Home / देश / पीएम मोदी ने गलवान घाटी में शहीद हुए 20 जवानों को श्रद्धांजलि दी। उन्होंने कहा कि हमारे सपूतों का बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा

पीएम मोदी ने गलवान घाटी में शहीद हुए 20 जवानों को श्रद्धांजलि दी। उन्होंने कहा कि हमारे सपूतों का बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा

पीएम मोदी ने गलवान घाटी में शहीद हुए 20 जवानों को श्रद्धांजलि दी। उन्होंने कहा कि हमारे सपूतों का बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा…

लद्दाख में मारते-मारते शहीद हुए भारतीय जवानः PM नरेंद्र मोदी

india and china dispute news today: पीएम मोदी (pm narendra modi) ने कहा है कि देश के जवानों की कुर्बानी व्यर्थ नहीं जाएगी। पीएम मोदी ने गलवान घाटी में शहीद हुए 20 जवानों को श्रदांजलि भी दी। उन्होंने कहा कि हमारे सपूतों का बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा।

पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि गलवान घाटी में देश के वीर सपूतों ने जो सर्वोच्च बलिदान दिया है वह व्यर्थ नहीं जाएगा। पीएम ने कहा कि देश के हमारे वीर सपूतों मारते-मारते मरे हैं। पीएम ने गलवान घाटी में चीनी के साथ संघर्ष में शहीद हुए 20 जवानों को दो मिनट का मौन रखकर श्रद्धांजलि दी।

मारते-मारते मरे हैं जवान-पीएम

पीएम मोदी ने कोरोना पर देश के 15 मुख्यमंत्रियों के साथ कोरोना महामारी पर आयोजित बैठक में कहा कि देश के जवान मारते-मारते मरे हैं। उन्होंने कहा कि हमारे सपूतों का बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा। पीएम ने कहा कि शहीद जवानों के परिजनों के साथ आज पूरा देश साथ खड़ा है। भारत एक-एक इंच अपनी जमीन की रक्षा करेगा। भारत सांस्कृतिक रूप से एक शांतिप्रिय देश है। हमने हर युग में पूरे संसार में शांति और मानवता के कल्याण की कामना की है। हमने हमेशा से ही अपने पड़ोसियों के साथ मिलकर काम किया है। हमने हमेशा उनके विकास का काम किया है। हमने मतभेद पर हमेशा यह प्रयास किया है कि मतभेद विवाद न बने।

मौन रखकर वीर सपूतों को दी श्रद्धांजलि

पीएम ने बैठक इस वर्चुअल बैठक में मौजूद सभी मुख्यमंत्रियों से आग्रह किया कि वे दो मिनट का मौन रखकर देश के वीर सपूतों को श्रद्धांजलि दें। श्रद्धांजलि के बाद पीएम मोदी ओउम शांति, ओउम शांति कहा।

गलवान घाटी में संघर्ष में भारत के 20 जवान हुए शहीद

बता दें कि सोमवार रात लद्दाख के गलवान घाटी में भारत और चीन के सैनिकों के बीच हुई खूनी झड़प में भारत के 20 जवान शहीद हो गए हैं। इस संघर्ष में चीन के भी 40 जवान मारे गए हैं।

Support us

कोई भी मीडिया हो उन्हें कभी फंड की चिंता नहीं करनी पड़ती क्यूंकि लोकतंत्र को बचाने के नाम पर उन्हें विभिन्न स्रोतों से पैसा मिलता है। लेकिन हमें सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके समर्थन की आवश्यकता है। आपसे जितना हो सके हमें योगदान करें ताकि हम आपके लिए आवाज उठा सकें।

Donate with

Check Also

25 नवंबर से बिना कोरोना रिपोर्ट के एंट्री नहीं

25 नवंबर से बिना कोरोना रिपोर्ट के एंट्री नहीं  महाराष्ट्र महाराष्ट्र जाने के लिए RT-PCR …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *