Breaking News
Home / अपराध / लोकतंत्र के चौथे स्तंभ की स्वतंत्रता पर हमला

लोकतंत्र के चौथे स्तंभ की स्वतंत्रता पर हमला

मुंबई पुलिस ने रिपब्लिक टीवी के एडिटर इन चीफ अर्नब गोस्वामी को आज सुबह उनके घर से गिरफ्तार किया।

गिरफ्तारी के बाद कैदी वाहन में ले जाते वक्त अर्नब गोस्वामी ने मीडियाकर्मियों से कहा कि पुलिस ने मुझे मारा है, मेरी पिटाई की है, व  यह भी कहा कि मुंबई पुलिस ने उनकी पत्नी, बेटे और सास-ससुर के साथ भी मारपीट की है।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक अर्नब गोस्वामी को इंटीरियर डिजाइनर अनवय नाइक वह उसकी मां कुमुद नाइक की 2018 में हुई मौत से जुड़े मामले में गिरफ्तार किया गया है, हालांकि इस बारे में रिपब्लिक टीवी का दावा है कि जिस केस में अर्नब गोस्वामी को गिरफ्तार किया गया है वह केस काफी समय पहले बंद हो चुका है।

रिपब्लिक टीवी द्वारा कुछ फुटेज भी जारी किए गए जिसमें अर्नब गोस्वामी व पुलिस के बीच नोकझोंक व खींचातानी होते दिख रही है, वही अर्नब के परिवारजनों का कहना है की मुंबई पुलिस ने उन्हें बाल पकड़कर उठाया और कैदी वैन में बैठाया गया तथा उनका फोन छीनने की कोशिश की गई।

वहीं दूसरी ओर अर्नव गोस्वामी की गिरफ्तारी पर सियासती मैदान में घमासान मच गया है, केंद्रीय मंत्री प्रह्लाद जोशी ने इस गिरफ्तारी के खिलाफ कहा कि जिस तरह पुलिस ने रिपब्लिक मीडिया के एडिटर इन चीफ अर्नब गोस्वामी को गिरफ्तार किया है, वह शर्मनाक है। यह सब महाराष्ट्र सरकार बदले की कार्यवाही के चलते कर रही है और यह मीडिया की स्वतंत्रता पर हमला है ।

वही केंद्रीय गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय ने भी अर्नब गोस्वामी की गिरफ्तारी की निंदा की है।

केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने विपक्ष पर हमला करते हुए कहा कि अर्नब के खिलाफ सोनिया के इशारे पर एफ आई आर दर्ज हुई है, यह लोकतंत्र के चौथे स्तंभ पर खुला हमला है।

आपको बताते चलें की अर्नब गोस्वामी पालघर लिंचिंग से लेकर सुशांत राजपूत जैसे मामलों में महाराष्ट्र सरकार पर हमलावर रहे हैं तथा लगातार इन मुद्दों को उठाते रहे हैं। इसी बीच पिछले दिनों मुंबई पुलिस ने उनके चैनल पर टीआरपी की धोखाधड़ी में शामिल होने का आरोप लगाया था।

Support us

कोई भी मीडिया हो उन्हें कभी फंड की चिंता नहीं करनी पड़ती क्यूंकि लोकतंत्र को बचाने के नाम पर उन्हें विभिन्न स्रोतों से पैसा मिलता है। लेकिन हमें सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके समर्थन की आवश्यकता है। आपसे जितना हो सके हमें योगदान करें ताकि हम आपके लिए आवाज उठा सकें।

Donate with

Check Also

गुर्जर आरक्षण आंदोलन मांग अब कोटा में जारी

गुर्जर आरक्षण की मांग को लेकर आज कोटा में श्री देव सेना के सदस्यों ने …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *