Breaking News
Home / राजस्थान / भीलवाड़ा / भीलवाड़ा जिले में टिड्डीयो का कहर शुरू, आसींद क्षेत्र में पहुंची टिड्डीया

भीलवाड़ा जिले में टिड्डीयो का कहर शुरू, आसींद क्षेत्र में पहुंची टिड्डीया

भीलवाड़ा जिले में टिड्डीयो का कहर शुरू, आसींद क्षेत्र में पहुंची टिड्डीया
भीलवाड़ा-(मूलचन्द पेसवानी)
भीलवाड़ा जिले के आसींद क्षेत्र के कुछ गावों में शनिवार को देर सांय टिड्डी दल पहुंचने से किसानों के खेतों में खड़ी कपास व रजका की फसलों व खेतों में भारी नुकसान की आशंका से किसान भयभीत होने लगे है। कृषि विभाग के अधिकारियों ने हलक में पहुंच कर काश्तकारों को समझाईश कर दवा का छिड़काव की बात कही है। भीलवाड़ा जिले में इस प्रकार टिड्डी दल के पहली बार आने से जिला कलेक्टर ने कृषि अधिकारियों को मौके पर पहुंचने के निर्देश दिये जिस पर विभागीय अधिकारी पहुंच चुके हैं।
आसींद के ग्राम पंचायत ईरांस व बदनोर के पाटन क्षेत्र में व आस पास के गावं खारडी माधोपुरा ईनाणी खेड़ा में टिड्डी दल के पहुंचने से किसानों के खेतों में हरा चारे सहित अन्य फसलों को भारी नुकसान पहुचा रहीं हैं। सूचना पर कृषि विभाग के अधिकारी मौके पर पहुंचे। क्षेत्र में टिड्डी दल के बड़े समुह के खेतों में हमला होते ही किसानों में हाहाकार मच गया। टिड्डी दल से हो रहे नुकसान की आशंका से किसान त्रस्त दिख रहे है। किसानों का कहना है कि समय रहते टिड्डीयो पर नियंत्रण नहीं किया तो हमारे पशुओं के लिए चारेे की व्यवस्था करना मुश्किल हो जाएगा। हमारे पशुओं के लिए हरा चारा टिड्डी चट कर देगी। कृषि विभाग के अधिकारी मौके पर पहुंचे है पर अभी संतोषजनक उत्तर न मिलने से किसान अपने स्तर पर ट्रैक्टरों से छिड़काव कर टिड्डीयो पर निंयत्रण की कार्रवाई करने की योजना बनाने में जुटे है। काश्तकार अपने खेतों में ढोल सहित अन्य यंत्रों से जोरदार आवाज कर इस टिड्डी दल को भगाने का प्रयास भी कर रहे है।
भीलवाड़ा के कृषि उपनिदेशक रामपाल खटीक विभाग के गुलाबपुरा व भीलवाड़ा के अन्य अधिकारियों के साथ मौके पर पहुंचे है। उपनिदेशक का कहना है कि मौका देखकर उच्चाधिकारियों को बताया गया है। भीलवाड़ा जिले में इस प्रकार से टिड्डी दल पहली बार पहुंचा है। छिड़काव की तैयारी की जा रही है। छिड़काव से टिड्डी दल यहां से अपना स्थान छोड़ देता है। विभागीय अधिकारियों का मानना है कि यह टिड्डी दल राजसमंद जिले के भीम क्षेत्र से भीलवाड़ा जिले की तरफ आया है।
टिड्डी दल का फसलों पर हमला बड़ा नुकसान है-
पूर्व मंत्री और विधायक रामलाल जाट ने बताया की कोरोना से परेशान किसानों के लिए फसलों का नुकसान बड़ा आर्थिक झटका है। उन्होंने लोगों से अपील की है की वे टिड्डी दल को देखते ही थाली और ड्रम बजायें ताकि टिड्डियाँ खेतों में ना बैठ पाये। साथ ही इन्हें मारने के लिए खेतों में दवा का स्प्रे करे ।

About मूलचन्द पेसवानी

Check Also

आयुर्वेद ग्रथों के विश्लेषणात्मक अध्ययन से नवग्रह आश्रम देश को देगा नई दिशा-भीलवाडा

आयुर्वेद ग्रथों के विश्लेषणात्मक अध्ययन से नवग्रह आश्रम देश को देगा नई दिशा नवग्रह आश्रम …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *