Home / राजस्थान / भीलवाड़ा / लोकडाउन में भी चल रहा है अवैध व्यवसायिक कांपलेक्स का निर्माण कार्य भीलवाडा

लोकडाउन में भी चल रहा है अवैध व्यवसायिक कांपलेक्स का निर्माण कार्य भीलवाडा

लोकडाउन में भी चल रहा है अवैध व्यवसायिक कांपलेक्स का निर्माण कार्य
महामंडलेश्वर स्वामी हंसराम टीम ने रोकने का प्रयास किया तो दी धमकी
भीलवाड़ा-(मूलचन्द पेसवानी)
भीलवाड़ा में कोरोना संक्रमण को लेकर 51 दिनों से चल रहे कफ्र्यू व लोकडाउन फेज 3 के अंर्तगत जहां प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के निर्देश पर हर व्यक्ति जान है तो जहान है के तहत अपनी जान को बचाने का प्रयास करने में लगा है वहीं जिला प्रशासन, पुलिस प्रशासन व स्थानीय निकाय प्रशासन की अनदेखी के चलते ही शहर के प्रतिष्ठित हरिशेवा धाम के उत्तरी दिशा में स्थित एक व्यवसायिक काॅम्लेक्स का अवैध निर्माण आज सुबह से अनवरत चल रहा है। इस अवैध निर्माण काम को रोकने पहुंची महामंडलेश्वर हंसराम टीम को न केवल डराया धमकाया गया वरन जान से मारने तक की धमकी देते हुए कहा कि कोई उनका कुछ नहीं बिगाड़ सकता है। लोकडान व कफ्र्यू में क्या काम को बंद कर दे । हम आपको बता दे कि इस निर्माण कार्य स्थल काम करने वाले किसी भी श्रमिक के पास सेनेटाइजेशन व मास्क की कोई सुविधा नहीं है यहां तक कि एक भी श्रमिक के पास अपना पहचान पत्र भी नहीं है। बोली से ये श्रमिक बंगाल व बिहार क्षेत्र के लग रहे हैं। काॅम्पलेक्स निर्माण कर्ता के स्वयंभू प्रभावशाली होने के कारण प्रशासन उसके खिलाफ कार्यवाही नहीं कर रहा है। इस संबंध में महामंडलेश्वर हंसराम टीम द्वारा पूर्व में भी दो बार लिखित में सूचना पुलिस को दी थी। आज इस संबंध में महामंडलेश्वर स्वामी हंसराम महाराज की ओर से सीधे पुलिस अधीक्षक को पत्र देकर पुलिस में मुकदमा दर्ज करने की मांग की है। पत्र के साथ इस निर्माण के संबंध में सभी आवश्यक दस्तावेज, कोर्ट के निर्णय की प्रतियां भी प्रस्तुत की गई है। अब देखना यह है कि भीलवाड़ा या गहलोत माॅडल के इस भीलवाड़ा शहर में चल रहे अवैध निर्माण पर रोक लगायी जाती है या फिर ढाक के तीन पात की कहावत को चरितार्थ किया जाता है।
महामंडलेश्वर स्वामी हंसराम महाराज ने आज बताया कि कोरोना वैश्विक महामारी अध्यादेश, भीलवाड़ा में कफ्र्यू के आदेश व लोकडाउन का खुलम खुल्ला उल्लंगन करते हुए हरिशेवा धाम उत्तरी दिशा में स्थित एक व्यवसायिक काॅम्लेक्स का अवैध निर्माण चल रहा है। वहां पर आज दिनांक को 30 श्रमिक कार्य कर रहे है। पुलिस कंट्रोल रूम को शिकायत करने पर 15 जनों को पुलिस के वाहनों में बैठाकर ले जाया जा चुका है पर निर्माण कार्य को नहीं रूकवाया गया है। पुलिस अधीक्षक को दी रिपोर्ट में स्वामी हंसराम ने कहा है कि उनको मौके पर काम रूकवाने का अनुरोध करने पर जान से मारने की धमकी दी गई तथा उनको अनसुना करते हुए कहा उलटा कहा गया कि उनका कोई कुछ नहीं बिगाड़ सकता है, सबको पता है हमारी कितनी उपर तक पहुंच है। स्वामी हंसराम ने कहा है कि एक तरफ भीलवाड़ा माॅडल का श्रेय लेने की होड़ मची हुई है नेता अब इसे गहलोत माॅडल बनाने पर तुले हुए है, माॅडल किसी के नाम से रहे लोगों ने संयम से काम लेकर माॅडल का निर्माण कराया है पर ऐसे में अगर अवैध निर्माण कार्य होता है तथा वहां पर 30 श्रमिक बिना लोकडाउन के नियमों का पालन किया जाता है तो कभी भी शहर में कोरोना संक्रमण इनके माध्यम से फैल सकता है। हरिशेवा में संत बिराजे है, शहर में भोजन व राशन सामग्री का वितरण यहां से हो रहा है वहां पर पूर्ण रूप् से लोकडाउन के नियमों का पालन किया जा रहा है ऐसे में हमेशा वहां काम करने वालों को अवैध निर्माण में कार्य करने वाले श्रमिकों से संक्रमण का खतरा बना है।
स्वामी हंसराम महाराज ने जिला प्रशासन, पुलिस प्रशासन व स्थानीय निकाय विभाग से कहा है कि तत्काल प्रभाव से इस प्रकार के अवैध निर्माण कार्यो पर रोक लगायी जाए। इस मामले में पूर्व में कोर्ट में पारित निर्णयों की समीक्षा कर मुकदमा दर्ज होकर सभी दोषियों की गिरफ्तारी तो होनी ही चाहिए। उन्होंने जिला प्रशासन से यहां तक कहा है कि पूरे शहर में इस प्रकार के कार्यो की सर्वे रिपोर्ट तैयार होनी चाहिए।
स्वामी हंसराम महाराज ने यह भी कहा है कि पूर्व में पुलिस थाने में रिपोर्ट देने व आज पुलिस अधीक्षक को रिपोर्ट देने के बाद भी अगर समय रहते हुए कोई कार्रवाई नहीं की जाती है तो संत समाज की बैठक के बाद रणनीति तैयार की जायेगी।

Support us

कोई भी मीडिया हो उन्हें कभी फंड की चिंता नहीं करनी पड़ती क्यूंकि लोकतंत्र को बचाने के नाम पर उन्हें विभिन्न स्रोतों से पैसा मिलता है। लेकिन हमें सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके समर्थन की आवश्यकता है। आपसे जितना हो सके हमें योगदान करें ताकि हम आपके लिए आवाज उठा सकें।

Donate with

Check Also

भीलवाड़ा जिला कलेक्टर पहुंचे मृतकों के घर परिजनों को दी सांत्वना, सौंपे सीएम सहायता राशि के चेक

चित्तौड़गढ़-कोटा राष्ट्रीय राजमार्ग दुर्घटना भीलवाड़ा जिला कलेक्टर पहुंचे मृतकों के घर परिजनों को दी सांत्वना, …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *