Breaking News
Home / उत्तराखंड / चमोली / भैटा के जंगलों में भीषण आग लगने से प्लांटेशंनस सहित बन्य जीवों पर खड़ा हुआ संकट-चमोली

भैटा के जंगलों में भीषण आग लगने से प्लांटेशंनस सहित बन्य जीवों पर खड़ा हुआ संकट-चमोली

जोशीमठ:जंगलों में लगी आग और बन विभाग जोशीमठ में जेवविविधता की बैठक में मशगूल,जोशीमठ छेत्र के कल्प घाटी और थेंग बीट के जंगलों में लगी आग बुझाने में छूटे बनकर्मियों की पसीने,

नवीन भंडारी जोशीमठ, 

 जोशीमठ के दुरस्त थेंग घाटी और उरगम के जंगलों में इन दिनों भीषण आग लगी हुई है जिससे जंगल धू-धू कर जल रहे हैं जिसके चलते लाखों की बेशकीमती वन संपदा और जेव विविधता को भारी नुकसान पहुंच रहा है, इधर जंगल जल रहे उधर वन विभाग के अधिकारी और बन कर्मी जोशीमठ नगर में छेत्र की जेव् विविधता संरक्षण के लिए गोष्टी करने में मशगूल है, हालांकी बनकर्मी ग्रा मीनो के साथ लगा तार आग पर नियन्त्रण पाने में जुटे है लेकिन अबतक आग पर काबू नहीं पाया जा सका है।

बता देन कि अभी फायर सीजन नही है समय है बावजूद इसके पहली बार जोशीमठ विकासखंड के कई छेत्र के जंगलों मे जबरदस्त आग धधक रही है,ऐसे में पार्क की कार्यप्रणाली पर सवालिया निशान उठना लाजमी होगा करती है ,बता दें की जोशीमठ नन्दादेवी नेशनल पार्क में अधिकारियों की भी कमी चल रहा है यहां विभाग में एसडीओ का पद पिछले साल से रिक्त है फ़िलहाल विभाग में मौजूद अधिकारियों का कहना है कि उप वन संरक्षक भी बैठक में गए हुए हैं दूसरी तरफ जोशीमठ छेत्र के जंगल धू धू कर जलकर राख हो रहे हैं ।

वहीं ग्रामीणों का कहना है कि उनके जंगलों में लगातार आग लगी हुई है जंगली जानवर इधर से उधर भाग रहे हैं हरे भरे पेड़ पौधे जलकर राख हो रहे हैं लेकिन वन विभाग आग बुझाने में नाकाम साबित हो रहा है लोगों का कहना है कि हर वर्ष पहाड़ों में आग लगने से लाखों की वन सम्पदा जलकर राख होती है लेकिन विभाग इस ओर कोई भी ठोस कदम नहीं उठा पाता है वही लगातार जंगलों में आग लगने से दुआ भी फैल रहा है जिससे लोगों को सांस लेने में दिक्कत हो रही है

About नवीन सिंह भंडारी

Check Also

जोशीमठ के स्वास्थ्य सामुदायिक केंद्र बन चुका है रेफर सेंटर-चमोली

चमोली जिले में स्थित जोशीमठ जहां आज भी आजादी के 73 साल बाद भी हॉस्पिटल …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *