की चिंता नहीं करनी पड़ती क्यूंकि लोकतंत्र को बचाने के नाम पर उन्हें विभिन्न स्रोतों से पैसा मिलता है। लेकिन हमें सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके समर्थन की आवश्यकता है। आपसे जितना हो सके हमें योगदान करें ताकि हम आपके लिए आवाज उठा सकें।

Donate with

Check Also

भीलवाड़ा जिला कलेक्टर पहुंचे मृतकों के घर परिजनों को दी सांत्वना, सौंपे सीएम सहायता राशि के चेक

चित्तौड़गढ़-कोटा राष्ट्रीय राजमार्ग दुर्घटना भीलवाड़ा जिला कलेक्टर पहुंचे मृतकों के घर परिजनों को दी सांत्वना, …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *