Breaking News
Home / राजस्थान / राजसमंद / ब्यावर-गोमती फोरलेन निर्माण हेतु केंद्र सरकार ने मांगी 601 करोड़ की निविदाएं

ब्यावर-गोमती फोरलेन निर्माण हेतु केंद्र सरकार ने मांगी 601 करोड़ की निविदाएं

ब्यावर-गोमती फोरलेन निर्माण हेतु केंद्र सरकार ने मांगी 601 करोड़ की निविदाएं

सांसद दीयाकुमारी ने मोदी सरकार और गड़करी का जताया आभार

राजसमन्द 

वर्षों पुरानी और बहुप्रतीक्षित ब्यावर गोमती फोरलेन परियोजना शुरू होने के पूर्व अपने अंतिम चरण में सफर कर रही है। पिछले दिनों ही राजसमन्द सांसद दीयाकुमारी के अथक प्रयासों से केंद्र सरकार ने इस योजना को स्वीकृत करते हुए वित्तीय और प्रशासनिक स्वीकृतियां जारी की थी, आज उसी क्रम में केंद्र सरकार ने टेंडर प्रक्रिया जारी करके यह सिद्ध कर दिया कि कोरोना जैसी आपदाएं भी विकास की गति को धीमा नहीं कर सकती है।

मौत के मुहँ में सैंकड़ों जिंदगियां समाते देख राजसमन्द सांसद दीयाकुमारी से रहा नहीं गया और इस जनहित के कार्य को पूरा करने का बीड़ा अपने स्वयं के कंधों पर उठाया। कोरोना महामारी का प्रकोप नहीं होता तो टेंडर कार्य शायद वर्ष की शुरुआत में ही सम्पन्न हो जाता। फिर भी जिस शिद्दत से इस कार्य को पूर्ण कराने के लिए सांसद दीयाकुमारी लगी रही वो राजनीति क्षेत्र के जनप्रतिनिधियों के लिए मिसाल है।

भारत सरकार के सड़क परिवहन मंत्रालय के क्षेत्रीय कार्यालय के चीफ इंजीनियर ने निविदा आमंत्रित करते हुए नोटिस जारी कर एनएच -58 के ब्यावर गोमती खंड के साथ 4 लेन तक अप-ग्रेडेशन के लिए ईपीसी मोड पर राजस्थान राज्य में पुराना एनएच-8) (अ) किमी 58.245 से किमी 108.600 तक (पैकेज -1) के लिए 319.20 करोड़ तथा (ब) किमी 108.60 से किमी 144.00 किमी 158.42 से किमी 173.30 (पैकेज -2) तक के लिए 281.73 करोड़ की निविदाएं आमंत्रित की है।

कुल 600.93 करोड़ की निविदाएं आमंत्रित की गई है। मांगी गई निविदाओं में महत्वपूर्ण यह है कि कार्य को 24 माह की अवधि में पूर्ण करने के साथ 5 वर्ष तक रखरखाव करना होगा। टेंडर प्रक्रिया पूर्ण होते ही कार्य शुरू हो जाएगा।

सांसद दीया कुमारी ने केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी और केंद्र की मोदी सरकार का आभार व्यक्त करते हुऐ कहा कि इतनी बड़ी परियोजना का क्रियान्वयन सिर्फ मोदी सरकार में ही सम्भव है। ब्यावर गोमती फोरलेन परियोजना चुनाव पूर्व से ही हमारा संकल्प था। सपने साकार होने में जो खुशी मिलती है, वही खुशी मुझे आज हो रही है। टेंडर प्रक्रिया पूर्ण होते ही युद्ध स्तर पर कार्य शुरू हो जाएगा। जनता की खुशी में ही हम सब की खुशी है। इस सबका श्रेय में जनता जनार्दन को ही देना चाहूंगी। जनता के विश्वास से ही सबकुछ सम्भव हो पाया है।

Support us

कोई भी मीडिया हो उन्हें कभी फंड की चिंता नहीं करनी पड़ती क्यूंकि लोकतंत्र को बचाने के नाम पर उन्हें विभिन्न स्रोतों से पैसा मिलता है। लेकिन हमें सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके समर्थन की आवश्यकता है। आपसे जितना हो सके हमें योगदान करें ताकि हम आपके लिए आवाज उठा सकें।

Donate with

Check Also

अब जालौर में गुर्जर आंदोलन की लहर

आज जालौर में भी गुर्जर देवासी समाज के सैकड़ों युवा कलेक्ट्रेट पर पहुंचे तथा कलेक्ट्रेट …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *