Home / राजस्थान / जोधपुर / युवाओं ने डा भीमराव अंबेडकर के 63 वे महापरिनिर्वाण दिवस मनाया – तिवरी
युवाओं ने डा भीमराव अंबेडकर के 63 वे महापरिनिर्वाण दिवस मनाया - तिवरी
युवाओं ने डा भीमराव अंबेडकर के 63 वे महापरिनिर्वाण दिवस मनाया - तिवरी

युवाओं ने डा भीमराव अंबेडकर के 63 वे महापरिनिर्वाण दिवस मनाया – तिवरी

तिवरी तहसील के चेराई गाव मे आम्बेडकर नवयुवक मण्डल चेराई के तत्वावधान में आयोजित बाबा साहब डॉ भीमराव आंबेडकर के 63वें महापरिनिर्वाण दिवस पर युवाओं ने बाबा साहब की प्रतिमा पर पुष्प अर्पित कर श्रद्धांजलि दी। महामानव,प्रज्ञासुर्य, बहुजन उद्धारक, महिलाओं के मुक्ति दाता,संविधान निर्माता ,सिंबल ऑफ नॉलेज ,बौद्धिसत्व बाबा साहब को नमन वंदन किया गया। बैठक में रज्जाक मंगलिया ने बाबा साहब के जीवन पर प्रकाश डाला।

पप्पसा लिलावत ने कहा कि बाबा साहब ने जीवन भर दलितों महिलाओं व निचले तबके के उत्थान के लिए संघर्ष करते रहे। बाबा साहब ने भारत के संविधान में सभी को समान अधिकार देकर सबके लिए विकास के रास्ते खोल दिये। जेठाराम हालू ने बाबा साहब के सामाजिक संघर्षों पर प्रकाश डाला। बाबा साहब की सोच से ही भारतीय रिजर्व बैंक की स्थापना हुई।

ओमप्रकाश लिलावत ने कहा कि हजारों वर्षों से पिङीत नारी के मुक्ति दाता आम्बेडकर ही थे। गोसाईं लखानी ने बाबा साहब के विचारों को लोगों के सामने रखे। गणपत कङेला ने बताया कि बाबा साहब ने हमारे हाथों में कलम थमाई है जिससे मानव शिक्षित होकर अपना बौद्धिक विकास कर सकें। श्रद्धांजलि कार्यक्रम में बाबा साहब के अहसान को मानने वाले ललिता पवार,लक्ष्मणसिंह बौद्ध,टिकम लखानी और कई लोग उपस्थित थे।

Support us

कोई भी मीडिया हो उन्हें कभी फंड की चिंता नहीं करनी पड़ती क्यूंकि लोकतंत्र को बचाने के नाम पर उन्हें विभिन्न स्रोतों से पैसा मिलता है। लेकिन हमें सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके समर्थन की आवश्यकता है। आपसे जितना हो सके हमें योगदान करें ताकि हम आपके लिए आवाज उठा सकें।

Donate with

Check Also

विद्युत दरों की बढ़ोतरी से जुड़ा मामला-जोधपुर

विद्युत दरों की बढ़ोतरी से जुड़ा मामला तिंवरी और मथानिया क्षेत्र में किसान लामबंद, जोधपुर …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *