Home / राजस्थान / जयपुर / राजस्थान विश्वविद्यालय में छात्र छात्राओं का राज्य सरकार के खिलाफ धरना प्रदर्शन – जयपुर
राजस्थान विश्वविद्यालय में छात्र छात्राओं का राज्य सरकार के खिलाफ धरना प्रदर्शन - जयपुर
राजस्थान विश्वविद्यालय में छात्र छात्राओं का राज्य सरकार के खिलाफ धरना प्रदर्शन - जयपुर

राजस्थान विश्वविद्यालय में छात्र छात्राओं का राज्य सरकार के खिलाफ धरना प्रदर्शन – जयपुर

राजस्थान विश्वविद्यालय परिसर में छात्र छात्राएं विभिन्न मांगों को लेकर राज्य सरकार के खिलाफ धरना प्रदर्शन कर रहे है। छात्रों की मांगों को सोमवार के दिन आम आदमी पार्टी का भी समर्थन हासिल हो गया है। सोमवार को आम आदमी पार्टी की प्रदेश इकाई के सचिव देवेंद्र शास्त्री,यूथ विंग प्रदेश संगठन सचिव अभिषेक जैन बिट्टू यूथ विंग के वरिष्ठ सदस्य एडवोकेट अभिषेक सांघी सहित आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने धरने में शामिल हुए और छात्र-छात्राओं से संवाद किया और प्रदर्शनकारी छात्रों को संबोधित भी किया। आम आदमी पार्टी ने राज्य सरकार को घेरते हुए कहा कि “यह प्रदेश सरकार की नीति है कि आज छात्रों को पढ़ने के लिए धरना प्रदर्शन करना पड़ रहा है
जो सरकार युवा भारत युवा राजस्थान का नारा देकर सत्ता पर काबिज हो जाती है असल में वही सरकार छात्रों की मांगों को दरकिनार कर सत्ता का सुख भोग रही है और सरकार चुनने वाले युवा धरना प्रदर्शन करने को मजबूर हो रहे है। आम आदमी पार्टी ने अपनी विज्ञप्ति में कहा कि प्रदेश हो या देश का छात्र युवा देश प्रदेश समाज के भविष्य की नींव है आज इनकी नींव को भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ा बेहतर भविष्य को कुचलने का प्रयास कर नींव को राज्य सरकार खोखला कर रही है । प्रदेश सचिव देवेंद्र शास्त्री ने छात्रों को संबोधित करते हुए कहा कि राज्य सरकार को छात्रों और युवाओं की भावनाओं और उनके आंदोलनों का सम्मान करना चाहिए यह चिंतन का विषय है कि जो छात्र पढ़ना चाहते है वह धरना प्रदर्शन करने को मजबूर हो रहे है असल मे राज्य सरकार जनता के हितों में नही बल्कि चहेतों के हितों की रक्षा कर रही है। हम आपके प्रदर्शन में शामिल होकर दिल्ली का बखान करने नही आये है अगर दिल्ली देखनी है तो पार्टी को और दिल्ली की जनता को फॉलो करो आपको दिल्ली सरकार के कार्य खुद-बे-खुद देखने को मिल जाएंगे। 5 साल में एक भी छात्र ने दिल्ली सरकार की शिक्षा नीति के खिलाफ कोई प्रदर्शन नही किया क्योकि दिल्ली सरकार ने पहले ही दिल्ली का शिक्षा का बजट 25 फीसदी रखा जो पूरे देश मे किसी भी राज्य में नही है। लेकिन प्रदेश की सरकार जिसने अपना जो शिक्षा बजट रखा है उसका आधा भी खर्च नही कर पा रही है जिसके कारण आज छात्रों को धरना प्रदर्शन करने पर मजबूर होना पड़ रहा है। यूथ विंग संगठन सचिव अभिषेक जैन बिट्टू ने बताया कि छात्रों से मुलाकात के बातचीत के दौरान जानकारी मिली कि छात्र परीक्षा तिथि बढ़वाना चाहते है साथ ही फर्स्ट ग्रेड में जो 5 हजार पद है उनको 10 हजार करवाना चाहते है। जो जायज मांग है,आम आदमी पार्टी छात्रों की इन मांगों का खुलकर समर्थन करती है और सरकार से मांग करती है कि वह छात्रों की इस मांग को तुरंत तत्काल प्रभाव से स्वीकार करे और छात्रों को राहत देंवे। साथ ही छात्रों की मांग है कि वह बाहरी राज्यों के अभ्यर्थियों का कोटा सुनिश्चित करे व 1.50 लाख नए अभ्यर्थियों को पर्याप्त समय उपलब्ध करवाया जाए। यह भी जायज मांगे है इस पर भी जल्द से जल्द विचार कर लागू करना चाहिए। उर्दू विषय पर कोई पद नही है जिसे भी शामिल किया जाना चाहिए एवं EWS में संशोधन करने से वंचित रहे अभ्यर्थियों को भी पर्याप्त समय मिलना चाहिए। अभिषेक जैन ने कहा कि छात्रों की सभी मांगे जायज है राज्य सरकार और शिक्षा विभाग और मंत्रालय को इस पर गंभीरता से विचार-विमर्श कर तत्काल लागू करना चाहिए ठंड के इस मौसम में पिछली 2 रातों सहित छात्रों को जायज मांगो को लेकर किताब-कॉपी छोड़कर दिन-रात काले करने पड़ रहे है। आम आदमी पार्टी छात्रों की मांगों का खुलकर समर्थन करती है और राज्य सरकार से लागू करने की अपील करती है अन्यथा आम आदमी पार्टी भी इस आंदोलन में शामिल होकर राज्य के प्रत्येक जिलों में छात्रों की आवाज को ओर बुलंद करेगा।

About सुरेन्द्र कुमार सोनी

Check Also

मोबाइल और पैसा लूटने वाली गैंग को धर दबोचा -जयपुर

जयपुर पुलिस आयुक्त यातायात जयपुर ने 2 दिन पहले यातायात पुलिसकर्मियों की हौसला अफजाई की …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *