Home / राजस्थान / भीलवाड़ा / बाबा साहब अम्बेडकर जयन्ति व बाबा शेवाराम की पुण्यतिथि मनाई गई भीलवाडा

बाबा साहब अम्बेडकर जयन्ति व बाबा शेवाराम की पुण्यतिथि मनाई गई भीलवाडा

सेवा भारती एवं हरिशेवा संस्थान द्वारा 

बाबा साहब अम्बेडकर जयन्ति व बाबा शेवाराम की पुण्यतिथि मनाई गई  

सफाई सैनिको को मास्क सेनेटाईजर बिस्किट बांटे गए

महिला व पुरूष जमादार प्रमुखो का शाॅल व रूद्राक्ष माला से अभिनन्दन हुआ

भीलवाड़ा- मूलचन्द पेसवानी 

आज दिनांक 14 अप्रेल मंगलवार को पूज्य बाबा साहब अम्बेडकर की जयन्ति एवं सतगुरू बाबा शेवाराम साहब की पुण्यतिथि पर सफाई सैनिको को शहर के 21 स्थानों पर सेनेटाइजर मास्क व बिस्किट भेंट किए गए। औपचारिक कार्यक्रम सेवा भारती व हरीशेवा धर्मशाला ट्रस्ट द्वारा महामण्डलेश्वर स्वामी हंसराम उदासीन के सान्निध्य में छबीले हनुमान जी के मंदिर के पास कुम्भा सर्किल पर प्रातः 8.30 बजे हुआ। सफाई सैनिको को एक-एक सेनेटाईजर, दो-दो मास्क व बिस्किट पैकेट भेंट किए गए। महिला पुरूष जमादार प्रमुखो को शाॅल एवं रूद्राक्ष की माला पहनाकर अभिनन्दन किया गया। कार्यक्रम की शुरूआत में महामण्डलेश्वर स्वामी हंसराम उदासीन ने बाबा साहब अम्बेडकर की मूर्ति पर माल्यार्पण किया। राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के चित्तौड़ प्रांत सह सेवा प्रमुख रविन्द्र कुमार जाजू ने कोरोना वैश्विक संकट की इस घड़ी में सफाई सैनिको के कर्तव्य निर्वहन की प्रशंसा की। संघ चालक चाँदमल सोमानी ने बाबा साहब की शिक्षाओं को आत्मसात करने की आवश्यकता बताई। इस अवसर पर हेमन्त वच्छानी राकेश असावा हेमनदास भोजवानी अमित खत्री कन्हैयालाल मोरयानी व अन्य ने सेवायें दी। आश्रम में बाबा शेवाराम साहब जी की 36वीं पुण्यतिथि वरसी पर महामण्डलेश्वर स्वामी हंसराम उदासीन, संत मयाराम, संत राजाराम संत गोविंदराम ने अपने सतगुरू का ध्यान व स्मरण करते हुए भजन स्तुति की। श्रीमात्रा साहब पाठ, श्री श्रीचन्द्र चालीसा पाठ, आरती, प्रार्थना हुई। शहर के विभिन्न स्थानों पर हलवा प्रसाद का वितरण हुआ। बाबा शेवाराम साहब ने स्वतंत्रता प्राप्ति एवं देश के विभाजन पश्चात् सिन्ध भिरिया से भीलवाड़ा को अपना कर्मक्षेत्र चुना। अनेक विषम परिस्थितियों में धार्मिक एवं पुण्यार्थ कार्य करते हुए सनातन धर्म का प्रचार-प्रसार किया।

सफाई सैनिको को मास्क सेनेटाईजर बिस्किट बांटे गए

महिला व पुरूष जमादार प्रमुखो का शाॅल व रूद्राक्ष माला से अभिनन्दन हुआ

भीलवाड़ा- मूलचन्द पेसवानी 

आज दिनांक 14 अप्रेल मंगलवार को पूज्य बाबा साहब अम्बेडकर की जयन्ति एवं सतगुरू बाबा शेवाराम साहब की पुण्यतिथि पर सफाई सैनिको को शहर के 21 स्थानों पर सेनेटाइजर मास्क व बिस्किट भेंट किए गए। औपचारिक कार्यक्रम सेवा भारती व हरीशेवा धर्मशाला ट्रस्ट द्वारा महामण्डलेश्वर स्वामी हंसराम उदासीन के सान्निध्य में छबीले हनुमान जी के मंदिर के पास कुम्भा सर्किल पर प्रातः 8.30 बजे हुआ। सफाई सैनिको को एक-एक सेनेटाईजर, दो-दो मास्क व बिस्किट पैकेट भेंट किए गए। महिला पुरूष जमादार प्रमुखो को शाॅल एवं रूद्राक्ष की माला पहनाकर अभिनन्दन किया गया। कार्यक्रम की शुरूआत में महामण्डलेश्वर स्वामी हंसराम उदासीन ने बाबा साहब अम्बेडकर की मूर्ति पर माल्यार्पण किया। राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के चित्तौड़ प्रांत सह सेवा प्रमुख रविन्द्र कुमार जाजू ने कोरोना वैश्विक संकट की इस घड़ी में सफाई सैनिको के कर्तव्य निर्वहन की प्रशंसा की। संघ चालक चाँदमल सोमानी ने बाबा साहब की शिक्षाओं को आत्मसात करने की आवश्यकता बताई। इस अवसर पर हेमन्त वच्छानी राकेश असावा हेमनदास भोजवानी अमित खत्री कन्हैयालाल मोरयानी व अन्य ने सेवायें दी। आश्रम में बाबा शेवाराम साहब जी की 36वीं पुण्यतिथि वरसी पर महामण्डलेश्वर स्वामी हंसराम उदासीन, संत मयाराम, संत राजाराम संत गोविंदराम ने अपने सतगुरू का ध्यान व स्मरण करते हुए भजन स्तुति की। श्रीमात्रा साहब पाठ, श्री श्रीचन्द्र चालीसा पाठ, आरती, प्रार्थना हुई। शहर के विभिन्न स्थानों पर हलवा प्रसाद का वितरण हुआ। बाबा शेवाराम साहब ने स्वतंत्रता प्राप्ति एवं देश के विभाजन पश्चात् सिन्ध भिरिया से भीलवाड़ा को अपना कर्मक्षेत्र चुना। अनेक विषम परिस्थितियों में धार्मिक एवं पुण्यार्थ कार्य करते हुए सनातन धर्म का प्रचार-प्रसार किया।

Support us

कोई भी मीडिया हो उन्हें कभी फंड की चिंता नहीं करनी पड़ती क्यूंकि लोकतंत्र को बचाने के नाम पर उन्हें विभिन्न स्रोतों से पैसा मिलता है। लेकिन हमें सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके समर्थन की आवश्यकता है। आपसे जितना हो सके हमें योगदान करें ताकि हम आपके लिए आवाज उठा सकें।

Donate with

Check Also

भीलवाड़ा जिला कलेक्टर पहुंचे मृतकों के घर परिजनों को दी सांत्वना, सौंपे सीएम सहायता राशि के चेक

चित्तौड़गढ़-कोटा राष्ट्रीय राजमार्ग दुर्घटना भीलवाड़ा जिला कलेक्टर पहुंचे मृतकों के घर परिजनों को दी सांत्वना, …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *