Home / राजस्थान / विद्यालयों में मनाया होली का त्यौहार-सवाई माधोपुर
विद्यालयों में मनाया होली का त्यौहार-सवाई माधोपुर
विद्यालयों में मनाया होली का त्यौहार-सवाई माधोपुर

विद्यालयों में मनाया होली का त्यौहार-सवाई माधोपुर

विद्यालयों में मनाया होली का त्यौहार

सवाई माधोपुर 7 मार्च। होली के त्यौहार के अवसर पर विभिन्न विद्यालयों में होली का त्यौहार हर्षोल्लास के साथ मनाया गया।

कैलाषनाथ द्विवेदी आदर्ष विद्या मन्दिर ठठेरा कुण्ड शहर स.मा. में धूम-धाम से फागोत्सव का आयोजन किया गया। इस अवसर पर प्रधानाचार्य महेन्द्र कुमार जैन ने भैया/बहिनों को बुराइयों का त्याग करकें अच्छाइयों को अपनानें हेतु प्रेरित किया साथ ही बताया कि होली के दिन केमिकल युक्त एवं चाइनीज रंगों का बहिष्कार कर गुणवत्ता युक्त रंगों का प्रयोग करना चाहिए। आचार्य चतुर्भुज शर्मा ने होलिका दहन से जुड़ी पौराणिक कथा भक्त प्रहलाद एवं हिरण्याकषिपु व उसकी बहिन होलिका के जीवन का वृतान्त बताया। इस मौके पर ओउम नमो भगवते वासुदेवाय नमः का जाप करवाया गया। भैया/बहिनों ने होली से संबंधित गीत सुनाये। भैया/बहिनों द्वारा राधा-कृष्ण बनकर अपनी सखियों के साथ रास रचाया एवं फूलों की होली खेली, सभी भैया/बहिनों ने फूलों की होली का आनन्द लिया।

कार्यक्रम के दौरान विमला राठौर, चन्द्रकला गौत्तम, अमृता सैन, हेमलता गुप्ता, तुलसीराम शर्मा, दामोदर प्रसाद शर्मा, महेष सैन, लटूरलाल मीणा, चंदन सैन, धनेष्वरी मेहरा, अनिता अग्रवाल, सावित्री गुप्ता, वर्षा सैन, राजेष सैनी, लक्ष्मीबाई नामा, बच्ची शर्मा, शालिनी अग्रवाल आदि उपस्थित थे।

इसी प्रकार स्टेप बाय स्टेप स्कूल सवाई माधोपुर मे होली का त्यौहार बडी धूमधाम से मनाया गया। इस अवसर पर विद्यालय समिति के अध्यक्ष धनराज सैनी व निदेशक अरविंद कुमार सिंहल, अध्यापक व बच्चों ने आयुर्वेदिक होली जिसमें कपूर धूप गन्धक लोंग लोहबान चन्दन नीम तुलसी व पीपल का प्रज्वलन किया।

तत्पश्चात बच्चों ने फूल होली खेली। बच्चों ने होली के गीतों पर मनमोहक नृत्य प्रस्तुत किया। इस अवसर पर बच्चों हेतु रंगोली व मेहन्दी प्रतियोगिता भी आयोजित की गई। जिसमें सभी बच्चों ने बहुत ही सुन्दर रंगोली बनायी। बच्चों को होली के समय स्वास्थ्य का ध्यान व कोरोना वायरस की जानकारी भी दी गयी। सभी बच्चों व अध्यापकों ने एक दूसरे के तिलक लगा कर होली की शुभकामनायें प्रेषित की।

Support us

कोई भी मीडिया हो उन्हें कभी फंड की चिंता नहीं करनी पड़ती क्यूंकि लोकतंत्र को बचाने के नाम पर उन्हें विभिन्न स्रोतों से पैसा मिलता है। लेकिन हमें सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके समर्थन की आवश्यकता है। आपसे जितना हो सके हमें योगदान करें ताकि हम आपके लिए आवाज उठा सकें।

Donate with

Check Also

औषधालय में दवाओं की कमी, मरीजों का औषधालय से मोह भंग

औषधालय में दवाओं की कमी, मरीजों का औषधालय से मोह भंग राजकीय आयुर्वेद औषधालय …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *