Home / राजस्थान / भीलवाड़ा / भीलवाड़ा में सीएए के समर्थन में तीन किलोमीटर लम्बी समर्थन रैली, बाजार रहे बंद
भीलवाड़ा में सीएए के समर्थन में तीन किलोमीटर लम्बी समर्थन रैली, बाजार रहे बंद
भीलवाड़ा में सीएए के समर्थन में तीन किलोमीटर लम्बी समर्थन रैली, बाजार रहे बंद

भीलवाड़ा में सीएए के समर्थन में तीन किलोमीटर लम्बी समर्थन रैली, बाजार रहे बंद

भीलवाड़ा में सोमवार को नागरिकता संशोधन कानून के समर्थन में शहर पूर्णतः बंद रहा। सर्व समाज की कानून के समर्थन रैली में 20 हजार से अधिक लोग सड़कों पर उतर इसमें शामिल हुए। रैली मेें पांच हजार दुपहिया वाहन भी आगे आगे शामिल हुए। करीब तीन किलोमीटर रैली से शहर के प्रमख बाजारों की सड़कें जाम हो गयी। इस दौरान जगह जगह बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात रहा। कलक्ट्रेट परिसर को पुरी तरह से सुरक्षा घेरे में पुलिस जाब्ते ने ले रखा था। प्रमुख बाजारों में रैली की आवाज गूंजाने के लिए बाजार में लगे पोलो पर एक हजार से अधिक लाउडस्पीकर लगाए गए। प्रशासनिक व पुलिस अधिकारी शहर की कानून एवं शांति व्यवस्था पर नजर रखने के घुमते रहे। रेली के बाद जिला कलेक्टर को कानून के समर्थन में ज्ञापन दिया।
जिला भाजपा के साथ ही हिन्दूवादी संगठनों, सर्व समाज ने विभिन्न व्यापारिक संगठनों के सहयोग से नागरिकता संशोधन कानून के समर्थन में सोमवार सुबह 10 बजे से दोपहर 12 बजे तक स्वैच्छिक भीलवाड़ा बंद का आह्वान किया था। जिस पर बाजार पूरे बंद रहे। आह्वान का असर सुबह नौ बजे ही शहर में नजर आने लगा। सभी प्रमुख बाजार नहीं खुले और ना ही कोई प्रतिष्ठान खुला। चाय-कचैरी-पोहे की स्टालें व हाथ ठेले भी बंद रहे। विभिन्न संगठनों के साथ ही भाजपा के पदाधिकारी व बड़ी संख्या में कार्यकर्ता बंद के समर्थन में सुबह साढ़े नौ बजे सडक पर उतर आए और देखते ही देखते प्रमुख बाजारों में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के समर्थन के साथ ही देश की एकता, अखडण्ता व साम्प्रदायिक सौहार्द के नारे गूजंने लगे। साथ ही नागरिकता संशोधन कानून समेत विभिन्न कानूनों के समर्थन में नारे लगाए जाने लगे।
सर्व समाज की समर्थन रैली हरिशेवा धाम के महामंडलेश्वर स्वामी हंसराम महाराज की अगुवाई में सांगानेरी गेट स्थित शहीद चैक से सुबह दस बजे शुरू हुई। रैली आगे बढ़ती गई और दुपहिया वाहनों का कारवां भी इसमें बढ़ता गया। बड़ी संख्या में शहर के लोग भी रैली के समर्थन में सड़क पर उतर आए। करीब तीन किलोमीटर रैली में शामिल लोगों तक आवाज पहुंच सकें, इसके लिए रैली मार्ग के पोलों पर लाउड स्पीकर लगाए गए।
रैली में शामिल अधिकांश युवाओं ने केसरिया साफा बांध रखा था और उन्होंने हाथों में तिरंगा व ध्वज थाम रखे थे। रैली में करीब 20 हजार से अधिक लोगों के शामिल होने और 5 हजार से अधिक वाहनों के शामिल होने से शहर के प्रमुख् बाजारों से जुड़े मार्गों को पुलिस प्रशासन ने बैरिकेट लगा कर बंद कर दिया। ऐसे में बाजार की गलियों में भी वाहनों के फंसने से जाम के हालात रहे।
समर्थन रैली के दौरान यातायात व्यवस्था प्रभावी बनी रहे, इसके लिए भी पुलिस प्रशासन ने कड़े बंदोबस्त किए। इसके बावजूद जाम की स्थिति रैली के दौरान बनी रही। कलक्ट्रेट को पूरी तरह से पुलिस छावनी में तब्दील कर दिया गया। पुलिस के साथ ही अर्द्ध सैनिक बलों के जवान भी शहर में गश्त करते रहे। बंद के समर्थन में मेडिकल व्यवसायी एवं निजी चिकित्सालय भी सुबह रैली के दौरान बंद रहे।

Support us

कोई भी मीडिया हो उन्हें कभी फंड की चिंता नहीं करनी पड़ती क्यूंकि लोकतंत्र को बचाने के नाम पर उन्हें विभिन्न स्रोतों से पैसा मिलता है। लेकिन हमें सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके समर्थन की आवश्यकता है। आपसे जितना हो सके हमें योगदान करें ताकि हम आपके लिए आवाज उठा सकें।

Donate with

Check Also

भीलवाड़ा जिला कलेक्टर पहुंचे मृतकों के घर परिजनों को दी सांत्वना, सौंपे सीएम सहायता राशि के चेक

चित्तौड़गढ़-कोटा राष्ट्रीय राजमार्ग दुर्घटना भीलवाड़ा जिला कलेक्टर पहुंचे मृतकों के घर परिजनों को दी सांत्वना, …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *