Breaking News
Home / राजस्थान / भीलवाड़ा / भीलवाड़ा जिले में टिड्डीयो का कहर, आसींद क्षेत्र में पहुंची टिड्डीया, किया छिड़काव

भीलवाड़ा जिले में टिड्डीयो का कहर, आसींद क्षेत्र में पहुंची टिड्डीया, किया छिड़काव

भीलवाड़ा जिले में टिड्डीयो का कहर, आसींद क्षेत्र में पहुंची टिड्डीया, किया छिड़काव
टिड्डी दल के लिए हवाई स्प्रे हो, नुकसान का आंकलन तत्काल हो-चोधरी
भीलवाड़ा-मूलचन्द पेसवानी/
भीलवाड़ा जिले के आसींद क्षेत्र व बनेड़ा के कुछ गावों में सांय टिड्डी दल पहुंचने से किसानों के खेतों में खड़ी कपास व रजका की फसलों व खेतों में भारी नुकसान से किसान भयभीत होने लगे है। काश्तकारों की फसले चट कर गयी है। मांडल विधायक रामलाल जाट सहित अन्य जनप्रतिनिधियों ने क्षेत्र में हवाई स्प्रे कराने की मांग की ताकि टिड्डी दल को भगाया जा सके।
प्रदेश सरकार के टिड्डी नियंत्रण दल जालौर से अतिरिक्त निदेशक बीआर मीणा तथा टिड्डी नियंत्रण दल फरीदाबाद के राजेश चोधरी ने बताया कि यहां क्षेत्र में कंटीली झांडियों के बावजदू 10 टीमों ने पूरे भरसक प्रयासों से टिड्डी को समाप्त करने का कार्य किया है।
भीलवाड़ा के कृषि उपनिदेशक रामपाल खटीक ने बताया कि 10 दमकलों के सहयोग से कीटनाशक दवा का छिड़काव कराया गया है। अब यह टिड्डी दल रायला-ईरांस क्षेत्र से कूच कर रहा है। हवा के रूख के आधार पर इनका मूवमेंट हो रहा है।
नवग्रह आश्रम के संस्थापक हंसराज चोधरी ने बताया कि हमारे क्षेत्र में पहली बार टिड्डी दल के आने व खेतों पर फसलों को चट करने से यह नुकसान कोरोना से भी भारी हो गया है। केंद्र व राज्य सरकार को पहल कर हवाई स्प्रे कराना होगा वरना इनका कोई उपाय नहीं है। चोधरी ने कहा कि मेवाड़ में टिड्डी दल के घुसने के बाद अगर यह हाडौति में प्रवेश कर गया तो प्रदेश की हरियाली को बड़ा नुकसान होगा जो सभी के लिए घातक होगा। चोधरी ने कहा नुकसान का आंकलन तत्काल होना चाहिए।
मांडल विधायक रामलाल जाट ने कहा है कि राज्य सरकार को अवगत कराया जा चुका है। केंद्र सरकार को पहल कर हवाई स्पे्र का प्रबंध करना चाहिए। इसके बिना इसे रोक पाना मुश्किल होगा।
आसींद के ग्राम पंचायत ईरांस व बदनोर के पाटन क्षेत्र में व आस पास के गावं खारडी माधोपुरा ईनाणी खेड़ा में टिड्डी दल ने किसानों के खेतों में हरा चारे सहित अन्य फसलों को भारी नुकसान पहुचा रहीं हैं। सूचना पर कृषि विभाग के अधिकारी मौके पर पहुंचे। क्षेत्र में टिड्डी दल के बड़े समुह के खेतों में हमला होते ही किसानों में हाहाकार मच गया। टिड्डी दल से हो रहे नुकसान की आशंका से किसान त्रस्त है। किसानों का कहना है कि समय रहते टिड्डीयो पर नियंत्रण नहीं किया तो हमारे पशुओं के लिए चारेे की व्यवस्था करना मुश्किल हो जाएगा। हमारे पशुओं के लिए हरा चारा टिड्डी चट कर देगी। किसान अपने स्तर पर ट्रैक्टरों से छिड़काव कर टिड्डीयो पर निंयत्रण की कार्रवाई करने की योजना बनाने में जुटे है। काश्तकार अपने खेतों में ढोल सहित अन्य यंत्रों से जोरदार आवाज कर इस टिड्डी दल को भगाने का प्रयास भी कर रहे है।
भीलवाड़ा के कृषि उपनिदेशक रामपाल खटीक विभाग के गुलाबपुरा व भीलवाड़ा के अन्य अधिकारियों के साथ रात में मौके पर पहुंचे है। उपनिदेशक का कहना है कि छिड़काव से टिड्डी दल यहां से अपना स्थान छोड़ देता है। टिड्डी दल का फसलों पर हमला बड़ा नुकसान है-
पूर्व मंत्री और विधायक रामलाल जाट ने बताया की कोरोना से परेशान किसानों के लिए फसलों का नुकसान बड़ा आर्थिक झटका है। उन्होंने लोगों से अपील की है की वे टिड्डी दल को देखते ही थाली और ड्रम बजायें ताकि टिड्डियाँ खेतों में ना बैठ पाये। साथ ही इन्हें मारने के लिए खेतों में दवा का स्प्रे करे ।

About मूलचन्द पेसवानी

Check Also

आयुर्वेद ग्रथों के विश्लेषणात्मक अध्ययन से नवग्रह आश्रम देश को देगा नई दिशा-भीलवाडा

आयुर्वेद ग्रथों के विश्लेषणात्मक अध्ययन से नवग्रह आश्रम देश को देगा नई दिशा नवग्रह आश्रम …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *