Home / मध्यप्रदेश / झाँसी / लॉक डाउन के कारण सभी धार्मिक त्यौहार घर पर ही मनाए जाएंगे-झांसी

लॉक डाउन के कारण सभी धार्मिक त्यौहार घर पर ही मनाए जाएंगे-झांसी

 झांसी (सूचना विभाग) : जनपद में लॉक डाउन के कारण सभी धार्मिक त्यौहार घर पर ही मनाए जाएंगे। कोई भी बाहर नहीं निकलेगा और ना ही भीड़ आदि करेंगे। धर्म स्थलों में पूजा, अर्चना व इबादत हेतु चार-पांच व्यक्ति उपस्थित रहेंगे, धर्मगुरु ऐसे लोगों के नाम उपलब्ध कराएं। सोशल डिस्टेंसी का कड़ाई से पालन करना होगा। धर्म स्थलों पर सफाई व्यवस्था नियमित होगी। सफाई कर्मी को चिन्हित करते हुए ई पास जारी होंगे।

 उक्त उद्गार जिलाधिकारी श्री आन्द्रा वामसी ने कैंप स्थित अपने सभाकक्ष में सर्व धर्म सद्भावना समिति के सदस्य एवं धर्म गुरुओं के साथ आने वाले त्यौहारों की जानकारी लेते हुए व्यक्त किए। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस से बचने हेतु आप सभी अपील करें कि त्यौहार घर पर ही मनाएं, बाहर ना निकले।

 जिलाधिकारी श्री आन्द्रा वामसी ने धर्मगुरुओं के साथ बैठक में कहा की लॉक डाउन के दौरान जो भी त्यौहार आ रहे हैं उन्हें घर पर ही मनाएं। उन्होंने कहा कि मस्जिद से रमजान की सूचना दे कि लोग घर पर ही रहे। मस्जिद में पेश इमाम सहित 5 लोगों की अनुमति दी जाएगी। संबंधित धर्मगुरु उनके नाम, पता व मोबाइल नंबर दें और ईपास हेतु लिंक द्वारा आवेदन करें। उन्होंने कहा कि सोशल डिस्टेंसी का पालन सख्ती से किया जाए। उन्होंने शहर काजी एवं मुफ्ती काजी से जल्द नामों की सूची दिए जाने के निर्देश दिए ।

बैठक में आचार्य हरिओम पाठक द्वारा अक्षय तृतीया के उपलक्ष्य में शादियों की अनुमति दिए जाने की बात कही। जिलाधिकारी ने कहा कि शादी अनुष्ठान मंदिर प्रांगण में ही आयोजित हो तथा वर- वधू पक्ष से पांच-पांच लोग ही शामिल हो तथा सोशल डिस्टेंसी का पालन किया जाए।उन्होंने पंडित व पुजारियों के नामों की सूची जल्द उपलब्ध कराए जाने को कहा ताकि उन्हें ई-पास जारी किए जा सके ।

आर्य समाज के अशोक सूरी ने भी आर्य समाज मंदिर में शादी अनुष्ठान की अनुमति मांगी। उन्हें भी जिलाधिकारी द्वारा बताया गया कि अधिकतम 10 लोग शामिल होंगे। आवश्यक दूरियां स्थापित करते हुए समारोह व वैदिक संस्कार मंदिर प्रांगण में ही संपन्न हो। समारोह में शामिल होने वालो की सूची उपलब्ध कराएं।

 ज्ञानी महेंद्र सिंह से बात करते हुए जिलाधिकारी ने कहा कि अरदास गुरुद्वारे में ज्ञानी ही करेंगे, शेष सभी भक्तजन घर पर ही रहे। अति आवश्यक है तो 5 लोग एक समय में दूरी बनाकर गुरुद्वारे में अरदास कर सकेंगे, परंतु नामों की सूची उपलब्ध कराना होगी।

 बौद्ध भिक्षु भंते जी ने मंदिर में सफाई एवं साधकों की आने की अनुमति मांगी तो जिलाधिकारी ने कहा कि पांच व्यक्ति ही दूरी बनाकर आ सकते हैं।

 जिलाधिकारी श्री आन्द्रा वामसी ने सर्वधर्म सद्भावना समिति की उपाध्यक्षा डॉ नीति शास्त्री को समस्त धर्म गुरुओं व उनके द्वारा दिए गए नामो के ई-पास लिंक पर आवेदन कराते हुए उपलब्ध कराने के निर्देश दिए ।

बैठक का संचालन डॉ नीतू शास्त्री ने किया।

 इस मौके पर फादर सदानंद, फादर सहाय नाथन, शहर काजी मोहम्मद हाशिम, शहर काजी मुफ्ती साबिर सहित अन्य धर्मगुरु उपस्थित है।

——————————–

 जिला सूचना कार्यालय झांसी।

Support us

कोई भी मीडिया हो उन्हें कभी फंड की चिंता नहीं करनी पड़ती क्यूंकि लोकतंत्र को बचाने के नाम पर उन्हें विभिन्न स्रोतों से पैसा मिलता है। लेकिन हमें सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके समर्थन की आवश्यकता है। आपसे जितना हो सके हमें योगदान करें ताकि हम आपके लिए आवाज उठा सकें।

Donate with

Check Also

छात्रा से रेप के सभी आरोपी पॉलिटेक्निक छात्रों पर एनएसए की कार्रवाई

झाँसी के पॉलिटेक्निक कॉलेज परिसर में एक छात्रा के साथ हुई रेप की घटना के …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *