Home / राजस्थान / भीलवाड़ा / पाकिस्तान में कोरोना महामारी में हिन्दू अल्पसंख्यको पर हो रहे भेदभाव को लेकर ज्ञापन प्रेषित भीलवाडा

पाकिस्तान में कोरोना महामारी में हिन्दू अल्पसंख्यको पर हो रहे भेदभाव को लेकर ज्ञापन प्रेषित भीलवाडा

पाकिस्तान में कोरोना महामारी में हिन्दू अल्पसंख्यको पर हो रहे भेदभाव को लेकर ज्ञापन प्रेषित

भोजन एवं मेडिकल सुविधा दवाईयां दिलाने हेतु दिया ज्ञापन

भीलवाड़ा- मूलचन्द पेसवानी 

विश्व में इन दिनो कोरोना वैश्विक महामारी से अनेक देश अपने-अपने संसाधनो एवं स्थानीय स्त्रोतो पर कोरोना महामारी को हराने में लगे हुए है, वहीं दूसरी ओर पड़ौसी देश पाकिस्तान में मानवीय मूल्यों का हनन करते हुए हिन्दू अल्पसंख्यको को कोरोना महामारी में सहायता एवं उपचार देने में भेदभाव किया जा रहा है। इस कारण हरीशेवा उदासीन आश्रम सनातन मंदिर भीलवाड़ा के महामण्डलेश्वर स्वामी हंसराम उदासीन ने एक ज्ञापन महामहिम राष्ट्रपति एवं प्रधानमंत्री को प्रेषित किया है। 

उन्होंने बताया कि लाॅकडाउन के कारण ज्ञापन ईमेल से प्रेषित किया गया है। ज्ञापन में पाकिस्तान के विभिन्न प्रान्तों में रह रहे हिन्दू अल्पसंख्यको यथा सिन्धी बौद्ध सिख आदि को इस महामारी में भी भोजन, दवाईयां, मेडिकल सुविधा आदि पहुंचाने में भेदभाव किया जा रहा है। जिससे वहां का अल्पसंख्यक समुदाय विचलित एवं असहाय अवस्था में है। सोशल मीडिया, इलेक्ट्रोनिक मीडिया एवं समाचार-पत्रो में भी यह बात उजागर हो रही है। पाकिस्तान के हिन्दू अल्पसंख्यको को कोरोना महामारी में मेडिकल सुविधा दवाईयां एवं भोजन दिलाने में भारत सरकार द्वारा अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर एवं पाकिस्तान एम्बेसी स्तर पर उचित एवं आवश्यक कार्यवाही के लिए महामण्डलेश्वर स्वामी हंसराम उदासीन ने यह ज्ञापन प्रेषित किया गया है।

Support us

कोई भी मीडिया हो उन्हें कभी फंड की चिंता नहीं करनी पड़ती क्यूंकि लोकतंत्र को बचाने के नाम पर उन्हें विभिन्न स्रोतों से पैसा मिलता है। लेकिन हमें सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके समर्थन की आवश्यकता है। आपसे जितना हो सके हमें योगदान करें ताकि हम आपके लिए आवाज उठा सकें।

Donate with

Check Also

भीलवाड़ा जिला कलेक्टर पहुंचे मृतकों के घर परिजनों को दी सांत्वना, सौंपे सीएम सहायता राशि के चेक

चित्तौड़गढ़-कोटा राष्ट्रीय राजमार्ग दुर्घटना भीलवाड़ा जिला कलेक्टर पहुंचे मृतकों के घर परिजनों को दी सांत्वना, …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *