Home / राजस्थान / भीलवाड़ा / भीलवाड़ा जिले में जंगल बचेंगे तो ही जीवन बचेगा- राणावत

भीलवाड़ा जिले में जंगल बचेंगे तो ही जीवन बचेगा- राणावत

भीलवाड़ा जिले में जंगल बचेंगे तो ही जीवन बचेगा- राणावत 

ईको पार्क वन संरक्षक ने किया कृत्रिम जंगल का अवलोकन

शाहपुरा -(मूलचन्द पेसवानी)

जंगल बचेंगे तो जीवन बचेगा। धरती के बढ़ते तापमान से मनुष्य की रक्षा पेड़ ही कर सकते है ऐसे में धरती को शस्य श्यामला बनाने के लिए आम लोगों को भी आगे आना चाहिए। प्रत्येक व्यक्ति को अपने जीवन में एक व्यक्ति एक पेड़ के संकल्प के साथ अधिक से अधिक वृक्षारोपण करना चाहिए।

यह बात हमीरगढ़ ईको पार्क वन संरक्षक रावत युग प्रदीप सिंह राणावत ने हरित शाहपुरा पर्यावरण संवर्धन संस्थान द्वारा कुण्डगेट व चारमील विद्यालय में लगाए गए कृत्रिम जंगल एग्रो फॉरेस्ट का अवलोकन करते हुए आयोजित सम्मान समारोह में कही। राणावत ने हरित शाहपुरा पर्यावरण संवर्धन संस्थान के कार्यों की प्रशंसा करते हुए कहा कि हमीरगढ़ में भी आपके इस कृत्रिम जंगल एग्रो फॉरेस्ट की शुरुआत की जाएगी। ईको पार्क वन संरक्षक राणावत को संस्थान के जयकिशन घूसर के नेतृत्व में साधारण समारोह में युवाओं के आदर्श स्वामी विवेकानन्द की तस्वीर भेंट कर अभिनन्दन किया गया। कार्यक्रम में संस्थान के कार्यों की जानकारी दिनेश सिंह भाटी ने दी। स्वागत उद्बोदन शिक्षाविद पुखराज जोशी ने व्यक्त किया। संस्था के प्रताप सिंह राणावत ने सभी आगन्तुकों का आभार व्यक्त किया स कार्यक्रम का संचालन परमेश्वर प्रसाद कुमावत ने किया ।

कार्यक्रम में भीलवाड़ा से अवलोकन हेतु पधारें राजवीर सिंह राठौड़ व गोपाल सिंह का छात्रसंघ पूर्व अध्यक्ष सुमित पारीक, सिद्धान्त घूसर, नारायण सिंह, राहुल बोहरा, नरेश खटीक, अभिषेक कलाल,आशाराम धाकड़ द्वारा रामबांस का पौधा भेंट कर स्वागत किया गया।

Check Also

पेसवानी की स्मृति में भगवानपुरा में किया पौधरोपण

पेसवानी की स्मृति में भगवानपुरा में किया पौधरोपण पर्यावरण के बिना जीवन अधूरा है शाहपुरा …