Breaking News
Home / राजस्थान / भीलवाड़ा / भीलवाड़ा में कोरोना पोजेटिव की मौत, किडनी फैलियर होना बना कारण

भीलवाड़ा में कोरोना पोजेटिव की मौत, किडनी फैलियर होना बना कारण

भीलवाड़ा में कोरोना पोजेटिव की मौत, किडनी फैलियर होना बना कारण

भीलवाड़ा-मूलचन्द पेसवानी 

कोरोना जोन बन चुके भीलवाड़ा में गुरूवार को एक पोजेटिव मरीज की मौत हो गयी है। हालांकि मृतक नारायण सिंह सौंलकी (58) किडनी पेशेंट था तथा उसका डायलिसिस हो रहा था। चिकित्सक मृतक की किडनी फेलियर होने की बात कह रहे है पर वो कोरोना पोजेटिव भी था, यह रिपोर्ट बुधवार को देर सांय ही मिली थी। अब तक भीलवाड़ा में पोजेटिव मृतक सहित 18 चिन्हित हो चुके है। कम्यूनिटी क्षेत्र का मृतक होने से जिला प्रशासन व चिकित्सा विभाग प्रशासन की चिंता बढ़ गयी है। जिला प्रशासन ने वार रूम तैयार कर अपनी तैयारियां तेज की दी है। मृतक के भीलवाड़ा शहर की शाम की सब्जी मंडी क्षेत्र का होने से प्रशासन ने वहां अलर्ट जारी कर दिया है तथा सभी को घरों में रहने की हिदायत दी है। 

भीलवाड़ा में बुधवार को चार और संदिग्धों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई। इन चार में से दो बांगड़ हॉस्पिटल का स्टाफ है। बाकी एक रोगी ऐसा है जिसने कुछ दिनों पहले इसी हॉस्पिटल में डायलिसिस करवाई थी और दूसरा रोगी ऐसा है जो इसी हॉस्पिटल में डॉक्टर को चेकअप करवाने आया था।

यह मौत भीलवाड़ा के उस मरीज की हुई है जिसकी जांच रिपोर्ट बुधवार को ही पॉजिटिव आई थी। वह किडनी का मरीज था और लम्बे समय से डायलिसिस पर था। वह नियमित रूप से बांगड़ हॉस्पिटल में ही डायलिसिस करवाता था। बांगड़ हॉस्पिटल ही उसके संक्रमित होने की जगह बना। हालांकि, कोरोना के कारण उसकी प्रतिरोधक क्षमता पर असर पड़ा और किडनी के साथ अन्य भी कई बीमारियों से वह जकड़ता चला गया। ऐसे में उसे बचाया नहीं जा सकता। चिकित्सक उसकी मौत का कारण किडनी का खराब होना बता रहे हैं। लेकिन, उसे कोरोना पॉजिटिव होने के कारण उसकी गिनती कोरोना से मौत में भी की जा सकती है।

मेडिकल काॅलेज भीलवाड़ज्ञ के प्राचार्य डा. राजेन्द्र नंदा ने कहा कि मृतक की किडनी फेल होने के कारण उसकी रोग प्रतिरोधक क्षमता खराब हो गयी थी। किडनी फेलियर उसकी मौत का कारण है। मृतक के परिजनों के सेंपल टेस्ट कराये जा रहे है। मृतक के पड़ौसियों की भी जांच होगी। 

जिला कलेक्टर राजेन्द्र भट्ट ने 18 केस पोजेटिव होने की पुष्टि करते हुए कहा है कि इनमें से दो की रिपोर्ट उपचार के बाद नेगेटिव आ गयी है।

About मूलचन्द पेसवानी

Check Also

पांच साल पुराने गधा चोरी के मामले को खुद भगवान से सुलझाया

पांच साल पुराने गधा चोरी के मामले को खुद भगवान से सुलझाया शाहपुरा -(मूलचन्द पेसवानी) …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *