Home / राजस्थान / सवाई माधोपुर / विधिक सेवा शिविर का हुआ आयोजन-सवाई माधोपुर

विधिक सेवा शिविर का हुआ आयोजन-सवाई माधोपुर

जरूरतमंद एवं उपेक्षित वर्ग तक पहुंचे कल्याणकारी योजनाओं का लाभ

विधिक सेवा शिविर का हुआ आयोजन

सवाई माधोपुर राजस्थान राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के निर्देश पर रविवार को जिला विधिक सेवा प्राधिकरण सवाई माधोपुर एवं तालुका विधिक सेवा समिति खण्डार के तत्वाधान में विधिक सेवा शिविर का आयोजन सिविल न्यायाधीश एवं न्यायिक मजिस्ट्रेट, न्यायालय परिसर, रामेश्वर मोड, खण्डार पर हुआ। शिविर में मुख्य अतिथि के रूप में विधिक सेवा प्राधिकरण के अध्यक्ष व जिला एवं सत्र न्यायाधीश हरेंद्र सिंह थे। शिविर की अध्यक्षता जिला कलेक्टर डॉ.एस.पी. सिंह ने की। विशिष्ट अतिथि के रूप में पुलिस अधीक्षक सुधीर चौधरी, टोंक विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव पंकज बंसल उपस्थित रहे।

कार्यक्रम का शुभारंभ नालसा थीम सांग-एक मुट्ठी आसमान से हुआ। इसके बाद जिला विधिक सेवा प्राधिकरण की सचिव श्वेता शर्मा ने शिविर की विषयवस्तु, दिव्यांगजनों के अधिकार, महिलाओं एवं बालकों के अधिकार एवं संचालित कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी दी। उन्होंने विधिक सेवा प्राधिकरण के तत्वावधान में संचालित किए जाने वाले विधिक सहायता, लोक अदालत, विधिक जागरूकता एवं सेवा शिविरों के बारे में जानकारी दी। वहीं विधिक सेवा प्राधिकरण टोंक के सचिव एवं राज्य प्राधिकरण के मनोनीत प्रतिनिधि पंकज बंसल ने योजनाओं की जानकारी दी।

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि जिला न्यायाधीश हरेंद्र सिंह ने अपने संबोधन में कहा कि अक्षम को सक्षम बनाने, कमजोर एवं जरूरतमंद को लाभ पहुंचाने के लिए सरकार द्वारा योजनाओं का निर्माण किया जाता है। योजनाओं का लाभ अशिक्षा, दूर दराज में रहने, जागरूकता के अभाव आदि कई कारणों से पात्रों तक नहीं पहुंच पाता। ऐसे में विधिक सेवा शिविरों के तहत कल्याणकारी योजनाओं का लाभ पात्रों को मिले, इसके प्रयास किए जाते है। योजनाओं का लाभ अंतिम जरूरतमंद तक पहुंचाने में शिविर प्रभावी साबित हो रहे है।

जिला कलेक्टर डॉ.एस.पी.सिंह ने कार्यक्रम में सरकार की विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि अंतिम व्यक्ति तक योजनाओं का लाभ पहुंचे, इसके लिए निरंतर टीम के रूप में कार्य किया जा रहा है। जिला कलेक्टर ने प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, बेरोजगारी भत्ता, पेंषन योजना, प्रधानमंत्री आवास योजना, निःशुल्क दवा, निःशुल्क जांच योजना, एनएफएसए, श्रम विभाग की योजनाएं, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग सहित अन्य कल्याणकारी योजनाओं के बारे में जानकारी दी।

कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि पुलिस अधीक्षक सुधीर चौधरी ने योजनाओं का लाभ पात्रों को मिले इसके लिए समन्वित प्रयास की बात कही। ज़िला विधिक सेवा प्राधिकरण की सचिव श्वेता शर्मा ने विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा आयोजित किए जा रहे शिविरों तथा योजनाओं के बारे में जानकारी दी। 

कार्यक्रम में पात्र बच्चों को प्री-स्कूल किट, खिलौना किट, मृत्यु मुआवजा राशि के चेक, जन्म, मृत्यु एवं विवाह प्रमाण पत्र, नसबन्दी प्रमाण पत्र, कृषि यंत्र, वृद्धावस्था, विधवा एवं दिव्यांग पेंशन, प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत स्वीकृति पत्र, ट्राईसाइकिल, व्हील चेयर, स्कूली छात्राओं को साईकिल आदि से लाभान्वित किया गया। 

षिविर में एन.एफ एस.एम दलहन योजना के अन्तर्गत स्प्रे मशीन, पीवीसी पाईपलाईन योजना के अन्तर्गत दो चेक, ग्रामीण विकास एवं पंचायतीराज विभाग की ओर से कार्यशाला योजना के 28 स्वीकृति पत्र, 6 विधवाओं को पेशन, 4 दिव्यांगां को पेशन, 25 वृद्धजनों को पेंशन, स्वच्छ भारत मिशन योजना के अन्तर्गत उत्कृष्ट कार्य करने पर 30 प्रशंसा प्रमाण पत्र, प्रधानमंत्री आवास योजना के 40 पात्र व्यक्तियों को स्वीकृति पत्र, महात्मा गांधी योजना में 53 पात्र व्यक्तियों को जॉब कार्ड, श्रम विभाग की ओर से मृत्यु सहायता योजना के अन्तर्गत एक श्रमिक के परिवार को चैक, कृषि उपज मंडी समिति की ओर से 4 श्रमिकों के परिवारों को चेक वितरण, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग की ओर से 9 ट्राईसाईकिल, 3 व्हीलचेयर, 2 बैसाखी, मुख्यमंत्री स्वरोजगार ऋण योजना के अन्तर्गत 3 स्वीकृति पत्र, सहयोग उपहार योजना के अन्तर्गत 7 स्वीकृति पत्र, पालनहार योजना के अन्तर्गत 15 स्वीकृति पत्र, आर्थिक एवं सांख्यिकी विभाग की ओर से 1 जन्म-मृत्यु प्रमाण पत्र, 2 विवाह प्रमाण पत्र, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग की ओर से जनननी शिशु सुरक्षा योजना के अन्तर्गत 5 स्वीकृति पत्र, परिवार योजना के अन्तर्गत 5 महिलाओं को नसबन्दी प्रमाण पत्र, वन विभाग की ओर से क्षेत्रीय वन बाघ परियोजना तालडा द्वारा 27 एवं खण्डार की ओर से 8 मृतकों के परिवारों को मुआवजा राशि के चैक प्रदान किए गए, महिला एवं बाल विकास विभाग की ओर से 20 बच्चो को प्री स्कूल किट एवं खिलौना वितरण, 20 महिलाओं को प्रधानमंत्री मातृ वन्दन योजना के अन्तर्गत 5-5 हजार रूपये की राशि के चैक, शिक्षा विभाग की ओर 20 छात्राओं को साईकिल वितरण, श्रम विभाग की ओर से मृत्यु सहायता योजना के अन्तर्गत 01 एफडी प्रदान की, कृषि उपज मंडी समिति की ओर से राजीव गांधी कृषक साथी योजना के अन्तर्गत 4 मृतक श्रमिकों के परिवारों को चैक, कृषि विभाग की ओर से एनएफएसएम योजना के अन्तर्गत 4 दलहन कृषि उपकरण, पंचायती राज एवं ग्रामीण विकास विभाग की ओर से कार्यशाला योजना के अन्तर्गत 28 स्वीकृति पत्र, प्रधानमंत्री आवास योजना के अन्तर्गत 40 स्वीकृति पत्र, 6 विधवाओं को पेंशन, 4 दिव्यांगो को पेंशन, 25 वृद्धाओं को पेंशन, आयुर्वेद विभाग की ओर से 50 आमजन को काडा वितरण, राजस्थान राज्य पथ परिवहन निगम की ओर से 85 मासिक पास, 125 पास का नवीनीकरण किया गया। इस प्रकार शिविर के पूर्व तैयारियों के दौरान विभिन्न सरकारी योजनाओं के अन्तर्गत 23506 आमजन को लाभान्वित किया गया एवं शिविर के दौरान विभिन्न योजनाअें के अन्तर्गत 1024 आमजन को लाभान्वित किया गया। शिविर में तालुका विधिक सेवा समिति खण्डार के अध्यक्ष तापस सोनी, न्यायाधिकारीगण, प्रषासनिक अधिकारी, अधिवक्तागण, दिव्यांगजन, छात्र-छात्राएं सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी एवं अनेकों लाभार्थी उपस्थित थे।

Support us

कोई भी मीडिया हो उन्हें कभी फंड की चिंता नहीं करनी पड़ती क्यूंकि लोकतंत्र को बचाने के नाम पर उन्हें विभिन्न स्रोतों से पैसा मिलता है। लेकिन हमें सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके समर्थन की आवश्यकता है। आपसे जितना हो सके हमें योगदान करें ताकि हम आपके लिए आवाज उठा सकें।

Donate with

Check Also

महात्मा ज्योति राव फूले की पुण्यतिथि मनाई

महात्मा ज्योति राव फूले की पुण्यतिथि मनाई है  गंगापुर सिटी  सूरसागर गंगापुर सिटी स्थित माली …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *