Home / राजस्थान / धौलपुर / बड़े पैंमाने पर चल रहा पत्थर खुदाई का कारोबार – बसेड़ी
बड़े पैंमाने पर चल रहा पत्थर खुदाई का कारोबार - बसेड़ी

बड़े पैंमाने पर चल रहा पत्थर खुदाई का कारोबार – बसेड़ी

करोबार में जमीन की खुदाई कर पत्थर निकासी से रोजाना हजारों लाखों रुपए की हो रही एक बड़ी कमाई

जी हां राजस्थान धौलपुर जिले की अंतिम सीमा छोर पर बनी बसेड़ी थाना स्थित राज्य की सीमा बार्डर पर आज बनी सैकड़ों बीघा जमीन पर भारी तादात में आज पत्थर की निकासी होती नजर आ रही है।
जहां आज यह कारोबार इस जमीन पर एक बड़े पैमाने पर चल रहा है।
गौरतलब है कि पत्थर की निकासी जमीन पर कुछ क्षेत्रीय दबंग लोगों ने अपना कब्जा जमा रखा है।
इतना ही नहीं पत्थर निकासी की जमीन पर अगर आसपास के ग्रामींण लोगों की मानें तो इस जमीन पर कुछ गरीब लोगों के नाम पर एलॉटमेंट भी होना बताया जा है।
लेकिन खबर में मजे की बात तो आज यह है दबंग लोग इस पर अपना कब्जा जमाते हुए अवैध रूप से आज पत्थर की निकासी करवा कर लाखों रुपए की मुनाफा करते हुए एक बड़ी कमाई रहे हैं।
वहीं कुछ अन्य चलते ग्रामीण लोगों की खबर के चलते मानें तो यह सब विभाग की मिली जुली भगत से चल रहा है।
आगे बता दें कि पत्थर निकासी का यह सिलसिला बीते काफी दिनों महीनों से चल रहा है।
साथ ही बता दें कि पत्थर निकासी की यह जगह आज जिले की नहर किनारे गांव खैंमरी स्थित बनी उत्कृष्टता फार्म केंद्र के सामने धौलपुर राजस्थान की सीमा पर बनी हुई है।
जो कि जिले बसेड़ी थाना अंतर्गत लगती है।
जिले के बसेड़ी थाना सीमा अंतर्गत लगी पत्थर निकासी की यह जमीन आज आस-पास के गांवों में उत्तर प्रदेश के गांव झींटपुरा की खान के नाम से मशहूर है
वहीं आसपास के कुछ ग्रामीणों की मानें तो इस जगह से हो रही पत्थर निकासी से रोजाना सैकड़ों ट्रैक्टर पत्थर की ट्रौलियां भरकर आसपास के क्षेत्रों में पत्थर बेचकर बड़ी कमाई कर रहे हैं।

Support us

कोई भी मीडिया हो उन्हें कभी फंड की चिंता नहीं करनी पड़ती क्यूंकि लोकतंत्र को बचाने के नाम पर उन्हें विभिन्न स्रोतों से पैसा मिलता है। लेकिन हमें सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके समर्थन की आवश्यकता है। आपसे जितना हो सके हमें योगदान करें ताकि हम आपके लिए आवाज उठा सकें।

Donate with

Check Also

रेलवे ट्रैक बाधित करने वालों पर रेलवे प्रशासन व आरपीएफ करेगी केस दर्ज

गुर्जर आरक्षण आंदोलन के चलते आज रेलवे प्रशासन व आरपीएफ ने बड़ा फैसला लिया है। …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *