Home / राजस्थान / सवाई माधोपुर / वेडिंग डीलर एसोसिएशन ने भारत की वेडिंग इंडस्ट्री को राहत देने हेतु प्रधानमंत्री के नाम दिया ज्ञापन

वेडिंग डीलर एसोसिएशन ने भारत की वेडिंग इंडस्ट्री को राहत देने हेतु प्रधानमंत्री के नाम दिया ज्ञापन

वेडिंग डीलर एसोसिएशन ने भारत की वेडिंग इंडस्ट्री को राहत देने हेतु प्रधानमंत्री के नाम दिया ज्ञापन

भारत की वेडिंग इंडस्ट्री को बचाकर राहत देने हेतु इवेंट लाइट जनरेटर डीजे साउंड लवाजमा फ्लावर कैटरिंग हलवाई बैंड फोटोग्राफर वाटिका विवाह स्थल आदि को लॉक डाउन के कारण शादी समारोह में 100 व्यक्तियों से ज्यादा शामिल होने की रोक को हटा कर 300 400 व्यक्तियों के करने बाबत ज्ञापन दिया

टेंट डीलर एसोसिएशन गंगापुर सिटी का कहना है कि हम देश में लगभग उक्त तीन करोड़ व्यापारी अपना व्यापार करते हैं हमारे व्यापार के साथ साथ लगभग 12 13 करोड़ कर्मचारी व मजदूर भी काम करते हैं 22 मार्च 2020 कोविड-19 लॉकडाउन के कारण देश भर में शादी समारोह में अधिकतम 50 व्यक्तियों के शामिल होने की छूट दे रखी है जिसके कारण हमारा व्यवसाय पूर्णता बंद है हमारे परिवार के सामने रोजी-रोटी का संकट पैदा हो गया है हम किराए के अलावा कोई अन्य व्यापार नहीं करते हमारा आपसे आग्रह है कि आगामी एक सितंबर 2020 से जारी होने वाली छूट गाइड लाइन में आप शादी समारोह में कम से कम 300 से 400 व्यक्तियों के शामिल होने की छूट आदेश जारी करवाएं ताकि हम हमारा व्यापार चालू कर सकें महोदय 6 महीने से हमारा व्यापार पूरी तरह बंद है पूरे देश के व्यापारी अखबार में है समय रहते आप आवश्यक कार्यवाही कर हमें राहत प्रदान करें महोदय हम आपको आश्वासन देते हैं कि केंद्र सरकार द्वारा जो गाइडलाइन दी जाएगी उसका इनको हम पालन के साथ समस्त कार्यक्रम शादी समारोह संपन्न करवाएंगे

Support us

कोई भी मीडिया हो उन्हें कभी फंड की चिंता नहीं करनी पड़ती क्यूंकि लोकतंत्र को बचाने के नाम पर उन्हें विभिन्न स्रोतों से पैसा मिलता है। लेकिन हमें सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके समर्थन की आवश्यकता है। आपसे जितना हो सके हमें योगदान करें ताकि हम आपके लिए आवाज उठा सकें।

Donate with

Check Also

महात्मा ज्योति राव फूले की पुण्यतिथि मनाई

महात्मा ज्योति राव फूले की पुण्यतिथि मनाई है  गंगापुर सिटी  सूरसागर गंगापुर सिटी स्थित माली …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *