Breaking News
Home / राजस्थान / भीलवाड़ा / राजेन्द्र मार्ग स्कूल में संस्थाप्रधान वाक्पीठ का उद्घाटन-भीलवाड़ा

राजेन्द्र मार्ग स्कूल में संस्थाप्रधान वाक्पीठ का उद्घाटन-भीलवाड़ा

राजेन्द्र मार्ग स्कूल में संस्थाप्रधान वाक्पीठ का उद्घाटन 

शिक्षा ही राष्ट्र निर्माण की धूरी- रामपाल शर्मा

भीलवाड़ा- मूलचन्द पेसवानी 

भीलवाड़ा के सुवाणा की ब्लाॅक स्तरीय माध्यमिक विद्यालयों के संस्थाप्रधानों की सत्रान्त वाक्पीठ का शुभारंभ आज राउमावि राजेन्द्र मार्ग स्कूल में कांग्रेस जिलाध्यक्ष रामपाल शर्मा द्वारा माँ सरस्वती के समक्ष द्वीप प्रज्ज्वलन से प्रारम्भ हुआ। विद्यालय के विद्यार्थियों द्वारा साज-बाज के साथ मंगलाचरण प्रस्तुत किया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी राधेश्याम शर्मा ने की। इस वाक्पीठ में लगभग 82 संस्था प्रधानों एवं विभिन्न शिक्षक संघों के प्रतिनिधियों ने भाग लिया। आयोजक विद्यालय के संस्थाप्रधान श्यामलाल खटीक ने सभी आगन्तुक संस्थाप्रधानों एवं शिक्षक संघ के प्रतिनिधियों को गुलाब का पुष्प भेट कर स्वागत व अभिनन्दन किया। 

उद्घाटन सत्र की अध्यक्षता करते हुए मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी राधेश्याम शर्मा ने शिक्षा में नवाचारों का प्रयोग करने का आह्वान करते हुए भीलवाड़ा जिले में सभी बोर्ड परीक्षाओं के परिणाम उत्कृष्ट रखने हेतु प्री-बोर्ड परीक्षाओं, रेमेडियम कक्षाओं एवं विद्यार्थियों के निरन्तर सम्पर्क में रहने का आह्वान किया। जिला कांग्रेस अध्यक्ष रामपाल शर्मा ने कहा कि शिक्षा ही राष्ट्र निर्माण की धूरी होती है, शिक्षक को भगवान से भी ऊँचा समझा गया है। सभी संस्थाप्रधान दृढ़ संकल्पित होकर विद्यालय में अध्ययनरत सभी विद्यार्थियों का संर्वागीण विकास करे, क्योकि नेतृत्वकत्र्ता के पीछे ही योजनाओं का क्रियान्वयन सम्भव होता है। सरकारी विद्यालय सभी सुविधाओं से युक्त हो चुके है। अतः अब शिक्षा के स्तर में किसी प्रकार की कमी नहीं रहनी चाहिए।

एडीपीसी समसा प्रहलाद पारीक ने विभिन्न योजनाओं की जानकारी देते हुए इसका अधिक से अधिक लाभ उठाने के लिये उचित तरिके से प्रस्ताव भिजवाने का निर्देश दिया। विशिष्ठ अतिथि रेखा हिरण जिलाध्यक्ष महिला कांग्रेस ने महात्मा गांधी की 150वीं स्वर्ण जयन्ती के सभी कार्यक्रमों को शानदार ढंग से आयोजित करने के लिये प्रधानाचार्य श्याम लाल खटीक का साधूवाद दिया, उन्होंने कहा कि महात्मा गांधी के मार्ग पर चलकर ही राष्ट्र संर्वागीण विकास कर सकता है। विशिष्ठ अतिथि नगर परिषद् भीलवाड़ा की पूर्व सभापति मंजु पोखरना ने बालिका शिक्षा पर विशेष जोर दिया एवं नामांकन बढ़ाने हेतु और अधिक प्रयास करने का आह्वान किया।

सुवाणा की मुख्य ब्लाॅक शिक्षा अधिकारी साबिया बानो ने बोर्ड परीक्षा परिणाम उन्नयन हेतु इस ब्लाॅक में किये जा रहे नवाचार प्रयास को सफल बनाने का आह्वान किया तथा प्री-बोर्ड से प्राप्त परिणामों का मूल्यांकन कर विद्यार्थियों को विशेष कक्षाओं के माध्यम से पढ़ाने पर जोर दिया। आयोज्य विद्यालय के संस्थाप्रधान श्याम लाल खटीक, वाक्पीठ अध्यक्ष प्रधानाचार्य नरेन्द्र शर्मा, सचिव डाॅ रामेश्वर जीनगर ने सभी अतिथियों का बूके, साफा व शाॅल द्वारा भावभीना हार्दिक स्वागत किया। 

वार्ता सत्र में प्रधानाचार्य शीला मीणा ने शालादर्पण पोर्टल अपडेशन एवं शालादर्पण रेंकिग सुधार पर वार्ता प्रस्तुत की। बोर्ड परीक्षा परिणाम उन्नयन में स्थानीय विद्यालय के परीक्षा परिणाम की भूमिका पर प्रधानाचार्य विजयपाल वर्मा ने प्रकाश डाला। विद्यालय कोष एवं विभिन्न राजकीय मदों से प्राप्त राशि एवं निलामी प्रक्रिया से प्रधानाचार्य दिनेश पीपाड़ा ने अवगत कराया। वर्तमान समय में पीईईओ की भूमिका बहुत विविधतापूर्ण एवं चैलेंजिग होते हुए भी एक प्रधानाचार्य किस प्रकार सभी उत्तरदायित्व का निर्वहन कर सके इस पर प्रधानाचार्य सुन्दर सिंह चुण्डावत ने प्रकाश डाला। पे-मैनेजर पर डाटा अपडेशन एवं डिजीटल सिग्नेचर की प्रक्रिया को प्रधानाचार्य राजेन्द्र कुमार शर्मा ने प्रस्तुत किया। कार्यक्रम का संचालन प्रधानाचार्य चन्द्रप्रकाश मारू ने किया। अन्त में वाक्पीठ अध्यक्ष नरेन्द्र कुमार शर्मा, डाॅ रामेश्वर जीनगर ने सभी को आभार ज्ञापित किया।

About मूलचन्द पेसवानी

Check Also

सात दिन में 22 कि लाख से ज्यादा के सर्वे की चुनौती से पाया पार

ऐसे लिखी गई जिले के ग्रामीण हिस्से के सर्वे की पटकथा सात दिन में 22 …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *