Home / राजस्थान / बेटी बचाओ, बेटी पढाओं को आमजन की आवाज बनाए मीडिया : कलेक्टर-सवाई माधोपुर
बेटी बचाओ, बेटी पढाओं को आमजन की आवाज बनाए मीडिया : कलेक्टर-सवाई माधोपुर
बेटी बचाओ, बेटी पढाओं को आमजन की आवाज बनाए मीडिया : कलेक्टर-सवाई माधोपुर

बेटी बचाओ, बेटी पढाओं को आमजन की आवाज बनाए मीडिया : कलेक्टर-सवाई माधोपुर

 

बेटी बचाओ, बेटी पढाओं को आमजन की आवाज बनाए मीडिया: कलेक्टर

सवाई माधोपुर 7 मार्च। (राजेष षर्मा)। बेटी बचाओ, बेटी पढाओं एक अभियान के साथ आमजन की आवाज बने। इसके लिए मीडिया को लोगों को जागरूक करने में अपनी भूमिका निभानी चाहिए। यह बात जिला कलेक्टर डाॅ. एस.पी.सिंह ने शनिवार को कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित मीडिया कार्यषाला में कही।

कलेक्टर डाॅ. सिंह ने कहा कि बेटियों का महत्व सभी जानते है, बेटियां होगी तभी वंष बढेगा। उन्होंने जिले लिंगभेद को खत्म करने तथा लिंगानुपात बढाने के लिए किए जा रहे प्रयासों की जानकारी देते हुए कहा कि जिले में कन्या जन्म का औसत बढ़ा है। कलेक्टर ने बताया कि राज्य सरकार ने महिलाओं को बढावा देने के लिए एक हजार करोड रूपए की इंदिरा महिला शक्ति योजना शुरू की है। जिसके माध्यम से महिलाओं को स्वावलंबी एवं आत्मनिर्भर बनाने की दिषा में कार्य किया जा रहा है। कलेक्टर ने विद्यालयों में सेनटरी नेपकिन डिस्पेंसर एवं इंसीनेटर लगवाने के लिए किए गए प्रयासों की जानकारी दी। उन्होंने कहा कि बालिकाओं को बढावा देने के लिए सुकन्या समृद्धि योजना एक अच्छी योजना है।

उन्होंने योजनाआंे के प्रचारित करने तथा लोगों तक पहुंचाने के लिए मीडिया की भूमिका पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि मीडिया जागरूकता बनाकर बेटी बचाओ, बेटी पढाओ को जन आंदोलन बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएं। कार्यषाला में कलेक्टर डाॅ. सिंह ने बताया कि पीसीपीएनडीटी एक्ट के तहत भी कार्रवाईयां की गई है, इसके परिणाम भी आए है।

कार्यषाला में अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस तथा महिला सप्ताह के तहत महिला अधिकारिता विभाग की ओर से आयेाजित कार्यक्रमों, महिलाओं स्वयं सहायता समूहों को स्वावलंबी बनाने के लिए आयोजित अमृता हाट, बालिकाओं के संास्कृतिक कार्यक्रम एवं अन्य गतिविधियों के बारे में जानकारी दी। कार्यषाला में महिला अधिकारिता की सहायक निदेषक राषि लोढा ने बेटी बचाओ, बेटी पढाओ के संबंध में संचालित योजनाओं के बारे में जानकारी दी। मीडिया कार्यषाला में कलेक्टर ने मीडिया के सवालों के जवाब देते हुए योजनाओं का प्रचार प्रसार कर पात्रों को लाभ दिलवाने का आग्रह किया।

Support us

कोई भी मीडिया हो उन्हें कभी फंड की चिंता नहीं करनी पड़ती क्यूंकि लोकतंत्र को बचाने के नाम पर उन्हें विभिन्न स्रोतों से पैसा मिलता है। लेकिन हमें सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके समर्थन की आवश्यकता है। आपसे जितना हो सके हमें योगदान करें ताकि हम आपके लिए आवाज उठा सकें।

Donate with

Check Also

औषधालय में दवाओं की कमी, मरीजों का औषधालय से मोह भंग

औषधालय में दवाओं की कमी, मरीजों का औषधालय से मोह भंग राजकीय आयुर्वेद औषधालय …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *