Breaking News
Home / झारखंड / प्रवासी मजदूरों के गृह शहर और गाँव लौटने का सिलसिला बदस्तूर जारी है। झारखण्ड

प्रवासी मजदूरों के गृह शहर और गाँव लौटने का सिलसिला बदस्तूर जारी है। झारखण्ड

प्रवासी मजदूरों के गृह शहर और गाँव लौटने का सिलसिला बदस्तूर जारी है। झारखण्ड उत्थान मंच ने अपने सहयोगी संस्था अभियान के साथ आज चौथे दिन भी भारी ऑधी पानी के बीच अपना सेवा प्रकल्प जारी रखा। झूम घाटशिला के संयोजक विजय कुमार पाण्डेय ने बताया कि अब आर्थिक सहयोग के लिए भी लोगों के प्रस्ताव आने लगे हैं जिसे भविष्य में और सुचारू मदद के लिए स्वीकारा गया है। श्री पाण्डेय ने बताया कि इस कार्य डाॅ गीता वैद्य, विनोद कुमार झूम जमशेदपुर, विवेकानंद झा, किरण तिवारी आदि ने मदद का हाथ बढाया है । नेशनल हायवे 18 से ज्यादातर आन्ध्र प्रदेश, तमिलनाडु, पुडूचेरी से कामगार मजदूर अपने अपने गृह राज्य बिहार, उत्तर प्रदेश, झारखण्ड और बंगाल की ओर बसो एवं लॉरियो से लौट रहे हैं। जिनके साथ पानी और भोजन की समस्या है।
झूम और अभियान के लोगों ने बताया कि उनके इस कार्य में अभी तक विशेष कर मारवाड़ी महिला समिति घाटशिला और कई समाजप्रेमी लोगों ने मूढी, चूङा, शरबत, इडली-सॉभर, रोटी सब्जी भूजिया, पूङी, पावरोटी आदि देकर मदद पहुँचाई है। इनके इस कार्य से निश्चित रूप से घाटशिला एक बार फिर मानवता की मिसाल बन कर उभरा है।
आज भी झूमवीरों ने मारवाड़ी महिला समिति घाटशिला द्वारा प्रदत्त 110 पैकेट इडली, चटनी के साथ झारखण्ड उत्थान मंच को प्रदान किया और इस भयानक ऑधी पानी में भी सभी स्वयंसेवकों ने इसे बॉटा। इस सेवा कार्य में मुख्य रूप से भूमिका निभा रहे हैं झूम संयोजक विजय कुमार पाण्डेय, अमलान राॅय, जाग्रत कुंडू, अशोक सीट, माला पाण्डेय, बोधिसत्त्व कीर्ति, अजम्बर पातर, मा म स की अनिता अग्रवाल, अभियान फाॅर ए बेटर टुमाॅरो के इंदल पासवान, कुमारेश पटनायक और परिवार, प्रशान्त विषई, नरेश कुमार और परिवार, सुबोध सिंह और परिवार, कृपाल कुमार, रघुनाथ मुर्मू, डाॅ कविता चौधरी और ऐसे कई समाजप्रेमी।

Check Also

जमशेदपुर में बुधवार को कोरोना वायरस का ब्लास्ट हो गया-झारखंड

जमशेदपुर : जमशेदपुर में बुधवार को कोरोना वायरस का ब्लास्ट हो गया. कोरोना वायरस का …