Home / राजस्थान / भीलवाड़ा / बजरी माफिया ने बाइक सवार किशोर को कुचला, अस्पताल में मौत, हंगामा भीलवाड़ा

बजरी माफिया ने बाइक सवार किशोर को कुचला, अस्पताल में मौत, हंगामा भीलवाड़ा

बजरी माफिया ने बाइक सवार किशोर को कुचला, अस्पताल में मौत, हंगामा

भीलवाड़ा-(मूलचन्द पेसवानी)

भीलवाड़ा जिले में बजरी माफियाओं का कहर थमता नजर नहीं आ रहा है। गुरूवार को बाइक सवार एक किशोर को कुचल दिया। हादसे में किशोर की जिला अस्पताल में उपचार के दौरान मौत हो गई। पहले एसडीएम के सरकारी वाहन चालक की जान ली, फिर नायब तहसीलदार व टीम को कुचलने का प्रयास किया था। 

किषोर की मौत के बाद ग्रामीणों ने महात्मा गांधी चिकित्सालय में हंगामा भी किया। परिजनों का आरोप है कि बजरी माफियां के वाहनों की रफ ड्राईविंग के चलते एक घर का चिराग बुझ गया। वहीं उन्होने जिला चिकित्सालय के स्टॉफ पर भी लापरवाही के आरोप लगाये। 

माण्डल थाने क्षैत्र के आरजियां गांव के पास स्थित भैरू खेड़ा निवासी त्रिलोक सिंह अपने घर के लिए मोटरसाईकिल पर पानी लेने जा रहा था। इस दौरान रफ ड्राईविंग करते सामने से आ रहे बजरी ट्रेक्टर ने उसे अपनी चपेट में ले लिया। गंभीर हालत में त्रिलोक को महात्मा गांधी चिकित्सालय में भर्ती करवाया गया। जहां उसने उपचार के दौरान दम तोड दिया। घायल की मौत को समाचार गांव में मिलते ही ग्रामीण चिकित्सालय में जमा होने लगे। इस बीच परिजनों के ईलाज में लापरवाही के आरोप के बाद ग्रामीणों ने हंगामा शुरू कर दिया। ग्रामीण 20 लाख रूपये के मुआवजे के साथ ही बजरी माफियां के खिलाफ कडी कार्यवाही की मांग कर रहे है। समाचार लिखे जाने तक परिजनों ने शव नहीं उठाया है।

मांडल थाने के सहायक उप निरीक्षक चिराग खां कायमखानी ने बताया कि मूलतया नौगावां हाल अंसल सोसायटी निवासी त्रिलोक (16) पुत्र भैंरूसिंह राजपूत गुरुवार को बाइक से कहीं जा रहा था। इस बीच, हाइवे से आरजिया में जाने वाले मार्ग पर भीलों का खेड़ा के पास अचानक गली से निकल कर आई बजरी से भरी ट्रैक्टर-ट्रॉली के चालक ने कट से निकलते हुये त्रिलोक की बाइक को चपेट में ले लिया। हादसे में त्रिलोक गंभीर रूप से घायल हो गया। चालक बजरी से भरी ट्रैक्टर-ट्रॉली को छोड़कर भाग छूटा। उसे उपचार के लिए जिला अस्पताल में भर्ती करवाया गया, जहां त्रिलोक ने दम तोड़ दिया। एमजीएच चौकी स्टॉफ ने शव को मोर्चरी में सुरक्षित रखवाते हुये मांडल पुलिस को सूचना दी है। 

बता दें कि जिले में बजरी माफियाओं का कहर थमता नजर नहीं आ रहा है। पिछले दिनों ऐसे ही माफिया ने जहाजपुर क्षेत्र में एसडीएम के चालक कुलदीप शर्मा की हत्या कर दी थी। इसके अलावा मांडलगढ़ इलाके में नायब तहसीलदार व उनकी टीम को बजरी माफियाओं ने ट्रैक्टर-ट्रॉली चढ़ाकर मारने का प्रयास किया था। जिले में लगातार बढ़ रही इस तरह की घटनाओं के बावजूद बजरी माफियाओं के खिलाफ कोई पुख्ता कार्रवाई अब तक शुरू नहीं हो पाई है। 

अंसल निवासी विजयकुमार ने बताया कि बजरी माफियाओं ने इस घटना को अंजाम देकर दो भाइयों की जोड़ी हमेशा के लिए तोड़ दी। ट्रैक्टर-ट्रॉली से कुचले किशोर त्रिलोक सिंह दो भाइयों में छोटा था। उससे बड़ा एक भाई और बहन है। त्रिलोक की मौत के बाद उसके परिजनों का बुरा हाल है। 

बजरी भरी ट्रैक्टर-ट्रॉली से कुचले किशोर की मौत के बाद अस्पताल के वार्ड में हंगामा खड़ा हो गया। किशोर के साथ आये लोगों ने समय रहते चिकित्सक के नहीं आने का आरोप लगाते हुये यह हंगामा किया।  

बजरी माफिया के ट्रैक्टर-ट्रॉली की टक्कर से किशोर की मौत के मामले को जिला कलेक्टर राजेंद्र भट्ट ने गंभीरता से लेते हुये पुलिस अधीक्षक हरेंद्र महावर से बातचीत की। भट्ट ने बताया कि पुलिस को तत्काल कार्रवाई के निर्देश दिये हैं।

Support us

कोई भी मीडिया हो उन्हें कभी फंड की चिंता नहीं करनी पड़ती क्यूंकि लोकतंत्र को बचाने के नाम पर उन्हें विभिन्न स्रोतों से पैसा मिलता है। लेकिन हमें सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके समर्थन की आवश्यकता है। आपसे जितना हो सके हमें योगदान करें ताकि हम आपके लिए आवाज उठा सकें।

Donate with

Check Also

भीलवाड़ा जिला कलेक्टर पहुंचे मृतकों के घर परिजनों को दी सांत्वना, सौंपे सीएम सहायता राशि के चेक

चित्तौड़गढ़-कोटा राष्ट्रीय राजमार्ग दुर्घटना भीलवाड़ा जिला कलेक्टर पहुंचे मृतकों के घर परिजनों को दी सांत्वना, …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *