Home / राजस्थान / धौलपुर / भवन निर्माण में चल रहा है चंबल बजरी का उपयोग-धौलपुर

भवन निर्माण में चल रहा है चंबल बजरी का उपयोग-धौलपुर

भवन निर्माण में चल रहा है चंबल बजरी

का उपयोग

विभाग की नहीं नजर

राजस्थान के धौलपुर जिले का है मामला

जी हां नेशनल हाईवे संख्या 123 धौलपुर भरतपुर बाया सैंपऊ रूपवास स्थित बने कैंथरी यूपी राजस्थान बॉर्डर सीमा बीच बने शराब के ठेके के पास चल रहे एक निजी विद्यालय भवन निर्माण कार्य में आज धड़ल्ले से प्रतिबंधित चंबल बजरी का उपयोग किया जा रहा है।

भवन निर्माण कार्य में चल रहे चंबल बजरी के उपयोग पर न तो आज किसी विभाग की नजर बनी हैं और नाहीं किसी संबंधित पुलिस थाना अधिकारी कर्मचारी की।

भवन निर्माण कार्य में निर्माण ठेकेदार द्वारा विभागीय कार्यवाही के डर से निर्माण स्थल पर चंबल बजरी ढेर पर एक का लाल पार्वती रेता की एक परत चढ़ाकर चंबल बजरी को भवन निर्माण कार्य में उपयोग में लिया जा रहा है।

खबर के चलते बता दें कि हाईवे मार्ग पर रोजाना करीब एक रूम किताब में चंबल बजरी से भरकर ट्रैक्टर ट्रॉलीओं का निकलना लगा रहता है।

विद्यालय भवन निर्माण में चल रहा है चंबल बजरी का उपयोग

विभाग की नहीं नजर

राजस्थान के धौलपुर जिले का है मामला

जी हां नेशनल हाईवे संख्या 123 धौलपुर भरतपुर बाया सैंपऊ रूपवास स्थित बने कैंथरी यूपी राजस्थान बॉर्डर सीमा बीच बने शराब के ठेके के पास चल रहे एक निजी विद्यालय भवन निर्माण कार्य में आज धड़ल्ले से प्रतिबंधित चंबल बजरी का उपयोग किया जा रहा है।
भवन निर्माण कार्य में चल रहे चंबल बजरी के उपयोग पर न तो आज किसी विभाग की नजर बनी हैं और नाहीं किसी संबंधित पुलिस थाना अधिकारी कर्मचारी की।
भवन निर्माण कार्य में निर्माण ठेकेदार द्वारा विभागीय कार्यवाही के डर से निर्माण स्थल पर चंबल बजरी ढेर पर एक का लाल पार्वती रेता की एक परत चढ़ाकर चंबल बजरी को भवन निर्माण कार्य में उपयोग में लिया जा रहा है।
खबर के चलते बता दें कि हाईवे मार्ग पर रोजाना सैकड़ों की संख्या में में चंबल बजरी से भरकर ट्रैक्टर ट्रॉलीयों का गुजरना लगा रहता है।

Support us

कोई भी मीडिया हो उन्हें कभी फंड की चिंता नहीं करनी पड़ती क्यूंकि लोकतंत्र को बचाने के नाम पर उन्हें विभिन्न स्रोतों से पैसा मिलता है। लेकिन हमें सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके समर्थन की आवश्यकता है। आपसे जितना हो सके हमें योगदान करें ताकि हम आपके लिए आवाज उठा सकें।

Donate with

Check Also

रेलवे ट्रैक बाधित करने वालों पर रेलवे प्रशासन व आरपीएफ करेगी केस दर्ज

गुर्जर आरक्षण आंदोलन के चलते आज रेलवे प्रशासन व आरपीएफ ने बड़ा फैसला लिया है। …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *